Monday, August 15, 2022
Homeदेश-समाजRSS वर्कर की हत्या में PFI का सदस्य गिरफ्तार, केरल पुलिस ने अब तक...

RSS वर्कर की हत्या में PFI का सदस्य गिरफ्तार, केरल पुलिस ने अब तक पहचान का नहीं किया है खुलासा

केरल के पलक्कड़ में 15 नवंबर को आरएसएस कार्यकर्ता ए संजीत की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। संजीत पत्नी के साथ बाइक से जा रहे थे। तभी गुंडों ने उन पर धारदार हथियार से हमला कर दिया।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के कार्यकर्ता ए संजीत की हत्या के मामले में केरल पुलिस ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। उसे सोमवार (22 नवंबर 2021) को पलक्कड़ जिले के मंबरम से पकड़ा गया। हालाँकि, पुलिस ने अभी तक उसकी पहचान का खुलासा नहीं किया है।

जिला पुलिस प्रमुख आर विश्वनाथ ने पलक्कड़ में मीडियाकर्मियों को बताया कि पीएफआई का गिरफ्तार सदस्य सीधे तौर पर हत्या में शामिल था। उसकी पहचान गुप्त रखी गई है, क्योंकि अभी जाँच के एक हिस्से के रूप में शिनाख्त परेड किया जाना बाकी है। अन्य दोषियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इससे पहले, दिवंगत संजीत की पत्नी ने कहा था कि वह उन लोगों की पहचान कर सकती है, जिन्होंने 15 नवंबर को उसी के सामने उसके 27 वर्षीय पति की हत्या कर दी थी। कथित तौर पर, पुलिस ने सोमवार को जाँच के दौरान तीन लोगों को हिरासत में लिया था।

आरएसएस और बीजेपी ने आरोप लगाया था कि संजीत की दिनदहाड़े हत्या के पीछे इस्लामिक संगठन पीएफआई की राजनीतिक शाखा सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के सदस्यों का हाथ है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने इस मामले को लेकर नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। उन्होंने उनसे संजीत की हत्या की जाँच राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) से कराने की माँग की थी।

अमित शाह को लिखे पत्र में सुरेंद्रन ने कहा था कि राज्य में 50 आरएसएस-भाजपा कार्यकर्ताओं को इस्लामवादियों ने मार डाला है, जिनमें से दस पिछले पाँच वर्षों में मारे गए हैं। वहीं, एसडीपीआई ने सभी आरोपों को गलत बताया था।

केरल में आरएसएस कार्यकर्ता संजीत की हत्या

केरल के पलक्कड़ में 15 नवंबर 2021 को आरएसएस कार्यकर्ता ए संजीत की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। हत्या का इल्जाम एसडीपीआई के बदमाशों पर लगा था। खबरों के मुताबिक, संजीत पत्नी के साथ बाइक से जा रहे थे। तभी गुंडों ने उन पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। संजीत की पत्नी ने रिपब्लिक वर्ल्ड से बातचीत में कहा था कि उनके पति को उनकी आँखों के सामने जानबूझकर मारा गया था। वो लोग चाहते थे वे इस हत्या को देखें। उन्होंने कहा था, “उन लोगों ने मुझे पकड़ा और पीछे ले गए। इसके बाद मेरे सामने उन्होंने उन पर तलवार से वार किया। उस समय बहुत सारे लोग वहाँ थे। कई कार, कई स्कूटर और स्कूल बस भी वहाँ थी। उन पाँचों का मुँह भी नहीं ढका था।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पता नहीं 9 सितंबर को क्या होगा’: ‘लाल सिंह चड्ढा’ का हाल देख कर सहमे करण जौहर, ‘ब्रह्मास्त्र’ के डायरेक्टर को अभी से दे...

क्या करण जौहर को रिलीज से पहले ही 'ब्रह्मास्त्र' के फ्लॉप होने का डर सता रहा है? निर्देशक अयान मुखर्जी के नाम उनके सन्देश से तो यही झलकता है।

‘उत्तराखंड में एक भी भ्रष्टाचारी नहीं बचेगा, 1064 नंबर पर करें शिकायत’: CM धामी ने पर्चा लीक का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को...

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने UKSSSC पेपर लीक मामले का खुलासा करने वाली उत्तराखंड STF की टीम को स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
214,085FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe