Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजईरान से लाए गए 277 और भारतीय, जोधपुर मिलिट्री स्टेशन के आइसोलेशन वार्ड में...

ईरान से लाए गए 277 और भारतीय, जोधपुर मिलिट्री स्टेशन के आइसोलेशन वार्ड में रहेंगे 14-28 दिन

एयर इंडिया के 2 विमान आज सुबह करीब 6.30 बजे जोधपुर एयरपोर्ट पर उतरे। इन दोनों विमानों में 277 भारतीयों को लाया गया। यहाँ से जाँच-पड़ताल करने के बाद उन्हें आर्मी इलाके में बनाए गए वेलनेस सेंटर में ले जाया गया। इस वेलनेस सेंटर में 500 बेड की व्यवस्था है। यहाँ इन्हें 14 से 28 दिन तक रखा जाएगा।

भारत में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच ईरान से लौटा भारतीयों का नया जत्था जोधपुर उतरा है। इस दल में 277 लोग शामिल हैं। भारत सरकार की पहल पर इन्हें विशेष विमान से यहाँ लाया गया गया है। अब अगले 14 दिन ये लोग आइसोलेशन में रखे जाएँगे। इन सभी लोगों ने वतन वापसी पर विदेश मंत्री एस जयशंकर का आभार जताया है। इससे पहले 15 मार्च को ईरान से 234 भारतीयों का जत्था आया था, जिसकी सूचना खुद विदेश मंत्री ने दी थी। साथ ही ईरान में भारतीय राजदूत और वहाँ के अधिकारियों को धन्यवाद दिया था। इस वायरस के संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित देशों में ईरान भी शामिल है।

जानकारी के अनुसार, एयर इंडिया के 2 विमान आज सुबह करीब 6.30 बजे जोधपुर एयरपोर्ट पर उतरे। इन दोनों विमानों में 277 भारतीयों को लाया गया। यहाँ से जाँच-पड़ताल करने के बाद उन्हें आर्मी इलाके में बनाए गए वेलनेस सेंटर ले जाया गया। इस वेलनेस सेंटर में 500 बेड की व्यवस्था है। यहाँ इन्हें 14 से 28 दिन तक रखा जाएगा। ईरान से जोधपुर लाए गए भारतीयों की यह पहली खेप है। इससे पहले ईरान से भारतीयों को एयरलिफ्ट कर जोधपुर संभाग के ही जैसलमेर लाया गया था। पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित जैसलमेर में भी आर्मी की तरफ से वेलनेस सेंटर बनाया गया है। वहाँ भी ईरान से लाए गए सैकड़ों भारतीयों को रखा गया है।

बता दें, एक ओर जहाँ भारत सरकार विदेश में फँसे अपने लोगों को इस संकट की घड़ी में भी घरवापसी करवा रही है। वहीं बड़ी तादाद में लौटे लोगों की संख्या को देखकर राज्य सरकार की चिंता बढ़ती जा रही है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पिछले 1 महीने में पंजाब में 90,000 लोग अपने वतन लौटे हैं। ऐसे में अब सरकार इन सभी की जाँच करना चाहती है। इसके लिए प्रदेश सरकार ने केंद्र से 150 करोड़ रुपए का स्पेशल पैकेज माँगा है। बता दें, इनमें से कई लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने की आशंका जताई जा रही है। ये बात खुद राज्य के मंत्री बलबीर सिंह सिंधू ने कही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पंजाब के 22 जिलों में पहले ही कर्फ्यू लगा हुआ है। इसके अलावा राज्य के मंत्री बलबीर सिंह संधू ने इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन को चिट्ठी लिखी है और केंद्र से 150 करोड़ रुपए की मदद के साथ ही माँग की है। उन्होंने चिट्ठी में कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो उन्हें सेना से भी हेल्प की अपील करनी होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -