Friday, June 21, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनशाहरुख खान के जिस ड्राइवर ने आर्यन को पहुँचाया क्रूज तक, वो NCB के...

शाहरुख खान के जिस ड्राइवर ने आर्यन को पहुँचाया क्रूज तक, वो NCB के रडार पर: बयान दर्ज, जमानत पर सुनवाई कल

जाँच एजेंसी ने आर्यन खान के करीबी दोस्त श्रेयस नायर को गिरफ्तार किया था। आर्यन के व्हाट्सएप चैट से श्रेयस के नाम का खुलासा हुआ था। आर्यन खान, श्रेयस नायर और अरबाज मर्चेंट धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल में एक साथ पढ़ते थे।

ड्रग्स केस में फंसे अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। न्यायिक हिरासत में भेजे गए आर्यन खान ने जमानत के लिए सेशन कोर्ट में जमानत की अर्जी दी है, जिस पर कल सुनवाई होगी। इस बीच एनसीबी ने आर्यन के ड्राइवर राजेश मिश्रा को भी समन जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया था। राजेश मिश्रा के बयान को दर्ज करने के बाद उसे छोड़ दिया गया है। बताया जाता है कि राजेश मिश्रा ही वो शख्स था, जो आर्यन खान को क्रूज पर लेकर गया था।

अभी तक शाहरुख खान के परिवार के किसी अन्य सदस्य से भी पूछताछ नहीं हुई है। जाँच एजेंसी ने आर्यन खान के करीबी दोस्त श्रेयस नायर को गिरफ्तार किया था। आर्यन के व्हाट्सएप चैट से श्रेयस के नाम का खुलासा हुआ था। आर्यन खान, श्रेयस नायर और अरबाज मर्चेंट धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल में एक साथ पढ़ते थे। ड्रग्स मामले में शनिवार को भी एनसीबी ने कार्रवाई की थी, जिसमें एक ड्रग पैडलर को अरेस्ट किया था। मुंबई के पश्चिम खार से गिरफ्तार किए गए पैडलर पर इस बात का शक है कि उसी ने अरबाज मर्चेंट को ड्रग्स दिए थे।

गौरतलब है कि इससे पहले शुक्रवार को आर्यन खान की जमानत याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया था। इसके बाद उनके वकील ने सेशन कोर्ट में जमानत याचिका दायर की है। 14 दिन की ज्युडिशियल कस्टडी में भेजे आर्यन खान मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद हैं।

उल्लेखनीय है कि 3 अक्टूबर को क्रूज पर ड्रग पार्टी मामले में NCB की टीम ने एक्टर शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार किया था। NCB की टीम ने आर्यन के साथ तीन और लोगों को भी गिरफ्तार किया है। सभी आरोपितों के पास से चरस, MDMA, MD और कोकेन समेत अन्य ड्रग बरामद किए गए थे। इसके अलावा आर्यन खान भी एनसीबी की पूछताछ में इस बात को कबूल चुके हैं कि वो चरस पीते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -