Thursday, July 25, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेक'कॉन्ग्रेस के लिए 121KM पैदल यात्रा करेंगे धीरेंद्र शास्त्री': वायरल दावे को बागेश्वर सरकार...

‘कॉन्ग्रेस के लिए 121KM पैदल यात्रा करेंगे धीरेंद्र शास्त्री’: वायरल दावे को बागेश्वर सरकार ने नकारा, कहा- ‘हम सिर्फ हनुमान जी की पार्टी में हैं’

बागेश्वर धाम तथा कॉन्ग्रेस विधायक शशांक भार्गव ने वायरल खबर का खंडन किया है। बागेश्वर धाम की ओर से फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा गया है, "यह खबर पूर्णतः गलत और भ्रामक है। पूज्य गुरुदेव बागेश्वर धाम सरकार ना किसी राजनीतिक पार्टी के पक्ष में हैं और ना रहेंगे।

बागेश्वर धाम के महंत पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को लेकर सोशल मीडिया पर न्यूज पेपर की कटिंग और एक पोस्टर तेजी से वायरल हो रहा है। इसके साथ ही दावा किया जा रहा है कि बागेश्वर धाम सरकार कॉन्ग्रेस के समर्थन में पैदल यात्रा करेंगे। पोस्टर में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ तथा कॉन्ग्रेस विधायक की भी फोटो लगी है। हालाँकि इस पोस्टर का बागेश्वर धाम और कॉन्ग्रेस विधायक ने खंडन किया है।

दरअसल, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस नेता कमलनाथ ने बीते महीने बागेश्वर धाम जाकर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री से मुलाकात की थी। इस मुलाकात को लेकर ही कहा जा रहा है कि बागेश्वर धाम सरकार ने कमलनाथ को कॉन्ग्रेस के समर्थन में पैदल यात्रा के लिए आश्वस्त किया है। अब वह 121 किमी की पैदल यात्रा करने वाले हैं।

विनीत चौबे नामक ट्विटर यूजर ने न्यूज पेपर की कटिंग ट्वीट करते हुए कहा था, “मध्यप्रदेश में कॉन्ग्रेस के समर्थन में बागेश्वर धाम के धीरेंद्र शास्त्री करेंगे 121 किलोमीटर की पैदल यात्रा।”

इसी तरह एक वायरल पोस्टर में बागेश्वर धाम सरकार तथा विदिशा से कॉन्ग्रेस विधायक शशांक भार्गव और कमलनाथ की फोटो के साथ अखबार की कटिंग लगाई गई थी। इस पोस्टर में लिखा हुआ है, “संतो का मिला आशीर्वाद, लौट रहे हैं कमलनाथ”

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्टर

यही नहीं, टाइम्स नाउ नवभारत ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा था, “बागेश्वर बाबा धीरेंद्र शास्त्री ने बढ़ा दी कॉन्ग्रेस और बीजेपी बेचैनी, करने जा रहे हैं 121 किलोमीटर की यात्रा।”

हालाँकि अब बागेश्वर धाम तथा कॉन्ग्रेस विधायक शशांक भार्गव ने ऐसी किसी भी खबर का खंडन किया है। बागेश्वर धाम की ओर से फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा गया है, “यह खबर पूर्णतः गलत और भ्रामक है। पूज्य गुरुदेव बागेश्वर धाम सरकार ना किसी राजनीतिक पार्टी के पक्ष में हैं और ना रहेंगे। गुरुदेव भगवान की सिर्फ एक ही पार्टी है “हनुमान जी की पार्टी” जिसका झंडा है “भगवा ध्वज। ये खबर बागेश्वर धाम को बदनाम करने की साजिश है। पूज्य गुरुदेव भगवान का सिर्फ एक ही मूल मंत्र है “जो राम का नहीं वो किसी काम का नहीं” रामनाम का महिमा पूरे विश्व तक पहुँचे यही पूज्य सरकार की अभिलाषा है।”

वहीं, विदिशा से कॉन्ग्रेस विधायक शशांक भार्गव ने भी फेसबुक में पोस्ट करते हुए इसका खंडन किया है। उन्होंने कहा है, “बागेश्वर धाम सरकार ने कॉन्ग्रेस का समर्थन किया ये भ्रामक खबर किसी न्यूज पेपर में प्रकाशित की गयी थी। किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा उस खबर के साथ मेरा फोटो लगाकर उसे सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचारित किया है। पूज्य महाराज जी किसी भी राजनितिक दल का समर्थन नही करते। परमपूज्य गुरुदेव की एक ही अभिलाषा है श्रीराम नाम की महिमा पूरे विश्व तक पहुँचे। वे पूर्ण रूप से सनातन धर्म के प्रचार प्रसार एवं धर्म के प्रति जागरूकता के कार्यो के लिए प्रयासरत हैं। मैं ऐसी किसी भी भ्रामक खबर का पूर्ण रूप से खंडन करता हूँ।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -