Tuesday, May 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यपत्नी के साथ कॉन्ग्रेस नेता इमरान मसूद के 'डांस' से मौलाना ख़फ़ा, कहा-'हराम है...

पत्नी के साथ कॉन्ग्रेस नेता इमरान मसूद के ‘डांस’ से मौलाना ख़फ़ा, कहा-‘हराम है ये, माफ़ी माँगे’

इस वीडियो में कुछ औरतें 'उड़ें जब-जब जुल्फें तेरी' गाने पर डांस कर रही हैं, जिसमें इमरान की पत्नी भी शामिल हैं। इस वीडियो में लगातार बाकी औरतें और उनकी पत्नी इमरान को डांस करने के लिए कह रही हैं।

कॉन्ग्रेस नेता इमरान मसूद को अपनी पत्नी के साथ एक समारोह में डांस करना महँगा पड़ गया। इमरान की डांस वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। मुस्लिम संगठनों और मौलानाओं ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है। मौलानाओं की मानें तो ऐसा करना इस्लाम के ख़िलाफ़ है, इसलिए इमरान को इसके लिए माफ़ी माँगनी चाहिए।

इस वीडियो में कुछ औरतें ‘उड़ें जब-जब जुल्फें तेरी’ गाने पर डांस कर रही हैं, जिसमें इमरान की पत्नी भी शामिल हैं। इस वीडियो में लगातार बाकी औरतें और उनकी पत्नी इमरान को डांस करने के लिए कह रही हैं।

नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक इत्तेहाद उलेमा-ए-हिंद के अध्‍यक्ष मौलाना कारी मुस्तफा देहलवी ने मीडिया से हुई अपनी बातचीत में कहा, “इमरान मसूद की पत्‍नी को इस तरह के गानों पर नाचना, खुलेआम बेपर्दा होकर डांस करना जायज नहीं है, यह हराम है और इस्‍लाम इसकी इजाजत नहीं देता है। इस्‍लाम में इसकी मनाही है। इन लोगों को फौरी तौर पर अल्‍लाह से तौबा करनी चाहिए और माफी माँगनी चाहिए, यह बहुत बड़ा जुर्म है।”

गौरतलब है साल 2014 में मोदी की ‘बोटी-बोटी’ करने वाले इमरान मसूद कॉन्ग्रेस पार्टी का एक बड़ा नाम है। इस बार वह सहारनपुर से कॉन्ग्रेस के प्रत्याशी भी है। सहारनपुर में पहले चरण में मतदान हो चुका है। 23 मई को नतीजे सबके सामने होंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -