Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यपर्यटन के बाद अब यूपी में चमकेगा होटल व्यवसाय, जापान की कंपनी करेगी ₹7200...

पर्यटन के बाद अब यूपी में चमकेगा होटल व्यवसाय, जापान की कंपनी करेगी ₹7200 करोड़ का निवेश, ग्लोबल समिट में अब तक ₹33 लाख करोड़ का इन्वेस्टमेंट

होटल खोलने के फैसले को लेकर कंपनी के डायरेक्टर टाकामोटो योकोयामा का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा पर्यटन को लेकर किए गए प्रयासों से राज्य की होटल इंडस्ट्री के लिए अपार संभावनाएँ हैं।

उत्तर प्रदेश के विकास को नई उड़ान मिलने वाली है। उत्तर प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में राज्य को 33 लाख करोड़ रुपए का निवेश मिला है। होटल चलाने वाली जापान की मशहूर कंपनी ‘होटल मैनेजमेंट इंटरनेशनल कंपनी लिमिटेड’ ने यूपी में 7200 करोड़ रुपए के निवेश पर हस्ताक्षर किए हैं। कंपनी का लक्ष्य राज्य के 30 बड़े शहरों में होटल खोलने का है।

दरअसल, जापानी कंपनी होटल मैनेजमेंट इंटरनेशनल कंपनी लिमिटेड (HMI) जापान के 60 से अधिक शहरों में होटलों का संचालन करती है। इस कंपनी ने यूपी के पर्यटन स्थल और यहाँ आने वाले पर्यटकों की संख्या को देखा है। ऐसे में कंपनी ने जापान की ही तरह पर उत्तर प्रदेश के बड़े शहरों में होटल खोलने का फैसला किया है। इसके लिए कंपनी यूपी में 7200 करोड़ रुपए का भारी-भरकम निवेश करेगी।

होटल खोलने के फैसले को लेकर कंपनी के डायरेक्टर टाकामोटो योकोयामा का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा द्वारा पर्यटन को लेकर किए गए प्रयासों से यहाँ होटल इंडस्ट्री के लिए अपार संभावनाएँ हैं। वाराणसी में श्रीकाशीविश्वनाथ धाम कॉरीडोर बनने के बाद से वहाँ बड़ी संख्या में पर्यटक आ रहे हैं। यह कंपनी के लिए एक बेहतरीन अवसर है। उत्तर प्रदेश की औद्योगिक नीतियाँ भी एचएमआई ग्रुप को प्रोत्साहन देने वाली हैं। ऐसे में एचएमआई ग्रुप वाराणसी, आगरा और अयोध्या सहित उत्तर प्रदेश के 30 प्रमुख शहरों में होटल बनाएगी।

कुल मिलाकर देखें तो उत्तर प्रदेश के पर्यटन एवं आतिथ्य केन्द्रों को क्रमशः 98193 करोड़ रुपए तथा 20722 करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। वहीं, राज्य के 20 क्षेत्रों सहित पर्यटन क्षेत्र में कुल मिलाकर 397 प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। इससे कुल मिलाकर 2.60 लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश सरकार के प्रयासों से न केवल देश के अन्य राज्यों से बल्कि विदेशों पर्यटकों की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हुई है। साल 2022 में उत्तर प्रदेश में 24.87 करोड़ से अधिक पर्यटक आए। इसमें से 4 लाख से अधिक विदेशी पर्यटक थे।

आपको बता दें कि रामनगरी अयोध्या में जनवरी 2024 तक मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बन कर तैयार हो जाएगा। इससे उत्तर प्रदेश के पर्यटन में ऐतिहासिक रूप से बढ़ोतरी होगी। पर्यटकों के आँकड़े को लेकर जारी एक बयान में कहा गया कि 2022 के पहले 6 महीनों में करीब 2 करोड़ पर्यटक अयोध्या गए थे। इस आँकड़े से अंदाजा लगाया जा सकता है कि रामलला के मंदिर बनने के बाद उत्तर प्रदेश में पर्यटकों के आँकड़े में तेजी से बढ़ोतरी होना तय है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में आरक्षण खत्म: सुप्रीम कोर्ट ने कोटा व्यवस्था को रद्द किया, दंगों की आग में जल रहा है मुल्क

प्रदर्शनकारी लोहे के रॉड हाथों में लेकर सेन्ट्रल डिस्ट्रिक्ट जेल पहुँच गए और 800 कैदियों को रिहा कर दिया। साथ ही जेल को आग के हवाले कर दिया गया।

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-370 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -