Friday, July 19, 2024
Homeविविध विषयअन्यRBI के शक्तिकांत दास दुनिया के टॉप बैंकर, A+ रेटिंग वाले सिर्फ 3 ही...

RBI के शक्तिकांत दास दुनिया के टॉप बैंकर, A+ रेटिंग वाले सिर्फ 3 ही गवर्नर: GST कलेक्शन 11% ऊपर, लगातार 5 महीने तक ₹1.50+ लाख करोड़ का राजस्व

गर्वनर शक्तिकांत दास को ग्लोबल फाइनेंस केंद्रीय बैंकर रिपोर्ट कार्ड में 'ए प्लस' की रेटिंग मिली है... वो भी पहले नंबर पर। उनके विजन का ही नतीजा है कि वित्तीय वर्ष 2023-24 में अप्रैल से लेकर अगस्त तक लगातार हर महीने GST का कलेक्शन 1.50 लाख करोड़ रुपए से अधिक रहा है।

भारत के लिए अगस्त का महीना आर्थिक क्षेत्र में खुशखबरी लेकर आया है। देश में वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) कलेक्शन में 11 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। इसके साथ ही भारतीय रिर्जव बैंक के गर्वनर शक्तिकांत दास को अमेरिकी पत्रिका ‘ग्लोबल फाइनेंस’ ने वैश्विक स्तर के केंद्रीय बैंकर के खिताब से नवाजा है। गौरतलब है कि रिज़र्व बैक भारत की अर्थव्यवस्था को नियन्त्रित करता है।

अर्थव्यवस्था में ये मजबूती और केंद्रीय बैंक के संचालक को दुनिया में इस तरह का सम्मान मिलना देश की भावी और सुदृढ़ अर्थव्यवस्था की ओर इशारे करता है। अर्थव्यवस्था की ये रफ्तार देख पीएम मोदी के देश को दुनिया में पाँचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था से अगले 5 साल में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का सपना हकीकत में बदलते नजर आ रहा है।

‘ए प्लस’ की रेटिंग पर पीएम की बधाई

आरबीआई के गर्वनर शक्तिकांत दास की इस उपलब्धि पर पीएम मोदी ने उन्हें बधाई देते हुए कहा कि ये पूरे देश के लिए गर्व का पल है। ये वैश्विक मंच पर हमारे वित्तीय नेतृत्व की काबिलियत दिखाता है।
आरबीआई के गर्वनर दास को अमेरिका की पत्रिका ग्लोबल फाइनेंस ने दुनिया के टॉप बैंकर के खिताब से नवाज कर ये साबित कर दिया है कि दुनिया भारत की अर्थव्यवस्था का लोहा मानती है।

गर्वनर शक्तिकांत दास को ग्लोबल फाइनेंस केंद्रीय बैंकर रिपोर्ट कार्ड में ‘ए प्लस’ की रेटिंग मिली है। इस लिस्ट में दुनिया के तीन केंद्रीय बैंकों के गर्वनर हैं, लेकिन बाजी आरबीआई के गर्वनर दास ने मारी। उनके बाद दूसरे नंबर पर स्विट्जरलैंड के गर्वनर थॉमस जे जॉर्डन रहे तो वियतनाम के गर्वनर गुयेन थी होंग तीसरे नंबर पर रहे। इससे पहले लंदन के सेंट्रल बैंक की तरफ से गर्वनर दास को जून 2023 में गर्वनर ऑफ द ईयर के खिताब से भी नवाजा जा चुका है।

अगस्त ने किए हैं अर्थव्यवस्था के लिए शानदार इशारे

देश के वित्त मंत्रालय ने अगस्त 2023 के वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) कलेक्शन के आँकड़े जारी किए हैं। इसके अनुसार राजस्व में 11 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। वित्त मंत्रालय के राजस्व सचिव संजय मल्होत्रा ने शुक्रवार (1 सितंबर) को कहा कि अगस्त 2023 में सकल माल और सेवा कर (जीएसटी) राजस्व 1,59,069 करोड़ रुपए है। इसमें वार्षिक आधार पर 11 फीसदी की बढ़ोतरी है।

उन्होंने मीडिया को बताया कि अगस्त 2023 में GST कलेक्शन 11 फीसदी बढ़ा है और ये मोटे तौर पर लगभग 1.60 लाख करोड़ रुपए दर्ज किया गया। उन्होंने कहा कि मोटे तौर पर आँकड़े पहले के महीनों की तरह साल-दर-साल आधार पर 11 फीसदी की बढ़ोतरी के दायरे में है।

पिछले 2 वित्तीय वर्ष में GST कलेक्शन के आँकड़े

गौर करने लायक बात यह है कि पिछले 2 वित्तीय वर्ष में ऐसा पाँचवीं बार है, जब GST का कलेक्शन 1.60 लाख करोड़ रुपए से अधिक रहा। वित्तीय वर्ष 2023-24 की बात करें तो अप्रैल से लेकर अगस्त तक लगातार हर महीने GST का कलेक्शन 1.50 लाख करोड़ रुपए से अधिक रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -