Thursday, February 22, 2024
Homeदेश-समाज'धरने में भेजते थे शौहर, कहते थे खाना मिलेगा' - मुस्लिम महिला ने CAA-विरोधी...

‘धरने में भेजते थे शौहर, कहते थे खाना मिलेगा’ – मुस्लिम महिला ने CAA-विरोधी धरने का विडियो में खोला राज

"शौहर रोज जान खाते थे, इसलिए धरने पर जाती थी। खाने-पीने का लालच देकर धरने में भेजते थे। कहते थे, शाहजमाल में धरना चल रहा है, वहाँ चली जाओ। यहाँ भी इन्होंने ही भेजा था।"

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में अलीगढ़ में पुरानी चुंगी गेट के बाहर चल रहे धरने को हटवाने के बाद पुलिस ने सोमवार (मार्च 2, 2020) को उन इलाकों का दौरा किया, जहाँ से महिलाएँ धरने में आ रही थीं। इस दौरान उनको बड़ी सफलता भी मिली। धरने की पीछे की असलियत भी सामने आ गई कि आखिर धरने पर महिलाओं की भीड़ को किस तरह से जुटाया जाता था।

फिरदौस नगर में एक बुजुर्ग मुस्लिम महिला ने धरने की पोल खोल दी। महिला ने पुलिस को बताया कि उसके शौहर ही उसे खाने-पीने का लालच देकर धरने में भेजते थे। कहते थे, शाहजमाल में धरना चल रहा है, वहाँ चली जाओ। यहाँ भी इन्होंने ही भेजा था। पति रोज जान खाते थे, इसलिए धरने पर जाती थीं। महिला व पुलिस की बातचीत का वीडियो भी वायरल हुआ है।

पुलिस को खबर मिली कि इलाके में अफवाहें फैलाई जा रही है और महिलाओं को जबरन धरने पर भेजा जा रहा है। जिसके बाद पुलिस ने संबंधित इलाकों का दौरा किया और एक-एक घर में जाकर उन्हें समझाया कि वो किसी की बातों में न आएँ। इसी दौरान एक महिला ने धरने की पोल खोल दी।

सोमवार दोपहर सीओ फिरदौस नगर स्थित बुजुर्ग महिला के घर पहुँचे। सीओ ने महिला के पति से पूछा कि आपकी बीवी रोजाना धरने में शामिल हो जाती हैं। बुजुर्ग ने कहा कि साहब इतना समझाया, पर क्या करें। इसी बीच अंदर से भागती हुई बुजुर्ग महिला आ गई और पति की बात को काटते हुए बोली, “तुमने कहा था कि धरने में जाओ।”

सीओ से महिला ने कहा कि वो झूठ नहीं बोल रही हैं। उनके शौहर ही रोज धरने पर जाने के लिए बोलते थे। इस पर सीओ ने कहा कि अब मत जाना अम्मा हाथ जोड़ रहे हैं। इसके बाद सीओ ने महिला के शौहर को नोटिस देने की बात कही। सीओ ने बुजुर्ग महिला के बेटे को भी चेतावनी दी कि आप लोग वहाँ जाकर महिलाओं को भड़का रहे हो। आप और आपकी अम्मी दोबारा धरने में न आएँ।

बता दें कि 23 दिसंबर को ऊपरकोट पर हुए बवाल के बाद से एएमयू के पास पुरानी चुंगी गेट पर छात्र व आसपास क्षेत्र की महिलाएँ धरने पर बैठ गई थीं। सोमवार सुबह पुलिस ने यहाँ से महिलाओं को समझाकर हटाया और प्रदर्शनकारी दोबारा न जमें, इसलिए पुलिस ने वहाँ डेरा जमा लिया। यहाँ धरने देने वाले 15 लोगों के घरों पर नोटिस चस्पा किए गए हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अलवर में जहाँ कटती थी गाय उस मंडी को चलाता था वारिस, बना रखा था IPS का फर्जी कार्ड: रिपोर्ट में बताया- सप्लाई के...

मकानों को ध्वस्त किया गया है, बिजली के पोल गिरा कर ट्रांसफॉर्मर हटाए गए हैं और खेती भी नष्ट की गई है। खुद कलक्टर अर्पिता शुक्ला ने दौरा किया।

खनौरी बॉर्डर पर पुलिस वालों को घेरा, पराली में भारी मात्रा में मिर्च डाल कर लगा दी आग… किसानों ने लाठी-गँड़ासे किया हमला, जम...

किसानों द्वारा दाता सिंह-खनौरी बॉर्डर पर पुलिसकर्मियों को घेर कर पुलिस नाके के आसपास भारी मात्रा में मिर्च पाउडर डाल कर आग लगा दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe