Wednesday, June 19, 2024
Homeविविध विषयअन्यवर्ल्ड कप के फाइनल में भारत को बचाने हैं 240 रन, रोहित शर्मा की...

वर्ल्ड कप के फाइनल में भारत को बचाने हैं 240 रन, रोहित शर्मा की आक्रामक शुरुआत के बाद कोहली-राहुल ने जड़ा अर्धशतक

के एल राहुल के आउट होने के बाद मैदान पर आए मोहम्मद शमी 10 गेंदों पर 6 रन बनाकर स्टार्क के तीसरे शिकार बने। टीम का सातवाँ विकेट 211 रनों के कुल योग पर गिरा।

आईसीसी क्रिकेट विश्वकप के फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 241 रनों का लक्ष्य रखा है। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान पैट कमिंस ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला लिया, जिसे उसके गेंदबाजों ने लगभग सही साबित किया। भारतीय टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में सभी विकेट खोकर 240 रन बनाए और ऑस्ट्रेलिया के सामने 241 रनों का लक्ष्य रखा। कुलदीप यादव आखिरी गेंद पर दो रन लेने के चक्कर में रन आउट हो गए। भारत की तरफ से विराट कोहली और के एल राहुल ने महत्वपूर्ण अर्धशतकीय पारियाँ खेंली, तो कप्तान रोहित शर्मा ने 47 रनों का बेहद महत्वपूर्ण योगदान दिया।

इससे पहले, भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने आक्रामक शुरुआत की और 31 गेंदों पर 47 रन बनाए। लेकिन दूसरे छोर से शुबमन गिल महज 7 गेंदों पर 4 रन बनाकर आउट हो गए। उन्हें स्टार्क ने अपना शिकार बनाया। इस समय टीम का स्कोर महज 30 रन था। इसके बाद रोहित ने विराट कोहली के साथ 46 रनों की साझेदारी की। रोहित शर्मा अपना हाथ खोल ही रहे थे कि ग्लेन मैक्सवेल को निशाना बनाने की कोशिश में कैच थमा बैठे।

विराट कोहली और केएल राहुल की धीमी बल्लेबाजी

रोहित शर्मा का विकेट 10वें ओवर में कुल 76 रनों के योग पर गिरा। इसके बाद मैदान पर आए श्रेयस अय्यर तुरंत ही पवैलियन लौट गए। वो 3 गेंदों पर 4 रन बना सके। अय्यर का विकेट जब गिरा, तब टीम का स्कोर था 81 रन। तीसरा विकेट गिरने के बाद मैदान आए केएल राहुल ने विराट कोहली के साथ बेहद संभलकर बल्लेबाजी की। दोनों ने अपने रन सिंगल-डबल लेकर बनाए। कोहली-राहुल ने 67 रनों की साझेदारी की, जिसके बाद 148 रनों के कुल स्कोर पर विराट कोहली आउट हो गए।

विराट कोहली ने 63 गेंदों पर 54 रन बनाए, वहीं दूसरे छोर से के एल राहुल डटे रहे। वो बेहद धीमी बल्लेबाजी करते रहे, लेकिन सिंगल-डबल के दम पर ही स्कोर बोर्ड को चलाए रखा। इस दौरान बीच के समय में 97 गेंदों पर कोई रन नहीं बना।

विराट कोहली के आउट होने के बाद मैदान पर आए रविंद्र जडेजा ने जमने की कोशिश की। वो 22 गेंदों पर 9 रन बना भी चुके थे, लेकिन हैजलवुड ने उन्हें अपना शिकार बना लिया। टीम का पाँचवाँ विकेट 178 रनों के कुल स्कोर पर गिरा।इसके बाद केएल राहुल और सूर्या ने 25 रनों की साझेदारी की, लेकिन 203 रनों के कुल योग पर के एल राहुल स्टार्क की गेंद पर विकेट कीपर जोश इंग्लिश को कैच थमा बैठे। केएल राहुल ने 107 गेंदों पर 66 रन बनाए और अपनी पारी में महज एक ही चौका लगाया।

राहुल के आउट होने के बाद ढही भारतीय पारी

के एल राहुल के आउट होने के बाद मैदान पर आए मोहम्मद शमी 10 गेंदों पर 6 रन बनाकर स्टार्क के तीसरे शिकार बने। टीम का सातवाँ विकेट 211 रनों के कुल योग पर गिरा। टीम का आठवाँ विकेट 45वें ओवर में जसप्रीत बुमराह के रूप में गिरा, जिसे जैम्पा ने अपने आखिरी ओवर में लिया। वहीं, सूर्य कुमार यादव 226 रनों के कुल योग पर आठवें विकेट के तौर पर आउट होकर पवैलियन लौटे। सूर्या 28 गेंदों पर 18 रन बनाकर आउट हुए।

एक तरफ भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा और विराट कोहली के अलावा रन बनाने के लिए तरसते रहे, तो दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया के लिए सभी गेंदबाजों ने सधी गेंदबाजी की। जोश हैजलवुड को रोहित शर्मा ने शुरू में निशाना जरूर बनाया, लेकिन बाद में उन्होंने वापसी की और जडेजा का विकेट हासिल किया। ऑस्ट्रेलिया के लिए मिचेल स्टार्क ने 10 ओवरों में 55 रन देकर 3 विकेट लिए, तो ग्लेन मैक्सवेल और एडम जैम्पा को एक-एक विकेट मिला। वहीं, जोश हैजलवुड ने 2 विकेट लिए तो कप्तान पैट कमिंस को भी 2 विकेट मिले।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर चुनी है बल्लेबाजी

बता दें कि नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खचाखच भरे शोर के बीच ऑस्ट्रेलिया के कप्तान पैट कमिंस ने विश्व कप फाइनल में भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारतीय टीम 10 गेम खेलने के बाद फाइनल में अजेय रही, पांच मैचों में लक्ष्य का पीछा करते हुए लक्ष्य का बचाव किया है। आज पहले बल्लेबाजी के बाद भारतीय टीम को लक्ष्य का बचाव करना है।

ऐसी हैं दोनों टीमों की प्लेइंग इलेवन

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), शुबमन गिल, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, केएल राहुल (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, जसप्रित बुमराह, कुलदीप यादव, मोहम्मद सिराज।

ऑस्ट्रेलिया: ट्रैविस हेड, डेविड वार्नर, मिशेल मार्श, स्टीवन स्मिथ, मार्नस लाबुशेन, ग्लेन मैक्सवेल, जोश इंगलिस (विकेटकीपर), मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस (कप्तान), एडम ज़म्पा, जोश हेज़लवुड।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -