Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजकेरल में RSS कार्यकर्ता की दिन-दहाड़े हत्या केस में एक और गिरफ्तारी, 6 अभी...

केरल में RSS कार्यकर्ता की दिन-दहाड़े हत्या केस में एक और गिरफ्तारी, 6 अभी भी फरार: परिजनों ने कहा- पुलिस कर रही लापरवाही, NIA करे जाँच

15 नवंबर को केरल के एलाप्पल्ली के रहने वाले RSS कार्यकर्ता ए संजीत की सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के गुंडों ने हत्या कर दी थी। घटना पलक्कड़ जिले के एलापल्ली में सुबह साढ़े नौ बजे हुई।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कार्यकर्ता ए संजीत की निर्मम हत्या के मामले में केरल पुलिस ने हाल ही में PFI के एक पदाधिकारी को गिरफ्तार किया था। अब इस मामले में एक अन्य आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। इसके पहले, मृतक के परिवार वालों ने इस हत्याकांड की जाँच में देरी पर नाराजगी जताई थी और अब मामले की जाँच NIA से कराने की माँग की है।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट के मुताबिक, संजीत के परिजनों ने आरोप लगाया कि बेरहमी से की गई इस हत्या को अंजाम देने में 8 आरोपित शामिल थे, लेकिन अभी तक केवल दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस संगीन अपराध को अंजाम देने वाले 6 आरोपित अभी भी फरार हैं। इस क्राइम में 3 लोग सीधे तौर पर शामिल थे, जबकि बाकी के 5 लोगों ने फंडिंग और हथियारों की सप्लाई की थी।

संजीत के भाई सरत ने आरोप लगाया, “हम सिर्फ यही कह सकते हैं कि पुलिस सही तरीके से जाँच नहीं कर रही है। वो केवल इस घटना में शामिल लोगों पर ही कार्रवाई कर रही है, जबकि बाकी लोगों से पूछताछ नहीं कर रही है। कोई भी घटना हो, यहाँ के लोगों की जानकारी के बिना कभी नहीं हो सकती।”

उन्होंने आगे कहा, “ये लोग बाहरी लोग हैं या कोई और, हमें इसकी जानकारी नहीं है। 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है सिवाय कोई अपडेट नहीं है। 1.5 साल पहले संजीत के सामने उसके साथ एक घटना घटी थी। इसके बाद 2-3 बार संजीत पर भी हमला हुआ। 1.5 साल पहले उसके हाथ में चोट लग गई थी।” बहरहाल, पीड़ित परिवार ने इस मामले में राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) से जाँच कराने की माँग की है।

RSS कार्यकर्ता ए संजीत की बेरहमी से हत्या

15 नवंबर को केरल के एलाप्पल्ली के रहने वाले RSS कार्यकर्ता ए संजीत की सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के गुंडों ने हत्या कर दी थी। घटना पलक्कड़ जिले के एलापल्ली में सुबह साढ़े नौ बजे हुई। संजीत सोमवार (नवंबर 15, 2021) की सुबह करीब 9 बजे अपनी पत्नी के साथ बाइक पर कहीं जाने के लिए बाहर निकले थे, तभी उन पर हमला हुआ। हमलावर एक कार में आए थे।

आरोपितों ने पहले संजीत की बाइक रुकवाई और उनकी पत्नी के सामने ही उन पर हमले कर दिए। गंभीर रूप से घायल अवस्था में संजीत को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। 18 नवंबर को पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गई खून से सनी तलवारों को बरामद किया था। इसके बाद 22 नवंबर को पुलिस ने मामले में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के एक पदाधिकारी को गिरफ्तार किया था। हालाँकि, पुलिस ने उसकी पहचान जाहिर नहीं की है, लेकिन जिला पुलिस प्रमुख आर विश्वनाथ ने पलक्कड़ में मीडियाकर्मियों को बताया कि PFI का गिरफ्तार सदस्य सीधे तौर पर हत्या में शामिल था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -