Saturday, May 25, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनगालीबाज एजाज खान गिरफ्तार, मुंबई पुलिस ने लिया एक्शन: आखिरी बार लंगड़ाते निकले थे...

गालीबाज एजाज खान गिरफ्तार, मुंबई पुलिस ने लिया एक्शन: आखिरी बार लंगड़ाते निकले थे जेल से

एजाज खान ने ट्विटर पर कुत्ते की फोटो डालकर भाजपा समर्थकों पर भद्दे व्यंग्य किए थे। एजाज खान ने फेसबुक लाइव में कोरोना वायरस को भाजपा की साजिश बताते हुए PM मोदी पर समुदाय विशेष के साथ भेदभाव का आरोप लगाया था।

फेसबुक लाइव और सोशल मीडिया पर अपशब्दों के लिए बॉलीवुड अभिनेता एजाज खान (Ajaz Khan) को मुम्बई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने हाल ही में पत्रकारों को गाली देते हुए कहा था कि उन्हें और उनके परिवार को कोरोना हो जाए। एजाज खान पर मानहानि , घृणा फैलाने और बन्द के नियमों के उलंघन का केस दायर किया गया है।

एजाज खान ने फेसबुक लाइव में कोरोना वायरस को भाजपा की साजिश बताते हुए PM मोदी पर समुदाय विशेष के साथ भेदभाव का आरोप लगाया था।

गत बुधवार रात 12:30 बजे एजाज खान ने फेसुबक लाइव किया था। उन्होंने लाइव में मजहब को लेकर कई बातें कही। लाइव में उन्होंने कहा कि हर बात के लिए उनके मजहब वालों को ही जिम्मेदार माना जाता है।

मुम्बई के खार पुलिस स्टेशन में एजाज खान के खिलाफ आईपीसी 153A, 117, 121 धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

उन्होंने जनता से भी लाइव में प्रश्न पूछते हुए कहा- “लेकिन कभी सोचा है कि आखिर ये कौन हैं? जो ये साजिश कर रहे हैं।” वीडियो में एजाज ने इन सब चीज़ों के लिए पीएम मोदी और भाजपा को जिम्मेदार बताया था। उन्होंने वीडियो में ये भी कहा कि ये एक साजिश है, जिससे कोरोना से ध्यान हटाने के लिए सभी लोगों का ध्यान सांप्रदायिक जैसे गंभीर मुद्दे की ओर चला जाए। वीडियो के अंत में उन्होंने कहा कि ऐसे लोग जो देश में ऐसा कर रहे हैं, उन सबको ही कोरोना हो जाए।

इसके ठीक अगले दिन एजाज खान ने ट्विटर पर कुत्ते की फोटो डालकर भाजपा समर्थकों पर भद्दे व्यंग्य किए थे, जिसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने मुम्बई पुलिस को इस पर संज्ञान लेने को कहा था।

ज्ञात हो कि यह पहली बार नहीं है जब एजाज कहना को मुम्बई पुलिस ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट के लिए गिरफ्तार किया हो। आखिरी बार जब उन्हें गिरफ्तार किया गया था, तो वो जेल से वापस लंगड़ाते हुए बाहर आए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ईवीएम पर नहीं लगा था BJP का टैग, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने झूठ फैलाया: चुनाव आयोग ने खोली पोल, बताया- क्यों लिए जाते हैं मशीन...

भारतीय निर्वाचन आयोग ने टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हुए झूठे दावे की पोल खोली और बताया कि ईवीएम पर कोई भाजपा का टैग नहीं हैं।

CM केजरीवाल के घर कहाँ हुआ क्या-क्या… दिल्ली पुलिस ने सब सीन री-क्रिएट करवाए, विभव कुमार ने बचने को डाली जमानत याचिका

दिल्ली पुलिस विभव कुमार को मुख्यमंत्री आवास भी लेकर पहुँची, जहाँ स्वाति मालीवाल के साथ हुई घटना का पूरा सीन रिक्रिएट किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -