Saturday, October 16, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनयहाँ PM को आतंकी कह सकते हैं, आतंकियों को कहेंगे तो सस्पेंड होंगे: कंगना...

यहाँ PM को आतंकी कह सकते हैं, आतंकियों को कहेंगे तो सस्पेंड होंगे: कंगना ने Twitter को लताड़ा

ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स वे हैं, जो यहाँ के ही करोड़ों-अरबों रुपए खा कर इसी कश्ती में छेद कर रहे हैं। इन प्लेटफॉर्म्स को पूरी तरह ध्वस्त कर हमारे नए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स खुलने चाहिए।"

लोकप्रिय अभिनेत्री कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया क्योंकि उन्होंने मोरादाबाद में मुस्लिम भीड़ द्वारा की गई हिंसा की निंदा की थी और हमलावरों को कड़ी सजा देने की माँग की थी। उनके ट्विटर अकाउंट सस्पेंशन पर अब कंगना ने चुप्पी तोड़ी है। एक वीडियो जारी कर कंगना ने रंगोली का बचाव किया। कंगना ने कहा कि रंगोली ने अपनी ट्वीट में कहा था कि जो लोग डॉक्टरों और पुलिस पर हमले कर रहे हैं, उन्हें गोली से मार देना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा कि सुजैन की बहन फराह अली खान और ‘प्रतिष्ठित’ निर्देशिका रीमा कागती ने झूठा दावा किया कि रंगोली मुस्लिमों के नरसंहार की बात कर रही है। कंगना ने कि कहा कि अगर किसी भी ट्वीट में ऐसा प्रतीत होता है कि मुस्लिमों के लिए बात कही गई हो तो वो और उनकी बहन सार्वजनिक रूप से जनता के सामने आकर माफ़ी माँगेंगीं। कंगना ने कहा कि उनका ये मानना नहीं है कि सारे मुस्लिम डॉक्टरों पर अटैक कर रहे हैं लेकिन विरोध करने वालों के बयानों को देख कर लगता है कि वो समझते हैं कि हर मुस्लिम आतंकी है। कंगना ने कहा:

“मैं सरकार से अपील करना चाहती हूँ कि ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स वे हैं, जो यहाँ के ही करोड़ों-अरबों रुपए खा कर इसी कश्ती में छेद कर रहे हैं। यहाँ प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को आतंकवादी कहा जा सकता है। जनसेवा में लगे आरएसएस को आतंकी कहा जा सकता है। लेकिन, आतंकवादियों को आतंकवादी नहीं कहा जा सकता। मुझे पता है कि देश अन्य समस्याओं से भी जूझ रहा है लेकिन इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का दाना-पानी बंद होना चाहिए। इन प्लेटफॉर्म्स को पूरी तरह ध्वस्त कर हमारे नए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स खुलने चाहिए।”

कंगना ने बबीता फोगाट का भी समर्थन किया और कहा कि उन्हें कई लोगों द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद की बात करने वाले लोगों का ऐसे ही शोषण किया जाता है। कंगना ने पूछा कि अगर आज बबीता को कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा? उन्होंने बबीता फोगाट को सुरक्षा मुहैया कराए जाने की भी माँग की। रंगोली की ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए खत्री ने रंगोली के खिलाफ जातिवाद का जहर उगलते हुए ‘चांडाल’ कहा था। इसी तरह कई लोगों ने उन पर हमले किए। आरजे सायमा ने तो उन पर एफआईआर दर्ज कराने की भी माँग की थी और हमलावरों का बचाव किया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

’23 साल में आप रोमांटिक होते हैं’: क्रांतिकारी उधम सिंह को फिल्म में शराब पीते दिखाया, डायरेक्टर ने दी सफाई – वो लंदन में...

ऊधम सिंह को फिल्म शराब पीते दिखाने पर शूजीत सरकार ने कहा कि वो उस दौरान लंदन में थे और उनके लिए ये सब नॉर्मल रहा होगा।

रुद्राक्ष पहनने और चंदन लगाने की सज़ा: सरकार पोषित स्कूल में ईसाई शिक्षक ने छात्रों को पीटा, माता-पिता ने CM स्टालिन से लगाई गुहार

शिक्षक जॉयसन ने पवित्र चंदन (विभूति) और रुद्राक्ष पहनने पर लड़कों को यह कहते हुए फटकार लगाई कि केवल उपद्रवी और मिसफिट लोग ही इसे पहनते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe