Sunday, October 17, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकमैं बडवाइजर बीयर के टैंक में 12 सालों से मूत्र त्याग रहा था... क्या...

मैं बडवाइजर बीयर के टैंक में 12 सालों से मूत्र त्याग रहा था… क्या इसी कारण है ऐसा स्वाद? FACT CHECK

बीयर के एक मशहूर ब्रांड बडवाइज़र (Budweiser) को लेकर एक खबर सामने आई है। इसमें बताया गया है कि बडवाइज़र के एक कर्मचारी ने कहा कि वो 12 साल से बीयर के टैंक में पेशाब कर रहा था।

सोशल मीडिया पर बीयर के एक मशहूर ब्रांड बडवाइज़र बीयर (Budweiser) को लेकर एक खबर सामने आई है। इस खबर में बताया गया है कि बडवाइज़र बीयर के ही एक कर्मचारी ने कहा कि वो 12 साल से बीयर के टैंक में पेशाब कर रहा था। इस ख़बर ने बडवाइज़र बीयर पीने वाले लोगों को परेशान कर दिया है।

इस खबर का एक नहीं बल्कि कई स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं और कई विदेशी समाचार स्रोत और लाइफ स्टाइल वेब पोर्टल्स इस खबर को प्रकाशित कर रहे हैं। इस खबर की हेडलाइन है – “Budweiser employee acknowledges having been pissing into beer tanks for 12 years.”

दरअसल, एक व्यंग्य वेबसाइट फूलिश ह्यूमर डॉट कॉम द्वारा बनाए गए एक व्यंग्य लेख था, जिसमें कहा गया था कि बीयर ब्रांड बडवाइजर (Budweiser Beer) का एक कर्मचारी 12 साल से बीयर में पेशाब कर रहा है।

हालाँकि, इस व्यंग्य लेख के बजाए लोगों ने कुछ ऐसे स्क्रीनशॉट शेयर किए, जिन्होंने व्यंग्य वेबसाइट को सही मानकर और बिना इसकी जाँच किए ही इसे सनसनीखेज ‘खबर’ के रूप में ही प्रकाशित कर डाला।

ट्विटर पर इस खबर के सामने आते ही एक ओर जहाँ लोग सदमे में नजर आए तो दूसरी ओर बडवाइजर बीयर को लेकर हास्य मीम (MEME) भी खूब शेयर किए जा रहे हैं।

Foolishhumour.com नाम की एक वेबसाइट ने ‘बडवाइजर कर्मचारी ने स्वीकारा कि वह 12 साल से बीयर टैंकों में पेशाब कर रहा है’ हेडलाइन के साथ एक व्यंग्य लेख पोस्ट किया था। इस हास्य लेख में एक काल्पनिक बडवाइज़र कर्मचारी वाल्टर पॉवेल के नाम से लिखा गया था कि वह 12 वर्षों से बडवाइज़र बीयर टैंक में पेशाब कर रहा है।

यही वह हास्य लेख था जिसने बीयर प्रेमियों की नींद हराम कर दी थी। इस लेख के अंत में एक अस्वीकरण भी दिया गया है जिसमें लिखा गया है – “यह वेबसाइट एक हास्य पेज है, जिसका एकमात्र उद्देश्य मनोरंजन है। फूलिश ह्यूमर की सामग्री काल्पनिक है और इसका वास्तविकता से कोई सम्बन्ध नहीं है।”

लेकिन कोरोना वायरस के कारण जारी लॉकडाउन में घर पर बैठे बीयर प्रेमी इस खबर की हेडलाइन से ही इतने निराश और उत्तेजित हो गए थे कि उन्होंने इसकी वास्तविकता का पता करना भी जरुरी नहीं समझा। यही वजह है कि बडवाइजर बीयर को लेकर व्हाट्सऐप ग्रुप से लेकर सोशल मीडिया पर लोग एक दूसरे के जमकर मजे भी ले रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,137FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe