Tuesday, May 21, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनकंगना रनौत ने पंजाब में PM मोदी की सुरक्षा में चूक को बताया...

कंगना रनौत ने पंजाब में PM मोदी की सुरक्षा में चूक को बताया शर्मनाक और लोकतंत्र पर हमला, एक्ट्रेस भी हो चुकी हैं उपद्रवी भीड़ का शिकार

बीजेपी के पूर्व सांसद और अभिनेता परेश रावल ने ट्विटर पर लिखा, “पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक पूरी तरह अस्वीकार्य, अक्षम्य और हैरान करने वाली है। यह कहने की जरूरत नहीं है, लेकिन वो और ताकतवर, लोकप्रिय और कृतसंकल्प होकर उभरेंगे।”

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक की घटना को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने शर्मनाक और लोकतंत्र पर हमला बताया है। एक्ट्रेस ने इंस्टाग्राम स्टोरी में लिखा, “पंजाब में जो हुआ, वो शर्मनाक है। आदरणीय प्रधानमंत्री लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए नेता/प्रतिनिधि और 140 करोड़ जनता की आवाज हैं। उन पर हमले का मतलब है, देश के हर नागरिक पर हमला। यह हमारे लोकतंत्र पर भी हमला है। पंजाब आतंकी गतिविधियों का अड्डा बनता जा रहा है। अगर हम इसे अभी नहीं रोकते हैं तो देश को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी।” इसके साथ ही कंगना ने हैशटैग लिखा- “भारत स्टैंड विद मोदी जी।”

कंगना रनौत की इंस्टाग्राम स्टोरी

इस घटना पर अभिनेता अनुपम खेर ने भी चिंता व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सिक्युरिटी के साथ जो खिलवाड़ हुआ है, वो पंजाब पुलिस और सरकार के लिए अफ़सोसजनक और शर्मनाक था। इस मामले में देश के प्रधानमंत्री के प्रति कुछ लोगों की नफरत उनकी कायरता की निशानी है। पर याद रखिए- जाको राखे साइँया, मार सके ना कोय!”

वहीं, बीजेपी के पूर्व सांसद और अभिनेता परेश रावल ने ट्विटर पर लिखा, “पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक पूरी तरह अस्वीकार्य, अक्षम्य और हैरान करने वाली है। यह कहने की जरूरत नहीं है, लेकिन वो और ताकतवर, लोकप्रिय और कृतसंकल्प होकर उभरेंगे।”

फिल्ममेकर अशोक पंडित ने इस चूक के लिए कॉन्ग्रेस को निशाने पर लेते हुए लिखा, “कॉन्ग्रेस ने आतंकवाद को समर्थन देने की वजह से दो प्रधानमंत्री खो दिए, फिर भी सबक नहीं सीखा। पंजाब दुखद रूप से उन्हीं स्थितियों की ओर बढ़ रहा है।” 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार (5 जनवरी 2022) को पंजाब के फिरोजपुर में एक रैली को संबोधित करने जा रहे थे, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था में बड़ी चूक के चलते इसे रद्द कर दिया गया। गृह मंत्रालय के अनुसार, पंजाब के हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक से करीब 30 किलोमीटर दूर जब प्रधानमंत्री का काफिला फ्लाईओवर पर पहुँचा तो पाया कि कुछ प्रदर्शनकारियों ने सड़क को ब्लॉक कर दिया था। करीब 15-20 मिनट तक प्रधानमंत्री फ्लाईओवर पर फँसे रहे। फिर वापस आ गए।

बता दें कि कुछ वक्त पहले कंगना रनौत भी इन ‘प्रदर्शनकारियों’ की भीड़ का शिकार हो चुकी है। पंजाब के कीरतपुर साहिब के बूंगा साहिब में किसानों ने कंगना की कार को घेर कर हमला कर दिया था। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए इसकी जानकारी दी थी और लाइव वीडियो भी दिखाया था। उन्होंने बताया था कि मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस होने के बावजूद तथाकथित किसानों ने उनकी गाड़ी को रोका और हमला किया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -