Wednesday, July 24, 2024
Homeविविध विषयअन्यएलन मस्क ने शेयर की 'ट्विटर की कब्र', ट्रेंड हुआ RIP Twitter: अल्टीमेटम के...

एलन मस्क ने शेयर की ‘ट्विटर की कब्र’, ट्रेंड हुआ RIP Twitter: अल्टीमेटम के बाद सैकड़ों का इस्तीफा, 3700 को खुद निकाल चुके हैं

बताया जा रहा है कंपनी में बड़े स्तर पर किए जा रहे बदलाव और 'हार्डकोर वर्क' को लेकर कर्मचारी बेहद नाराज हैं। मस्क के काम के घंटे बढ़ाने और 'हार्डकोर वर्क' का अल्टीमेटम देने के बाद सैकड़ों कर्मचारियों ने खुद ही कंपनी से इस्तीफा दे दिया है।

जब से ट्विटर की कमान एलन मस्क (Elon Musk) के हाथों में आई है, यह किसी न किसी वजह से रोज चर्चा में बना रहता है। सैकड़ों कर्मचारियों के इस्तीफे के बीच ट्विटर पर #RIPTwitter ट्रेंड हो रहा है। इसके साथ खूब मीम शेयर हो रहे हैं। खुद मस्क ने एक मीम शेयर किया है, जिसमें आप ट्विटर की कब्र देख सकते हैं।

RIPTwitter ट्रेंड के बीच मस्क का पोस्ट

यह सब तब हो रहा है जब ट्विटर के सैंकड़ों कर्मचारियों के नौकरी छोड़ने की खबरें सामने आई है। बताया जा रहा है कंपनी में बड़े स्तर पर किए जा रहे बदलाव और ‘हार्डकोर वर्क’ को लेकर कर्मचारी बेहद नाराज हैं। रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि मस्क के काम के घंटे बढ़ाने और ‘हार्डकोर वर्क’ का अल्टीमेटम देने के बाद सैकड़ों कर्मचारियों ने खुद ही कंपनी से इस्तीफा दे दिया है। इन कर्मचारियों ने ऐसे समय में सामूहिक इस्तीफा दिया है, जब मस्क पहले से ही कंपनी में बड़े स्तर पर कर्मचारियों की छंटनी और अन्य बदलावों को लेकर आलोचना का सामना कर रहे हैं।

27 अक्टूबर 2022 को 44 बिलियन डॉलर (362461220000 रुपए) में ट्विटर को खरीदने के बाद मस्क सीनियर मैनेजमेंट समेत 3700 पूर्व कर्मचारियों को नौकरी से निकाल चुके हैं। मस्क ने सबसे पहले भारतीय मूल के सीईओ पराग अग्रवाल (Parag Agrawal) सहित CFO नेड सेगल और लीगल अफेयर-पॉलिसी हेड विजया गाड्डे की छुट्टी की थी और इन्हें कंपनी हेडक्वार्टर से भी बाहर निकलवा दिया था। इसके बाद उन्होंने ट्वीट किया था- द बर्ड इज फ्रीड (the bird is freed) यानी आजाद हुई चिड़िया।

बताया जा रहा है कि बुधवार (16 नवंबर 2022) को एलन मस्क ने कर्मचारियों को ईमेल के जरिए एक अल्टीमेटम दिया था। इसमें कंपनी के नए मालिक ने ट्विटर 2.0 के निर्माण को लेकर कर्मचारियों को कहा था, “ट्विटर को सफल बनाने के लिए हमें बेहद कट्टर होने की आवश्यकता है।” इसके साथ ही लंबे समय तक काम करने का भी जिक्र किया गया था। इस ईमेल से कर्मचारी खासा नाराज दिखे।

एलन मस्क ने कर्मचारियों को गुरुवार (17 नवंबर 2022) तक कंपनी को छोड़ने का विकल्प दिया था। उन्होंने कहा था कि यह आपको तय करना होगा कि क्या आप लंबे समय तक काम करना चाहते हैं या नहीं। अगर आप यहाँ काम नहीं करना चाहते हैं, तो आपको अगले तीन महीने की सैलरी दे जाएगी।

बता दें कि इससे पहले भी कई कर्मचारियों ने खुद से इस्तीफा दे दिया था। बीते हफ्ते ब्लूमबर्ग न्यूज ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी। इसके मुताबिक, ट्विटर के प्रति लोगों का विश्वास कम हुआ है। मस्क ने कंपनी के कर्मचारियों को बताया था कि वह ट्विटर के दिवालियापन से इनकार नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कर्मचा​रियों से यह भी कहा था कि उन्हें हफ्ते में 80 घंटे कार्य करने के लिए तैयार रहना होगा। इसके अलावा उन्होंने कोरोना काल में काम करने के उस लचीलेपन को भी समाप्त कर दिया है, जिसमें कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति दी गई थी। इस मामले की जानकारी रखने वाले एक व्यक्ति के अनुसार एलन मस्क ने कहा था, “यदि आप नहीं आना चाहते हैं, तो आपका इस्तीफा स्वीकार कर लिया जाएगा। हम सभी को और अधिक मेहनत करने की आवश्यकता है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -