Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'शादी से पहले बच्चा होने पर मुझे भी कोई परेशानी नहीं': नव्या नवेली नंदा...

‘शादी से पहले बच्चा होने पर मुझे भी कोई परेशानी नहीं’: नव्या नवेली नंदा ने नानी जया बच्चन की सलाह का किया समर्थन, कहा – उनसे हर तरह की बात करने में सहज

गत सप्ताह जया बच्चन ने कहा था, "लोगों को मुझसे यह सुनना बेहद आपत्तिजनक लगेगा लेकिन फिजिकल अट्रैक्शन और कंपैटिबिलिटी बहुत ज्यादा जरूरी होती है। हमारे समय में हम एक्सपेरिमेंट नहीं कर सकते थे। लेकिन..."

बॉलीवुड अभिनेत्री जया बच्चन ने अपनी नातिन नव्या के पॉडकॉस्ट ‘द हेल नव्या’ पर बात करते हुए कहा था कि उन्हें इस बात से कोई दिक्कत नहीं अगर नव्या नवेली नंदा बिना शादी के बच्चा करना चाहें। अपनी नानी के इस बयान पर नव्या ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि शादी के पहले बच्चा होने से उन्हें कोई भी परेशानी नहीं है।

हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में नव्या नवेली नंदा ने कहा है कि वह जया बच्चन के बयान से अनकम्फर्टेबल नहीं हैं। इस पॉडकास्ट में वो महिलाओं को लेकर बात कर रही हैं। नव्या ने कहा कि महिलाओं के सेफ स्पेस के बारे में बात होती है, इसलिए उनका ‘शादी से पहले होने वाले बच्चे से दिक्कत नहीं है’ वाला बयान गलत नहीं है। नव्या ने कहा, “अगर बिना शादी के भी बच्चा है तो मुझे इस बात से कोई समस्या नहीं है।”

इस इंटरव्यू में उन्होंने यह भी कहा है कि उनका पॉडकास्ट महिलाओं की स्वास्थ और स्वच्छता (हेल्थ एंड हाइजीन) पर आधारित है। उन्होंने दावा किया कि इन सब्जेक्ट्स पर बात करने के लिए जरूरी है कि आपको एक सुरक्षित, कम्फर्टेबल और हेल्दी व्यवहार रखना हो। यही वजह है कि उन्होंने इस बारे में पॉडकास्ट पर बात की। उन्होंने यह भी कहा, “हमारे पॉडकास्ट का उद्देश्य महिलाओं के लिए सुरक्षित माहौल बनाना है और मुझे लगता है कि हम ऐसा कर सकते हैं। हमने पॉडकास्ट में रिश्तों, दोस्ती जैसी कई अन्य चीजों के बारे बातचीत की। मैं उनसे हर तरह की बाते करने में खुद को कंफर्टेबल महसूस कर रही थी।”

नव्या ने आगे कहा “पॉडकास्ट में लोग आपकी राय से सहमत और असहमत हो सकते हैं। मेरा मानना है कि इस पॉडकास्ट के पीछे की मानसिकता अच्छी और मजेदार बातचीत की थी। मुझे लगता है कि हम ऐसा करने में सक्षम थे। मैं सभी के प्यार और समर्थन के लिए आभारी हूँ।”

दरअसल, गत सप्ताह जया बच्चन ने कहा था, “लोगों को मुझसे यह सुनना बेहद आपत्तिजनक लगेगा लेकिन फिजिकल अट्रैक्शन और कंपैटिबिलिटी बहुत ज्यादा जरूरी होती है। हमारे समय में हम एक्सपेरिमेंट नहीं कर सकते थे। लेकिन आज की पीढ़ी ये सब करती है और उन्हें क्यों नहीं करना चाहिए? इसी से रिश्ते लंबे चलते हैं। अगर शारीरिक संबंध नहीं है तो रिश्ता ज्यादा दिन नहीं चलने वाला। आप प्यार, ताजी हवा और अडजस्टमेंट के भरोसे रिश्ता नहीं निभा सकते। मुझे लगता है कि ये बहुत जरूरी है।”

इस बातचीत में उन्होंने शादी और बच्चों पर भी बात की। उन्होंने कहा “आजकल के रिश्तों में इमोशन्स और रोमांस की कमी होती है। मुझे लगता है कि आपको अपने सबसे अच्छे दोस्त से शादी करनी चाहिए। आपके पास एक अच्छा दोस्त होना चाहिए। आपको डिस्कस करना चाहिए। आपको कहना चाहिए। हो सकता है कि मैं आपके साथ एक बच्चा पैदा करना चाहती हूँ, क्योंकि मैं आपको पसंद करती हूँ। मुझे लगता है कि आप अच्छे हैं तो चलिए शादी करते हैं, क्योंकि यही समाज का कहना है।’ मुझे कोई समस्या नहीं है अगर आपके बिना शादी के भी बच्चा हो। मुझे सच में कोई प्रॉब्लम नहीं है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -