Monday, May 20, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'10 साल में PM मोदी ने किया बहुत काम': काशी पहुँचे रणवीर सिंह, कृति...

’10 साल में PM मोदी ने किया बहुत काम’: काशी पहुँचे रणवीर सिंह, कृति सेनन और मनीष मल्होत्रा ने बुलंद किया ‘विकास भी, विरासत भी’ का नारा, बोले – संस्कृति पर गर्व करें युवा

उन्होंने कहा कि आरती के समय ऐसा लगा कि एक अलग ही शक्ति आ जाती है, सभी उस ऊर्जा में लीन हो जाते हैं। रणवीर सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उद्देश्य यही था कि हम हमारे इतिहास, संस्कृति और सभ्यता का सम्मान करें।

अभिनेता रणवीर सिंह, अभिनेत्री कृति सेनन और फैशन डिजाइनर मनीष मल्होत्रा वाराणसी स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर पहुँचे हैं, जहाँ उन्होंने बाबा विश्वनाथ का दर्शन किया। तीनों बॉलीवुड हस्तियों को पुलिसकर्मियों की सुरक्षा के बीच मंदिर के भीतर ले जाकर दर्शन कराया गया। इस दौरान कृति सेनन ने ‘हर हर महादेव’ और ‘जय सिया राम’ का उद्घोष करते हुए बताया कि वो 10 साल पहले एक विज्ञापन की शूटिंग के लिए वाराणसी आई थीं, लेकिन तब उनके पास समय नहीं था।

कृति सेनन ने कहा कि उस वक्त बाबा विश्वनाथ के दर्शन नहीं हो पाए थे, ये उनके मन में रह गया था। ‘बरेली की बर्फी’ (2017) और ‘भेड़िया’ (2022) जैसी फिल्मों में काम कर चुकीं कृति सेनन ने कहा कि 2014 में उनकी पहली फिल्म ‘हीरोपंती’ के बाद वो काशी आई थीं एड शूट के लिए। उन्होंने बताया कि काशी आकर विश्वनाथ मंदिर का दर्शन और शिवजी की आरती करने के बाद उनके मन मर कृतज्ञता की भावना है, वो खुद को सौभाग्यशाली महसूस कर रही हैं।

कृति सेनन ने कहा, “यहाँ जो ऊर्जा है, स्पंदन है नगर में… बहुत अच्छे तरीके से दर्शन हुए। मैंने इससे पहले शिवजी की आरती और पूजा इस तरह से नहीं की थी। जब आप अचानक से बहुत सुकून महसूस करते हो, गंगा घाट पर यहाँ यही महसूस होता है। ऐसा लगता है कि यहाँ पहले क्यों नहीं आए। हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जो प्रयास है ‘विकास भी, विरासत भी’ का, काशी उसका उदाहरण है। शहर आधुनिक हुआ है, यहाँ विकास कार्य हुए हैं, कनेक्टिविटी बढ़ी है।”

कृति सेनन ने कहा कि विकास कार्यों के बावजूद काशी के भीतर की आत्मा वही है, इसमें वही प्राचीनता है। कृति सेनन ने कहा कि विकसित होना बहुत ज़रूरी है, लेकिन अपनी संस्कृति और सभ्यता को साथ लेकर चलना बहुत ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने पिछले 10 वर्षों में काशी में रेलवे-सड़कों से लेकर कॉरिडोर बनाने तक, नए सुंदर घाटों तक, बहुत काम हुआ है। वहीं रणवीर सिंह ने कहा कि वो शब्दों में बयाँ नहीं कर पा रहे हैं, वो जीवन भर भगवान शिव के भक्त थे हैं और पहली बार यहाँ दर्शन हुए हैं।

रणवीर सिंह ने कहा कि वो अगली बार अपनी माँ और पत्नी को लेकर भी आएँगे। उन्होंने कहा कि आरती के समय ऐसा लगा कि एक अलग ही शक्ति आ जाती है, सभी उस ऊर्जा में लीन हो जाते हैं। रणवीर सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उद्देश्य यही था कि हम हमारे इतिहास, संस्कृति और सभ्यता का सम्मान करें। रणवीर सिंह ने कहा कि हम भारतवर्ष आधुनिकता की तरफ तेज़ी से बढ़ रहा है, लेकिन हमें हमारी जड़ों और संस्कृति को नहीं भूलना चाहिए, ‘विकास भी, विरासत भी’ का मतलब है भूत एवं भविष्य का मिश्रण।

उन्होंने कहा कि काशी का भूत तो इतिहास से भी पुराना है। उन्होंने अपने अनुभव को आश्चर्यजनक बताते हुए कहा कि मंदिर में उन्हें कई विदेशी मिले जिन्हें उन्होंने ‘अतिथि देवो भव’ कह कर स्वागत किया। ‘बजराव मस्तानी’ (2015) और ‘पद्मावत’ (2018) के अभिनेता ने कहा कि वो पहली बार काशी आए हैं, लेकिन एक समय होता है जब बुलावा आता है। उन्होंने कहा कि वो धन्य हो गए हैं, फूले नहीं समा रहे। रणवीर सिंह ने युवाओं को सन्देश दिया कि वो अपनी संस्कृति व जड़ों पर गर्व करें, काशी आएँ।

उन्होंने उदाहरण दिया कि पश्चिमी जगत भी भारत के सिखाए हुए योग-आयुर्वेद से लेकर यहाँ हुई शून्य की खोज का अनुसरण कर रहा है। वहीं मनीष मल्होत्रा ने कहा कि वो कई बार काशी आए हैं, यहाँ बहुत शांति मिलता है। उन्होंने बताया कि कई बार वो नाव से गंगा के घाटों पर घूम चुके हैं। बकौल मनीष मल्होत्रा, रणवीर-कृति इन चीजों को समझते हैं। फैशन डिजाइनर ने कहा कि ये रविवार उनके लिए बहुत-बहुत विशेष हो गया। तीनों ने एक कार्यक्रम में भी भागीदारी की।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -