Saturday, July 24, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'डिप्रेशन का धंधा चलाने वालों को पब्लिक ने उनकी औकात दिखा दी': कंगना ने...

‘डिप्रेशन का धंधा चलाने वालों को पब्लिक ने उनकी औकात दिखा दी’: कंगना ने साधा ‘रिया समर्थकों’ पर निशाना

कंगना रनौत ने अपने दूसरे ट्वीट में उन सभी लोगों पर निशाना साधा जिन्हें मूवी माफिया और बॉलीवुड नेक्सस के लिए जिम्मेदार माना जा रहा है। कंगना ने लिखा, "डिप्रेशन का धंधा चलाने वालों को जनता ने उनकी औकात दिखा दी।"

सुशांत सिंह राजपूत केस में सुप्रीम कोर्ट ने आज (अगस्त 19, 2020) सीबीआई जाँच पर अपनी मोहर लगा दी। कोर्ट के फैसले के बाद सुशांत के लिए इंसाफ की माँग करने वालों ने इसे जीत की ओर पहला कदम बताया। वहीं कई फिल्मी सितारों ने भी इस फैसले का स्वागत किया। इसी क्रम में कंगना रनौत की भी प्रतिक्रिया आई।

अपने एक ट्वीट में तो कंगना रनौत ने इस फैसले को इंसानियत की जीत बताया और सुशांत के लिए लड़ने वाले हर व्यक्ति को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि वह पहली बार ऐसी सामूहिक चेतना की इतनी प्रबल ताकत को महसूस किया है। अदभुत।

इसके बाद अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने उन सभी लोगों पर निशाना साधा जिन्हें मूवी माफिया और बॉलीवुड नेक्सस के लिए जिम्मेदार माना जा रहा है। कंगना ने लिखा, “डिप्रेशन का धंधा चलाने वालों को जनता ने उनकी औकात दिखा दी।”

गौरतलब है कि कंगना ही वो बॉलीवुड अभिनेत्री हैं जिन्होंने सुशांत मामले में खुल कर अपनी राय रखी और मूवी माफिया की बहस व नेपोटिज्म को केंद्र में लाकर रखा। उन्होंने बताया कि कैसे पूरा नेक्सस एक बाहर से आए कलाकार के लिए माहौल तैयार करता है। जिसके लिए मीडिया भी उनका समर्थन करती है।

सुशांत केस की जाँच के लिए यह फैसला आने पर कंगना कहती हैं, “उन लोगों ने उसे एल्कहोलिक, ड्रग एडिक्ट, रेपिस्ट और दिमागी रूप से बीमार कहकर खारिज करना चाहा। लेकिन आज देखो सामूहिक चेतना के कारण उसे भारत में और हर जगह एक पुण्यात्मा का स्थान मिल गया है।”

इकोनॉमिक टाइम्स से बात करते हुए कंगना रनौत ने इसे बहुत बड़ी जीत बताया। उन्होंने कहा कि हमने मिशनरियों को धारण निर्मित नहीं करने दी। हमने उसी अनुभूति का निर्माण किया जो हमने महसूस किया और दिल से कहा।

बता दें, कल सुशांत मामले के ऊपर अपनी खुलकर राय रखने के लिए नसीरुद्दीन शाह ने कंगना को कम पढ़ा-लिखा कहा था। जिसके बाद कंगना ने उन पर तंज कसते हुए सवाल पूछा था, “धन्यवाद नसीर जी, आपने मेरे सारे अवॉर्ड और उपलब्ध‍ियों को तोल दिया, जो कि नेपोटिज्म के स्केल पर मेरे किसी भी समकालीन प्रतिद्वंदियों के पास नहीं है। मैं इसकी आद‍ि हो चुकी हूँ पर अगर मैं प्रकाश पादुकोण या अन‍िल कपूर की बेटी होती तो भी क्या आप मुझे यही कहते?”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘धर्मांतरण कोई समस्या नहीं, अपने घर में सम्मान न मिले तो दूसरे के घर जाएँगे ही’: मिशनरी साजिश पर बिहार के पूर्व CM

गया में पिछले कई वर्षों से सिलसिलेवार तरीके से ईसाई धर्मांतरण की साजिश का खुलासा हुआ है। पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम माँझी ने इन घटनाओं का समर्थन किया।

‘हमने मोदी को जिताया की रट लगाते हो, खुद 2 बार लड़े तो क्यों नहीं जीत गए?’ महिला पत्रकार ने उतार दी राकेश टिकैत...

'इंडिया 1 न्यूज़' की गरिमा सिंह ने राकेश टिकैत के इस बयान को लेकर भी सवाल पूछा जिसमें वो बार-बार कहते हैं कि इस सरकार को 'हमने जिताया'।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,931FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe