Thursday, May 30, 2024
Homeविविध विषयअन्यबेटे आकाश के लिए मुकेश अंबानी ने खाली की कुर्सी, डायरेक्टर पद से इस्तीफा:...

बेटे आकाश के लिए मुकेश अंबानी ने खाली की कुर्सी, डायरेक्टर पद से इस्तीफा: JIO को मिला 30 साल का चेयरमैन

पिछले साल दिसंबर में ही मुकेश अंबानी ने कंपनी में मैनेजमेंट लेवल पर बड़े बदलाव के संकेत दे दिए थे। उनका कहना था कि वह वरिष्ठ सहयोगियों के साथ मिलकर युवा पीढ़ी को बागडोर सौंपने की प्रक्रिया में तेजी लाना चाहते हैं।

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) में अब नई पीढ़ी को कमान देने की प्रक्रिया शुरू हो गई। इसी कड़ी में मुकेश अंबानी ने ग्रुप के टेलिकॉम यूनिट रिलायंस जियो के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया है। उनके बड़े बेटे आकाश अंबानी (Akash Ambani) को रिलायंस जियो (Reliance Jio) बोर्ड का नया चेयरमैन चुना गया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड ने मंगलवार (28 जून 2022) को घोषणा की कि मुकेश अंबानी ने कंपनी के निदेशक के पद से इस्तीफा दे दिया है। 27 जून को हुई बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक में आकाश अंबानी को बोर्ड का चेयरमैन नियुक्त करने की मंजूरी दी गई। पंकज मोहन पवार अब कंपनी के प्रबंध निदेशक का पद संभालेंगे। वहीं, रमिंदर सिंह गुजराल और केवी चौधरी को इंडिपेंडेंट डायरेक्टर नियुक्त किया गया है। रिलायंस जियो के नए चेयरमैन आकाश अंबानी पहले कंपनी में नॉन-एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर थे।

बता दें कि 30 वर्षीय आकाश अंबानी ने ब्राउन यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में स्नातक किया है। इसके बाद वह अपने पारिवारिक कारोबार से जुड़ गए थे। वह जियो प्लेटफॉर्म्स, जियो लिमिटेड, सावन मीडिया, जियो इन्फोकॉम, रिलायंस रिटेल वेंचर्स के बोर्ड में शामिल हैं। जियो के 4जी इको सिस्टम को खड़ा करने का श्रेय काफी हद तक आकाश अंबानी को जाता है। दुनिया भर की बड़ी टेक कंपनियों ने वर्ष 2020 में जियो में निवेश किया था, वैश्विक निवेश को भारत लाने में भी आकाश ने खूब मेहनत की थी।

गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर में ही मुकेश अंबानी ने कंपनी में मैनेजमेंट लेवल पर बड़े बदलाव के संकेत दे दिए थे। उनका कहना था कि वह वरिष्ठ सहयोगियों के साथ मिलकर युवा पीढ़ी को बागडोर सौंपने की प्रक्रिया में तेजी लाना चाहते हैं। मुकेश अंबानी ने अपने पिता धीरूभाई की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में कहा था, “बड़े सपनों और नामुमकिन नजर आने वाले लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सही लोगों को जोड़ना और सही नेतृत्व होना जरूरी है। रिलायंस अब एक महत्वपूर्ण नेतृत्व बदलाव को अंजाम देने की प्रक्रिया में हैं। यह बदलाव मेरी पीढ़ी के वरिष्ठों से नए लोगों की अगली पीढ़ी को होगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो पुराना फोन आप यूज नहीं करते उसके बारे में मुझे बताइए… कहीं अपनी ‘दुकानदारी’ में आपकी गर्दन न नपवा दे न्यूजलॉन्ड्री वाला ‘झबरा’

अभिनंदन सेखरी ने बताया है कि वह फोन यहाँ बेघर लोगों को देने जा रहा है। ऐसे में फोन देने वाले को नहीं पता होगा कि फोन किसके पास जा रहा है।

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -