Wednesday, July 28, 2021
Homeव्हाट दी फ*पति को बनाया कुत्ता, गले में पट्टा डाल घुमाया: पुलिस ने लगाया 2 लाख...

पति को बनाया कुत्ता, गले में पट्टा डाल घुमाया: पुलिस ने लगाया 2 लाख 20 हजार रुपए का जुर्माना

कर्फ्यू के दौरान घर के आस-पास 1 किलोमीटर तक कुत्ते के साथ टहलने की इजाजत थी। इसलिए महिला ने अपने पति को कुत्ता बना दिया और उसके गले में पट्टा डाल कर घूमने बाहर निकल गई।

दुनिया कोरोना वायरस की मार झेल रही है। कई देशों में अभी भी इसको लेकर कर्फ्यू लगा रखा है। इसी को कर्फ्यू को मात देने के लिए कनाडा से एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। यह सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। कर्फ्यू में एक पत्नी को क्यूबेर (Quebec) शहर में कुत्ते की तरह अपने पति के गले में पट्टा (leash) डालकर उसके साथ सड़क पर टहलते हुए पकड़ा गया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना कनाडा के क्यूबेक में शनिवार रात की है। यहाँ महिला कोरोना वायरस के मद्देनजर लगे कर्फ्यू के एक घंटे बाद अपने पति के गले में कुत्ते का पट्टा डाल कर उसे कुत्ते की भाँति सड़क पर टहला रही थी। इस दौरान अधिकारियों ने उन्हें पकड़ लिया और उन पर फाइन लगाया है।

दरअसल, कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रशासन ने क्यूबेक में चार हफ्तों का कर्फ्यू लगा रखा है। रात के 8 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक का। हालाँकि जरूरी काम के लिए लोग बाहर जा भी सकते हैं। इसमें वे अपने पालतू जानवरों को बाहर घुमा भी सकते हैं।

घटना 9 जनवरी की है। एक महिला कर्फ्यू तोड़कर सड़कों पर घूम रही थी। वहीं जब पुलिस ने महिला से कर्फ्यू तोड़ने का कारण पूछा तो उसने कहा कि घर के आस-पास 1 किलोमीटर तक अपने कुत्ते के साथ टहलने की इजाजत दी गई है। पुलिस महिला का जवाब सुनकर भौचक्के हो गए और जब उन्होंने ये कहा कि ये कुत्ता नहीं है बल्कि उनका पति है तो इस पर महिला ने हंगामा करना शुरू कर दिया।

हालाँकि कपल पुलिस की किसी भी बात को सुनने को ही तैयार नहीं था। जिसके बाद पुलिस ने दोनों पर 1500-1500 डॉलर का जुर्माना लगा दिया। वहीं महिला ने फिलहाल जुर्माना देने से भी इनकार कर दिया है।

बता दें कि क्यूबेक में 2500 से भी ज्यादा कोरोना के मामले हर दिन सामने आ रहे हैं। जिसके बाद प्रशासन ने वैक्सीन अभियान शुरू करने की तैयारियों के साथ-साथ 8 फरवरी तक नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। रात 8 बजे से सुबह 5 बजे तक लगे इस कर्फ्यू के तहत नॉन-एसेंशियल सर्विस और बिजनेस से जुड़े लोगों के अलावा किसी को भी घर से निकलने की इजाजत नहीं है। हालाँकि, इस दौरान स्कूल खुले रहेंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दामाद के परिवार का दिवालिया कॉलेज खरीदेगी भूपेश बघेल सरकार: ₹125 करोड़ का कर्ज, मान्यता भी नहीं

छत्तीसगढ़ की कॉन्ग्रेस सरकार ने एक ऐसे मेडिकल कॉलेज के अधिग्रहण की तैयारी शुरू की, जो सीएम भूपेश बघेल की बेटी दिव्या के ससुराल वालों का है।

एक शक्तिपीठ जहाँ गर्भगृह में नहीं है प्रतिमा, जहाँ हुआ श्रीकृष्ण का मुंडन संस्कार: गुजरात का अंबाजी मंदिर

गुजरात के बनासकांठा जिले में राजस्थान की सीमा पर अरासुर पर्वत पर स्थित है शक्तिपीठों में से एक श्री अरासुरी अंबाजी मंदिर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,580FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe