Wednesday, August 4, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनलिब्रू 'खालिस्तानी' को रिहाना वाले वीडियो से ₹2 बनाने हैं: दिलजीत दोसांझ को कंगना...

लिब्रू ‘खालिस्तानी’ को रिहाना वाले वीडियो से ₹2 बनाने हैं: दिलजीत दोसांझ को कंगना ने दिए ‘बेफिटिंग’ रिप्लाई

इससे पूर्व में शाहीन बाग की बिलकिस दादी को लेकर विवाद शुरू हुआ था। उस दौरान कंगना ने एक ट्वीट में दिलजीत दोसांझ को ‘करण जौहर का पालतू’ कह डाला था।

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और पंजाबी सुपरस्टार दिलजीत दोसांझ के बीच ट्विटर पर जुबानी जंग शुरू हो गई है। बात इतनी आगे पहुँच गई कि दिलजीत ने कंगना को 2 रुपए की जॉब करने वाली कह दिया। वहीं कंगना ने भी पलटवार कहकर दिलजीत को खालिस्तानी बताया।

दरअसल, पूरा मामला दिलजीत के एक पोस्ट से शुरू हुआ। इसमें दिलजीत ने रिहाना को लेकर बनाई अपनी वीडियो को अनाउंस किया कि वह यूट्यूब पर डेढ़ बजे जारी होगा। इसी को देखकर कंगना ने लिखा, “इसको भी अपने दो रुपए बनाने हैं। ये सब कबसे प्लॉन हो रहा है? 1 माह तो कम से कम लगते हैं वीडियो की तैयारी और उसकी घोषणा में। लिब्रु चाहते हैं कि हम इसे बिलकुल हकीकत मान लें।” 

इस पर दिलजीत ने कहा, “2 रुपए, अपनी वाली जॉब मुझे मत बता। गाना आधे घंटे में बना लेते हैं हम। तेरे पर बनाने का मन नहीं करता वरना 2 मिनट ही लगेंगे। हर जगह तुझे बोलना होता है। जा यार बोर न कर। काम कर अपना।”

इसके बाद कंगना ने दोसांझ को फिर रिप्लाई दिया और इसमें लिखा, “मेरा एक ही काम है देशभक्ति। वही करती हूँ सारा दिन। मैं वही करूँगी लेकिन तेरा काम तुझे नहीं करने दूँगी खालिस्तानी।”

बता दें कि इससे पूर्व में शाहीन बाग की बिलकिस दादी को लेकर विवाद शुरू हुआ था। उस दौरान कंगना ने एक ट्वीट में दिलजीत दोसांझ को ‘करण जौहर का पालतू’ कह डाला था। वहीं दिलजीत ने भी जवाब देने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

कंगना ने दिलजीत के लिए लिखा था,  “ओ करण जौहर के पालतू, जो दादी शाहीन बाग में अपनी नागरिकता के लिए आंदोलन कर रही थी वो ही बिलकिस बानो दादीजी किसान आंदोलन के एमएसपी के लिए भी आंदोलन करती हुई दिखीं। महिंदर कौर जी को तो मैं जानती भी नहीं। क्या ड्रामा चलाया है तुम लोगों ने। इसे तुरंत खत्म करो।”

दिलजीत ने इस पर पलटवार करते हुए लिखा, “तूने जितने लोगों के साथ फिल्म की तू उन सबकी पालतू है…? फिर तो लिस्ट लंबी हो जाएगी मालिकों की…? ये बॉलिवुड वाले नहीं पंजाब वाले हैं… झूठ बोलकर लोगों को भड़काना और इमोशंस से खेलना आप अच्छे से जानती हो।” इस मुँहजोरी के दौरान दिलजीत ने कंगना को बददिमाग, बदतमीज कहा था। वही कंगना ने भी दिलजीत को डम्बो होने की संज्ञा दी थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe