Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यशिकायत के बाद सचिन ने कहा: Mumbai Indians से एक रुपया भी नहीं लेता

शिकायत के बाद सचिन ने कहा: Mumbai Indians से एक रुपया भी नहीं लेता

अभी चल रही आईपीएल के मौजूदा सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स शीर्ष पर काबिज़ है और अंक तालिका में मुंबई इंडियंस दूसरे नंबर पर है। मुंबई ने चेन्नई को दोनों मैच हरा डाले हैं। सचिन तेंदुलकर सीडब्ल्यूसी के भी सदस्य हैं जो बीसीसीआई को महत्वपूर्ण मुद्दों पर राय देती है।

महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर ने मुंबई इंडियंस टीम मैनेजमेंट में किसी भी प्रकार का दखल रखने की बात से साफ़ इनकार कर दिया है। तेंदुलकर ने कहा कि वो मुंबई इंडियंस के ‘आइकॉन’ हैं और निर्णायक मंडली में भी शामिल नहीं हैं। सचिन ने हितों के टकराव के मामले में भारत में क्रिकेट की गवर्निंग एजेंसी बीसीसीआई को जवाब देते हुए कहा कि वे मुंबईं इंडियंस के मार्गदर्शक हैं वो अपने अनुभवों के आधार पर खिलाड़ियों को सही रास्ता दिखाते हैं। सचिन के ख़िलाफ़ दर्ज की गई शिकायत में कहा गया था कि वह मुंबईं इंडियंस में लाभ का पद धारण करने के साथ-साथ बीसीसीआई की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (CAC) के भी सदस्य बने हुए हैं। ख़ुद को मिली नोटिस के जवाब में औपचारिक प्रतिक्रिया देते हुए सचिन ने मुंबई इंडियन से किसी प्रकार का मुआवजा या सैलेरी न लेने की बात बताई है।

पूर्व भारतीय कप्तान सचिन तेंदुलकर ने अपने जवाब में कहा;

“मेरा किरदार बस फ्रैंचाइजी मुंबई इंडियंस का मार्गदर्शन करने तक सीमित है। मैं मुंबईं इंडियंस के ‘मैनेजमेंट’, ‘गवर्नेंस’ या फिर ‘एम्प्लॉयमेंट’ में शामिल नहीं हूँ। मेरी भूमिका खिलाड़ियों ख़ासकर युवाओं को सिखाने, उनका मार्गदर्शन करने, अपनी अंतर्दृष्टि रखने और अपने अनुभव साझा करने तक सीमित है। मैं बस टीम का मेंटर हूँ जो मैनेजमेंट के भीतर नहीं आता। मुंबईं इंडियंस के पास हेड कोच के अलावा और भी कई कोच हैं जो अन्य कार्यों को देखते हैं।”

भारत रत्न सचिन तेंदुलकर के ख़िलाफ़ दायर की गई शिकायत में कहा गया था कि वह डगआउट में मुंबई इंडियंस के खिलाड़ियों के साथ बैठे रहते हैं। इसका जवाब देते हुए सचिन ने इस शिकायत को अजीब बताया। उन्होंने कहा कि इस बेतुके लॉजिक के हिसाब से तो टीम के सपोर्टिंग स्टाफ, ट्रेनर, थेरेपिस्ट ये सभी के सभी मैनेजमेंट के भीतर आ जाएँगे। बता दें कि मुंबई इंडियंस सचिन तेंदुलकर को टीम का ‘मेंटर’ या ‘आइकॉन’ के रूप में प्रचारित करती है। मुंबई के मैचों में अक़्सर उपस्थित रहते हैं और टीम के खिलाड़ियों को प्रैक्टिस कराते हुए भी देखे जा सकते हैं।

अभी चल रही आईपीएल के मौजूदा सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स शीर्ष पर काबिज़ है और अंक तालिका में मुंबई इंडियंस दूसरे नंबर पर है। मुंबई ने चेन्नई को दोनों मैच हरा डाले हैं। सचिन तेंदुलकर सीडब्ल्यूसी के भी सदस्य हैं जो बीसीसीआई को महत्वपूर्ण मुद्दों पर राय देती है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भ#$गी हो, भ$गी बन के रहो’: जामिया के 3 प्रोफेसर पर FIR, दलित कर्मचारी पर धर्म परिवर्तन का डाल रहे थे दबाव; कहा- ईमान...

एफआईआर में आरोपित नाज़िम हुसैन अल-जाफ़री जामिया मिल्लिया इस्लामिया के रजिस्ट्रार हैं तो नसीम हैदर डिप्टी रजिस्ट्रार। इनके साथ ही आरोपित शाहिद तसलीम यूनिवर्सिटी में प्रोफ़ेसर हैं।

पूजा खेडकर की माँ होटल से हुई गिरफ्तार, नाम बदलकर लिया था कमरा: महिला IAS के पिता नौकरी में रहते 2 बार हुए थे...

पूजा खेडकर का चिट्ठा खुलने के बाद उनके माता-पिता के खिलाफ भी जाँच जारी है। माँ को महाड के होटल से हिरासत में लिया गया है और पिता फरार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -