Friday, July 19, 2024
Homeविविध विषयअन्य42 दिन में ही टीम इंडिया के चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा की दूसरी इनिंग...

42 दिन में ही टीम इंडिया के चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा की दूसरी इनिंग समाप्त, कहा था- इंजेक्शन लेकर फिट हो जाते हैं क्रिकेटर

यह चेतन शर्मा का बतौर चीफ सेलेक्टर दूसरा कार्यकाल था। उन्हें 7 जनवरी 2023 को दोबारा बीसीसीआई ने चीफ सेलेक्टर बनाया था। उससे पहले टी-20 वर्ल्ड कप में बुरे प्रदर्शन के बाद बोर्ड ने शर्मा सहित पूरी चयन समिति की ही छुट्टी कर दी थी।

भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने इस्तीफा दे दिया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के सचिव जय शाह ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। एक स्टिंग में फँसने के बाद से ही शर्मा के इस्तीफे को लेकर अटकलें लग रही थी। स्टिंग में उन्होंने इंजेक्शन लेकर क्रिकेटरों के फिट होने जैसे कई दावे किए थे।

यह चेतन शर्मा का बतौर चीफ सेलेक्टर दूसरा कार्यकाल था। उन्हें 7 जनवरी 2023 को दोबारा बीसीसीआई ने चीफ सेलेक्टर बनाया था। उससे पहले टी-20 वर्ल्ड कप में बुरे प्रदर्शन के बाद बोर्ड ने शर्मा सहित पूरी चयन समिति की ही छुट्टी कर दी थी।

पिछले दिनों ज़ी न्यूज ने चेतन शर्मा का स्टिंग ऑपरेशन किया था। चेतन शर्मा ने खुफिया कैमरे के सामने कहा था कि खिलाड़ी 80 फीसदी फिटनेस पर भी खेलने को तैयार हैं। उन्होंने कहा था कि भारतीय क्रिकेटर फिट रहने के लिए इंजेक्शन लेते हैं। उन्हें पता है कि कौन से इंजेक्शन डोपिंग में नहीं आते हैं। खिलाड़ी 80 फीसदी फिटनेस पर भी खेलने को तैयार हैं। वे इंजेक्शन लेते हैं और खेलना शुरू करते हैं।

चेतन शर्मा ने सौरव गांगुली और विराट कोहली के बीच अहंकार की लड़ाई होने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि गांगुली ने रोहित का पक्ष नहीं लिया, लेकिन उन्होंने विराट को कभी पसंद नहीं किया। उन्होंने कहा था कि टीम इंडिया के खिलाड़ी सेलेक्टर के टच में रहते हैं। रोहित उनसे फोन पर आधा-आधा घंटा बात करते हैं और हार्दिक पांड्या उनके घर आते रहते हैं।

स्टिंग में किए गए दावे

  • भारतीय क्रिकेटर फिट रहने के लिए इंजेक्शन लेते हैं। उन्हें पता है कि कौन से इंजेक्शन डोपिंग में नहीं आते हैं। खिलाड़ी 80 फीसदी फिटनेस पर भी खेलने को तैयार हैं। वे इंजेक्शन लेते हैं और खेलना शुरू करते हैं।
  • विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच कोई लड़ाई नहीं है। लेकिन इगो प्रॉब्लम है। दोनों बड़े फिल्मी सितारों की तरह हैं। आप कह सकते हैं, अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र।
  • टीम इंडिया के खिलाड़ी सेलेक्टर के टच में रहते हैं। रोहित मुझसे फोन पर आधा-आधा घंटा बात करता है। हार्दिक पांड्या मेरे घर आते रहते हैं।
  • जसप्रीत बुमराह को 2022 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ जबरदस्ती टीम में शामिल गया था। उसकी चोट इतनी गंभीर है कि यदि वे ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्ड कप का एक भी मैच खेलते, तो वह कम से कम एक साल के लिए बाहर हो जाते।
  • सौरव गांगुली और विराट कोहली के बीच अहंकार की लड़ाई है। गांगुली ने रोहित का पक्ष नहीं लिया। लेकिन उन्होंने विराट को कभी पसंद नहीं किया।
  • T20 में शुभमन गिल जैसों को मौका देने के लिए विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे मजबूत प्लेयर्स को ‘आराम’ दिया जाता है। हार्दिक पंड्या लंबे समय में कप्तान के रूप में कार्यभार संभालेंगे। रोहित शर्मा अब T20 टीम का हिस्सा नहीं होंगे।
  • मैं टीम में सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, दीपक हुड्डा, शुभमन गिल और अन्य 15-20 खिलाड़ियों को लेकर आया हूँ।
Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -