Monday, July 15, 2024
Homeविविध विषयविज्ञान और प्रौद्योगिकीहुगली नदी के नीचे से गुजरेगी मेट्रो ट्रेन, बन कर तैयार है देश की...

हुगली नदी के नीचे से गुजरेगी मेट्रो ट्रेन, बन कर तैयार है देश की पहली अंडरवाटर सुरंग: 11 km है लंबाई, कश्मीर में बन रहा दुनिया का सबसे ऊँचा रेलवे पुल

इस सुरंग को बनाने में लगभग 120 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इसकी कुल लंबाई करीब 10.8 किलोमीटर है। इसमें 520 मीटर हिस्सा पानी के अंदर से गुजरेगा, जिसे पार करने में मेट्रो ट्रेन को 45 सेकंड का वक्त लगेगा।

देश में सबसे पहले पश्चिम बंगाल के कोलकाता में मेट्रो ट्रेन की शुरुआत हुई थी। अब देश के कई बड़े शहरों में मेट्रो पहुँच चुकी है। कोलकाता ने एक कदम और आगे बढ़ा दिया है। अब हुगली नदी की बहती जलधारा के नीचे से मेट्रो ट्रेन गुजरेगी। इसके लिए हुगली नदी के नीचे अंडरवाटर सुरंग बनाई गई है। इस रास्ते से दिसंबर 2023 से ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा।

कोलकाता में हुगली नदी के नीचे भारत की पहली अंडरवाटर सुरंग बनकर तैयार है। कोलकाता में मेट्रो के ईस्ट-वेस्ट कोरिडोर के तहत नदी में बनी देश की यह पहली सुरंग है। इस कॉरिडोर में दिसंबर 2023 में ट्रेनों का संचालन शुरू होने की उम्मीद है। यह सुरंग नदी तल से 13 मीटर और जमीन से 33 मीटर नीचे है। भारत में बन रही यह सुरंग साल्ट लेक के आईटी हब सेक्टर 5 को हावड़ा मैदान के पूर्वी हिस्से से जोड़ेगी।

इस सुरंग को बनाने में लगभग 120 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इसकी कुल लंबाई करीब 10.8 किलोमीटर है। इसमें 520 मीटर हिस्सा पानी के अंदर से गुजरेगा, जिसे पार करने में मेट्रो ट्रेन को 45 सेकंड का वक्त लगेगा।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुरंग का आंतरिक व्यास (Diameter) 5.55 मीटर और बाहरी व्यास 6.1 मीटर है। सुरंग का निर्माण पूरा हो चुका है। इस कॉरिडोर पर एस्प्लेनेड और सियालदह के बीच 2.5 किलोमीटर की दूरी पर कार्य प्रगति पर है जिसके पूरा होने के बाद अगले साल दिसंबर तक ट्रेनों का संचालन शुरू होने की संभावना है। यह सुरंग ईस्ट वेस्ट कॉरिडोर का अहम भाग है। सुरंग को लंदन-पेरिस कोरिडोर की तरह तैयार किया जा रहा है।

कोलकाता मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के डायरेक्टर शैलेश कुमार ने मीडिया से कहा है कि इस रास्ते से ट्रेनों का संचालन शुरू होने से इलाके में ट्रैफिक की समस्या से निजात मिलेगा। इसके अलावा हावड़ा और सियालदह के बीच के सफर में 90 मिनट की जगह 50 मिनट का ही समय लगेगा।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के डोडा में चिनाब नदी पर दुनिया का सबसे ऊँचा रेलवे ब्रिज बनाया जा रहा है। अब कोलकाता में नदी के अंदर सुरंग बना कर मेट्रो चलाने की तैयारी हो रही है। भारत पूरी दुनिया में इंजीनियरिंग के नायाब उदाहरण पेश कर रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -