Friday, July 30, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन10 माह से सुशांत के सम्पर्क में नहीं थे संदीप सिंह, कॉन्ग्रेस के संजय...

10 माह से सुशांत के सम्पर्क में नहीं थे संदीप सिंह, कॉन्ग्रेस के संजय निरुपम और जरीना वहाब से की थी बात: कॉल रिकॉर्ड से खुलासा

16 नवंबर, 2019 और 29 जुलाई, 2020 की अवधि के बीच संदीप सिंह ने संजय निरुपम को 28 कॉल किए थे। दूसरी तरफ, सूरज पंचोली की माँ जरीना वहाब के साथ उनकी कॉल डिटेल्स भी सामने आई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि दोनों के बीच 4 सितंबर, 2019 से 20 जून, 2020 तक 5 बार कॉल पर बातचीत हुई है।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में संदिग्धों पर सीबीआई का शिकंजा कसता जा रहा है। वहीं, इस मामले में हर रोज नए-नए खुलासे भी हो रहे हैं। समाचार चैनल टाइम्स नाऊ के हाथ सुशांत सिंह राजपूत के कथित करीबी दोस्त संदीप सिंह के मोबाइल फोन का कॉल रिकॉर्ड्स लगा है।

बताया जा रहा है कि इस कॉल रिकॉर्ड के अनुसार, संदीप सिंह पिछले 10 महीनों से सुशांत के साथ संपर्क में नहीं थे। सुशांत सिंह के साथ संदीप की अंतिम बार बातचीच सितंबर, 2019 में हुई थी। ऐसे में सवाल उठता है कि संदीप यदि सुशांत सिंह के इतने करीबी दोस्त थे तो वह अभिनेता के संपर्क में क्यों नहीं थे? 

रिपब्लिक टीवी के अनुसार, ये भी पता चला है कि संदीप सिह ने एंबुलेस के ड्राइवर को कॉल किया था। संदीप ने 14 जून को 3 बार और 16 जून को एक बार ड्राइवर को कॉल किया था। कुल मिलाकर संदीप और एंबुलेंस ड्राइवर के बीच 4 बार बात हुई थी। एंबुलेंस ड्राइवर से जब इस बारे में पूछा गया तो उसने कुछ भी बोलने से मना कर दिया है।

कॉल डिटेल से यह भी खुलासा हुआ है कि संदीप सिंह द्वारा कॉन्ग्रेस नेता संजय निरुपम और अभिनेता सूरज पंचोली की माँ जरीना वहाब को भी कॉल किए गए थे।

जानकारी के मुताबिक, नवंबर 16, 2019 और जुलाई 29, 2020 की अवधि के बीच संदीप सिंह ने संजय निरुपम को 28 कॉल किए थे। इससे पहले संजय निरुपम ने दावा किया था कि जब सुशांत की मौत की खबर सामने आई थी, तब वह संदीप सिंह के साथ थे।

दूसरी तरफ, सूरज पंचोली की माँ जरीना वहाब के साथ उनकी कॉल डिटेल्स भी सामने आई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि दोनों के बीच सितंबर 4, 2019 से जून 20, 2020 तक 5 बार कॉल पर बातचीत हुई है।

कॉल रिकॉर्ड से यह भी पता चलता है कि 14 जून को, एम्बुलेंस ड्राइवर अक्षय बंडगर ने शाम 6.40 बजे संदीप सिंह को कॉल किया और 48 सेकंड तक बातचीत की। इसके बाद उसने 7.57 बजे दूसरी कॉल की और 51 सेकंड तक उनसे बात की।

कॉल रिकॉर्ड के अनुसार, संदीप ने एम्बुलेंस ड्राइवर को तीसरी कॉल 9 जून को सुबह 9.59 बजे की थी। इसके बाद संदीप सिंह ने 16 जून को फिर से 104 सेकंड तक एंबुलेंस ड्राइवर से बात की थी। कॉल डिटेल के सामने आने के बावजूद एंबुलेंस ड्राइवर का कहना है कि वो संदीप सिंह को नहीं जानता। उसे तो मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया है। ड्राइवर ने कहा कि उसने पहली बार संदीप सिंह का नाम सुना है।

कॉल डिटेल्स के मुताबिक, संदीप सिंह ने पिछले 10 महीने से सुशांत को एक भी बार फोन नहीं किया। बावजूद इसके वे सुशांत को अपना करीबी दोस्त बताते आए हैं। सुशात का परिवार पहले दिन से ये दावा कर रहा है कि वे संदीप सिंह को नहीं जानते। उन्हें ये भी नहीं मालूम कि संदीप सुशांत के करीबी थे।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह की मौत के बाद संदीप सिंह फ्रंट पर काम करते दिखे थे। अस्पताल से लेकर श्मशान घाट तक संदीप सिंह सबसे आगे नजर आए थे। कूपर अस्पताल में सारा काम संदीप सिंह की देखरेख में हुआ था। सुशांत की बहन के साथ भी संदीप सिंह दिखे थे।

लेकिन अब जिस तरह से संदीप सिंह को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या संदीप सिंह को अस्पताल में किसी ने भेजा था, क्योंकि सुशांत संग तो उनकी पिछले 10 महीने में कोई बात ही नहीं हुई थी, तो क्यों वे आगे आकर सब लीड कर रहे थे। संदीप सिंह के दुबई कनेक्शन की भी बात सामने आ रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,941FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe