ओबेद अफरीदी नकली फिल्म प्रोड्यूसर बन मॉडल्स-लड़कियों के अश्लील फोटो मँगवाता था, गिरफ्तार

अफरीदी पंजाबी फिल्म प्रोड्यूसर गुनबीन सिंह सिद्धू के नाम का इस्तेमाल करके मॉडल्स से न्यूड व अश्लील फोटोज मँगवाता था। वो उन मॉडल्स को फिल्म इंडस्ट्री में सेटल करवाने का लालच देता था।

खुद को पंजाबी फिल्मों का प्रोड्यूसर बताकर लड़कियों को पंजाबी फिल्म में काम दिलाने के नाम पर उनकी फोटोज मँगवाकर उन्हें गलत तरीके से यूज करने वाले ओबेद अफरीदी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित अफरीदी पंजाबी फिल्म प्रोड्यूसर गुनबीन सिंह सिद्धू के नाम का इस्तेमाल करके मॉडल्स से न्यूड व अश्लील फोटोज मँगवाता था। वो उन मॉडल्स को फिल्म इंडस्ट्री में सेटल करवाने का लालच देता था। अफरीदी मूल रूप से दिल्ली का रहने वाला है।

जब प्रोड्यूसर गुनबीन को इसको भनक लगी तो उन्होंने पुलिस से इसकी शिकायत की। मोहाली थाना फेज-1 के एसएचओ लखविंदर सिंह ने बताया कि प्रोड्यूसर की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए आरोपित ओबेद अफरीदी को गिरफ्तार कर लिया है और उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 419, 420 और इन्फॉरमेशन टेक्नोलॉजी एक्ट की धारा 66 (सी) व 66 (डी) के तहत केस दर्ज किया गया है।

उन्होंने बताया कि आरोपित को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहाँ उसे एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। जानकारी के मुताबिक, आरोपित ओबेद भी इसी लाइन में है। वो फोटोग्राफर है और गुनबीन को अच्छी तरह से जानता है। इसी का फायदा उठाकर वो खुद को गुनबीन बताकर अलग-अलग वीआईपी नंबरों से मॉडल्स व लड़कियों को फोन कर उनसे मनमर्जी का काम करवाने की बात कहता था। 

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

गुनबीन पंजाबी फिल्म प्रोड्यूसर व व्हाइट हिल्स स्टूडियो कंपनी का मालिक है। उन्होंने बताया उन्हें पता चला कि उनके नाम का इस्तेमाल कर अलग-अलग फोन नंबरों से कोई शख्स लड़कियों को फोन कर रहा है। लड़कियों को परेशान करने के साथ-साथ उनका शोषण भी किया जा रहा है। कुछ जानकार लोगों ने उन्हें बताया और कुछ नंबर दिए जिनके जरिए उनका नाम इस्तेमाल करके लड़कियों से बात करके उसे गुमराह किया जा रहा था। इसके बाद पुलिस ने जाँच की, तो पता चला कि दिल्ली निवासी ओबेद अफरीदी उनके नाम का इस्तेमाल कर रहा था, जिसे मोहाली पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शरजील इमाम
“अब वक्त आ गया है कि हम गैर मुस्लिमों से बोलें कि अगर हमारे हमदर्द हो तो हमारी शर्तों पर आकर खड़े हो। अगर वो हमारी शर्तों पर खड़े नहीं होते तो वो हमारे हमदर्द नहीं हैं। असम को काटना हमारी जिम्मेदारी है। असम और इंडिया कटकर अलग हो जाए, तभी ये हमारी बात सुनेंगे।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,993फैंसलाइक करें
36,108फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: