Saturday, November 28, 2020
Home देश-समाज याद है न 22 मार्च का जनता कर्फ्यू : हम सबके पास अपनी जिम्मेदारी...

याद है न 22 मार्च का जनता कर्फ्यू : हम सबके पास अपनी जिम्मेदारी निभाने का अवसर है, हम इसे नहीं गँवाएंगे

विश्व के अधिकांश (अब तक 185) देशों में फैल चुके कोरोना वायरस से अब तक 11,949 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 288,044 लोग इससे संक्रमित हुए हैं।

याद है न रविवार का जनता कर्फ्यू, आइए हम सब मिलकर कोरोना को ना कहे

रविवार (मार्च 22, 2020) यानी कल सुबह 7 बजे से लेकर रात 9 बजे तक देशभर में जमीन से आसमान तक ‘जनता-कर्फ्यू’ रहेगा। पीएम मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए इस कर्फ्यू का आह्वान किया था। इसका मकसद न केवल विश्वभर में दहशत का कारण बने काेरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार रोकना है बल्कि उन लोगों के प्रति आभार जताना भी है जो संकट की इस घड़ी में महामारी से हमारी जिंदगी बचाने के लिए लड़ रहे हैं। उन डॉक्टर, नर्स, स्वास्थ्य कर्मचारियों का जिन्होंने ह​मारी सुरक्षा के लिए अपना जीवन दॉंव पर लगा रखा है, उनका समर्थन और हौसला भी बढ़ाना है।

पीएम मोदी ने रविवार की शाम 5 बजे, वैश्विक महामारी के दौरान भी इस बीमारी से लड़ रहे डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की कर्त्तव्यनिष्ठा के प्रति आभार प्रकट करने के लिए अपनी बालकनी में खड़े होकर ताली, थाली या घंटी बजाने की भी अपील की है।

दरअसल इस कोरोना वायरस के लिए पूरे विश्व में वैज्ञानिक निरंतर वैक्सीन तैयार करने का प्रयास कर रहे हैं और वर्तमान में इसके संक्रमण को रोकने का मात्र एक ही उपाय है कि जितनी ज्यादा से ज्यादा दूरी सम्भव हो, बनाए रखी जा सके ताकि इसका संक्रमण दूसरे लोगों तक न पहुँचे। जनता-कर्फ्यू के दौरान आम नागरिकों को भी अपने कर्तव्य का पालन करना होगा। कल होने वाले सभी सार्वजनिक समारोह और प्रतियोगी परीक्षाएँ टाली गई हैं। देश के अन्य हिस्सों में इस अवधि में मेट्रो रेल सेवाएँ बंद रहेंगी और सार्वजनिक परिवहन सेवा सीमित रहेगी।

वायरस के भय से अपने गाँव लौटने की जल्दबाजी कर रहे लोगों के लिए भी प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट के माध्यम से निर्देश देते हुए कहा कि ऐसा कर आप अपने गाँव के लोगों के लिए भी संकट पैदा कर सकते हैं। ट्वीट में पीएम मोदी ने कहा – “मेरी सबसे प्रार्थना है कि आप जिस शहर में हैं, कृप्या कुछ दिन वहीं रहिए। इससे हम सब इस बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं। रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों पर भीड़ लगाकर हम अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। कृप्या अपनी और अपने परिवार की चिंता करिए, आवश्यक न हो तो अपने घर से बाहर न निकलिए।”

ऑपइंडिया निवेदन करता है कि जनता-कर्फ्यू के दौरान कुछ बातों का विशेष ध्यान रखें। जैसे, अफवाहों के संक्रमण पर अंकुश लगाना, क्योंकि इस वायरस की क्षमता और उपायों के बारे में अभी तक यदि दुनियाभर के श्रेष्ठ डॉक्टर और खोजकर्ता ही पूरी तरह से आश्वस्त नहीं हैं तो हम और आप आखिर कैसे इसका कोई सटीक आँकलन कर सकते हैं? खासकर, किसी भी जानकारी को ‘सबसे पहले’ आगे बढ़ाने की व्याकुलता का व्हाट्सएप जैसे मैसेंजर एप्प्लिकेशंस पर त्याग करना होगा।

इसके साथ ही, राशन से लेकर अन्य रोजमर्रा के उत्पादों का भंडारण ना कर के किसी भी प्रकार की भगदड़ और अफरा-तफरी को अंजाम ना दें। सबसे बड़ी बात जो एक है वो ये कि कोरोना वायरस के संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित गरीब वर्ग हो रहा है, जो रोजाना के खर्चों के लिए किसी के घर पर या फिर प्रोजेक्ट आधारित काम करते हैं।

पीएम मोदी ने भी जनता-कर्फ्यू के आह्वान के साथ इस गरीब वर्ग के आर्थिक हितों का ध्यान रखने की विशेष अपील की है। यह एक ऐसी महामारी है, जिसने हर वर्ग- चाहे गरीब, अमीर या फिर मध्यम वर्ग हो, सबको अपनी व्यक्तिगत जिम्मेदारी साबित करने का मौका दिया है। हमें इसे जाया नहीं होने देना चाहिए। हम और आप इस वक्त सबसे बेहतर यही कर सकते हैं कि कम से कम अपनी जिम्मेदारियाँ ईमानदारी से निभाएँ।

Covid-19 : अब तक के आँकड़े

विश्व के अधिकांश (अब तक 185) देशों में फैल चुके कोरोना वायरस से अब तक 11,949* लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 288,044 लोग इससे संक्रमित हुए हैं। भारत में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 256 हो चुकी है जिनमें से 4* की मृत्यु हो गई है और 23 को सफलतापूर्वक रिकवर भी कर लिया जा चुका है। शुक्रवार के बाद देश में कुल 47 नए मामले सामने आए हैं।

चीन के वुहान प्रांत से शुरू हुए इस चीनी वायरस को लेकर तैयार की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन में हुई मौत के 80% मामले 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के थे। चीन में 81,008 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और करीब 3,255 लोगों की इस वायरस के चपेट में आने के बाद मौत हो चुकी है। चीन के बाद सबसे ज्याद प्रभावित इस वायरस ने इटली को किया है, जहाँ संक्रमण से होने वाली मौतों (अब तक 4,032) ने चीन को भी पीछे छोड़ दिया है।

भारत सरकार द्वारा जारी कोरोना वायरस से आधारित हर प्रकार की जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsजनता कर्फ्यू 22 मार्च, china coronavirus, wuhan covid 19, china wuhan, जगन्नाथ मंदिर, पुरी जगन्नाथ मंदिर, ओडिशा कोरोना, delhi corona, kejriwal corona, delhi lock down, kejriwal lock down, कोरोना से मौत, कोरोना मरीजों की संख्या, ऑल इंडिया सूफी उलेमा काउंसिल, ऑल इंडिया सूफी उलेमा काउंसिल जनता कर्फ्यू, west bengal, west bengal janta curfew, mamata banerjee janta curfew, west bengal corona virus, mamata banerjee corona virus, ममता बनर्जी जनता कर्फ्यू, बंगाल जनता कर्फ्यू, ममता बनर्जी कोरोना, बंगाल कोरोना, रमाकांत यादव सपा, रमाकांत यादव एफआईआर, रमाकांत यादव कोरोना, कोरोना इटली, इटली में फंसे भारतीय, जनता कर्फ्यू, janta curfew, नवरात्रि पर मोदी के नौ आग्रह, कोरोना बांग्लादेश, कोरोना ईरान, कोरोना भारतीय, कोरोना कर्नाटक, Covid-19, Coronavirus, coronavirus india, coronavirus news, coronavirus symptoms, coronavirus update, कोरोना वायरस, कोरोना वायरस इंडिया, इंडिया ट्रैवल बैन, इंडिया वीजा, कोरोना से मौत, कोरोना से भारत में पहली मौत, corona disater,Covid 19 disater, corona update, कोरोना वायरस अपडेट, कोरोना सार्क, कोरोना मोदी, Coronavirus SAARC, Corona कांग्रेस, कोरोना कांग्रेस, Corona राहुल गांधी, Corona आनंद शर्मा, कोरोना राहुल गांधी, कोरोना आनंद शर्मा, कोरोना से मौत, कोरोना के मरीज, कोरोना दवा, कोरोना टीका, कोरोना इलाज, कोरोना ट्रंप, कोरोना अमेरिका
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बंगाल में हम बहुसंख्यक, क्योंकि आदिवासी और दलित हिन्दू नहीं होते’: मौलाना अब्बास सिद्दीकी और ओवैसी साथ लड़ेंगे चुनाव

बड़ी मुस्लिम जनसंख्या वाले जिलों मुर्शिदाबाद (67%), मालदा (52%) और नॉर्थ दिनाजपुर में असदुद्दीन ओवैसी को बड़ा समर्थन मिल रहा है।

‘हमारी माँगटीका में चमक रही हैं स्वरा भास्कर’: यूजर्स बोले- आम्रपाली ज्वेलर्स से अब कभी कुछ नहीं खरीदेंगे

स्वरा भास्कर को ब्रांड एम्बेसडर बनाने के बाद आम्रपाली ज्वेलर्स को सोशल मीडिया में यूजर्स का कड़ा विरोध झेलना पड़ा है।

कोरोना संक्रमण पर लगातार चेताते रहे, लेकिन दिल्ली सरकार ने कदम नहीं उठाए: सुप्रीम कोर्ट से केंद्र

दिल्ली में कोरोना क्यों बना काल? सुप्रीम कोर्ट को केंद्र सरकार ने बताया है कि रोकथाम के लिए केजरीवाल सरकार ने प्रभावी कदम नहीं उठाए।

क्या घुसपैठ करने वाले रोहिंग्या मुसलमानों को RAW में बहाल करने जा रही है भारत सरकार?

एक वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है कि सरकार रोहिंग्या मुसलमानों को रॉ में बहाल करने जा रही है। जानिए, क्या है इस दावे की सच्चाई?

‘नॉटी, दो टके के लोग’: कंगना पर फट पड़ीं मुंबई की मेयर, ऑफिस तोड़ने पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने लगाई थी फटकार

मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कंगना रनौत के लिए 'नॉटी' का इस्तेमाल किया है। शिवसेना सांसद संजय राउत के लिए इस शब्द का अर्थ 'हरामखोर' है।

जहाँ ममता बनर्जी ने खोदी थी वामपंथ की कब्र, वहीं उनकी सियासत को दफनाने की तैयारी में शुभेंदु अधिकारी

सिंगूर और नंदीग्राम के आंदोलन से ममता बनर्जी को सत्ता मिली। अब नंदीग्राम के शुभेंदु अधिकारी के बागी तेवरों ने उन्हें मुश्किल में डाल दिया है।

प्रचलित ख़बरें

मैं नपुंसक नहीं.. हिंदुत्व का मतलब पूजा-पाठ या मंदिर का घंटा बजाना नहीं, फ़ोर्स किया तो हाथ धोकर पीछे पड़ जाऊँगा: उद्धव ठाकरे

साक्षत्कार में उद्धव ठाकरे ने कहा कि उन्हें विरोधियों के पीछे पड़ने को मजबूर ना किया जाए। इसके साथ ही ठाकरे ने कहा कि हिंदुत्व का मतलब मंदिर का घंटा बजाना नहीं है।

‘उसे मत मारो, वही तो सबूत है’: हिंदुओं संजय गोविलकर का एहसान मानो वरना 26/11 तुम्हारे सिर डाला जाता

जब कसाब ने तुकाराम को गोलियों से छलनी कर दिया तो साथी पुलिसकर्मी आवेश में आ गए। वे कसाब को मार गिराना चाहते थे। लेकिन, इंस्पेक्टर गोविलकर ने ऐसा नहीं करने की सलाह दी। यदि गोविलकर ने उस दिन ऐसा नहीं किया होता तो दुनिया कसाब को समीर चौधरी के नाम से जानती।

‘कबीर असली अल्लाह, रामपाल अंतिम पैगंबर और मुस्लिम असल इस्लाम से अनजान’: फॉलोवरों के अजीब दावों से पटा सोशल मीडिया

साल 2006 में रामपाल के भक्तों और पुलिसकर्मियों के बीच हिंसक झड़प हुई थी जिसमें 5 महिलाओं और 1 बच्चे की मृत्यु हुई थी और लगभग 200 लोग घायल हुए थे। इसके बाद नवंबर 2014 में उसे गिरफ्तार किया गया था।

ये कौन से किसान हैं जो कह रहे ‘इंदिरा को ठोका, मोदी को भी ठोक देंगे’, मिले खालिस्तानी समर्थन के प्रमाण

मीटिंग 3 दिसंबर को तय की गई है और हम तब तक यहीं पर रहने वाले हैं। अगर उस मीटिंग में कुछ हल नहीं निकला तो बैरिकेड तो क्या हम तो इनको (शासन प्रशासन) ऐसे ही मिटा देंगे।

दिल्ली के बेगमपुर में शिवशक्ति मंदिर में दर्जनों मूर्तियों का सिर कलम, लोगों ने कहते सुना- ‘सिर काट दिया, सिर काट दिया’

"शिव शक्ति मंदिर में लगभग दर्जन भर देवी-देवताओं का सर कलम करने वाले विधर्मी दुष्ट का दूसरे दिन भी कोई अता-पता नहीं। हिंदुओं की सहिष्णुता की कृपया और परीक्षा ना लें।”

’26/11 RSS की साजिश’: जानें कैसे कॉन्ग्रेस के चहेते पत्रकार ने PAK को क्लिन चिट देकर हमले का आरोप मढ़ा था भारतीय सेना पर

साल 2007 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अजीज़ को उसके उर्दू भाषा अखबार रोजनामा राष्ट्रीय सहारा के लिए उत्कृष्ट अवार्ड दिया था। कॉन्ग्रेस में अजीज़ को सेकुलरिज्म का चमचमाता प्रतीक माना जाता था।

‘बंगाल में हम बहुसंख्यक, क्योंकि आदिवासी और दलित हिन्दू नहीं होते’: मौलाना अब्बास सिद्दीकी और ओवैसी साथ लड़ेंगे चुनाव

बड़ी मुस्लिम जनसंख्या वाले जिलों मुर्शिदाबाद (67%), मालदा (52%) और नॉर्थ दिनाजपुर में असदुद्दीन ओवैसी को बड़ा समर्थन मिल रहा है।

‘हमारी माँगटीका में चमक रही हैं स्वरा भास्कर’: यूजर्स बोले- आम्रपाली ज्वेलर्स से अब कभी कुछ नहीं खरीदेंगे

स्वरा भास्कर को ब्रांड एम्बेसडर बनाने के बाद आम्रपाली ज्वेलर्स को सोशल मीडिया में यूजर्स का कड़ा विरोध झेलना पड़ा है।

उमेश बन सलमान ने मंदिर में रचाई शादी, अब धर्मांतरण के लिए कर रहा प्रताड़ित: पीड़िता ने बताया- कमलनाथ राज में नहीं हुई कार्रवाई

सलमान पिछले कई हफ़्तों से उसे धर्म परिवर्तन करने के लिए न सिर्फ प्रताड़ित कर रहा है, बल्कि उसने बच्चे को भी जान से मार डालने की कोशिश की।

कोरोना संक्रमण पर लगातार चेताते रहे, लेकिन दिल्ली सरकार ने कदम नहीं उठाए: सुप्रीम कोर्ट से केंद्र

दिल्ली में कोरोना क्यों बना काल? सुप्रीम कोर्ट को केंद्र सरकार ने बताया है कि रोकथाम के लिए केजरीवाल सरकार ने प्रभावी कदम नहीं उठाए।

क्या घुसपैठ करने वाले रोहिंग्या मुसलमानों को RAW में बहाल करने जा रही है भारत सरकार?

एक वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है कि सरकार रोहिंग्या मुसलमानों को रॉ में बहाल करने जा रही है। जानिए, क्या है इस दावे की सच्चाई?

‘नॉटी, दो टके के लोग’: कंगना पर फट पड़ीं मुंबई की मेयर, ऑफिस तोड़ने पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने लगाई थी फटकार

मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कंगना रनौत के लिए 'नॉटी' का इस्तेमाल किया है। शिवसेना सांसद संजय राउत के लिए इस शब्द का अर्थ 'हरामखोर' है।

गाजीपुर में सड़क पर पड़े मिले गायों के कटे सिर: लोगों का आरोप- पहले डेयरी फार्म से गायब होती हैं गायें, फिर काट कर...

गाजीपुर की सड़कों पर गायों के कटे हुए सिर मिलने के बाद स्थानीय लोग काफी गुस्से में हैं। उन्होंने पुलिस पर मिलीभगत का आरोप लगाया है।

बंगाल: ममता के MLA मिहिर गोस्वामी बीजेपी में शामिल, शनिवार को शुभेंदु अधिकारी के आने की अटकलें

TMC के असंतुष्ट विधायक मिहिर गोस्वामी बीजेपी में शामिल हो गए हैं। शुभेंदु अधिकारी के भी शनिवार को बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही है।

जहाँ ममता बनर्जी ने खोदी थी वामपंथ की कब्र, वहीं उनकी सियासत को दफनाने की तैयारी में शुभेंदु अधिकारी

सिंगूर और नंदीग्राम के आंदोलन से ममता बनर्जी को सत्ता मिली। अब नंदीग्राम के शुभेंदु अधिकारी के बागी तेवरों ने उन्हें मुश्किल में डाल दिया है।

गरीब कल्याण रोजगार अभियान: प्रवासी श्रमिकों को रोजगार देने में UP की योगी सरकार सबसे आगे

प्रवासी श्रमिकों को काम मुहैया कराने के लिए केंद्र सरकार ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान शुरू किया था। उत्तर प्रदेश ने उल्लेखनीय प्रदर्शन किया है।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,428FollowersFollow
358,000SubscribersSubscribe