Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजअब इंदौर में मुस्लिम युवती के साथ दिखने पर हिन्दू युवक को इस्लामी कट्टरपंथियों...

अब इंदौर में मुस्लिम युवती के साथ दिखने पर हिन्दू युवक को इस्लामी कट्टरपंथियों ने पीटा, बीच-बचाव करने आए 2 लोगों पर चाकू से हमला: 50 पर FIR, 6 गिरफ्तार

रेस्टोरेंट से खाना खा कर जैसे ही भावेश और नसरीन बाहर निकले उन्हें एक भीड़ ने रोक लिया। यह जमावड़ा पुलिस कंट्रोल रूम के आगे हुआ था। भीड़ में जमा लोग भावेश और नसरीन से नाम पूछने के बाद उग्र हो उठे।

मध्य प्रदेश के इंदौर में मुस्लिम लड़की के साथ रेस्टोरेंट में खाना खाने गए हिन्दू युवक पर हमले की खबर है। हमलावरों ने युवक को बचाने आए 2 अन्य लोगों को भी चाकू से निशाना बनाया है। हमलावरों ने मुस्लिम लड़की को भी सार्वजानिक तौर पर गैर इस्लामी और तमाम अन्य अपमानजनक बातें कहीं। पुलिस ने 50 लोगों पर केस दर्ज करते हुए अब तक 6 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। हमलावरों का सरगना मुजम्मिल बताया जा रहा है जो ड्रग्स सप्लायर भी है। घायलों की हालत खतरे से बाहर है। घटना गुरुवार (25 मई 2023) की है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मामले का संज्ञान लेते हुए प्रशासन को कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला इंदौर के छोटी तुकोगंज थानाक्षेत्र का है। यहाँ रात लगभग 11:30 पर 20 साल का भावेश नामक हिन्दू युवक नसरीह सुल्ताना नाम की मुस्लिम लड़की के साथ रेस्टोरेंट गया था। नसरीन इंदौर के ही न्याय नगर की रहने वाली है। रेस्टोरेंट से खाना खा कर जैसे ही भावेश और नसरीन बाहर निकले उन्हें एक भीड़ ने रोक लिया। यह जमावड़ा पुलिस कंट्रोल रूम के आगे हुआ था। भीड़ में जमा लोग भावेश और नसरीन से नाम पूछने के बाद उग्र हो उठे।

आरोप है कि इन सभी ने भावेश को गंदी-गंदी गालियाँ दीं और थप्पड़ मारे। नसरीन को भी गैर इस्लामी और तमाम अपमानजनक बातें कही गईं। लगभग 50 की संख्या में मौजूद यह भीड़ नसरीन के अब्बा से बात करने पर आमादा थी और उनका हिजाब खींच रही थी। जैसे-तैसे भावेश अपनी बाइक से इस भीड़ से बच कर आगे निकला तो कुछ ही दूरी पर रीगल तिराहे पर दोनों को कट्टरपंथियों द्वारा फिर रोक लिया गया। ये सभी भावेश और नसरीन का वीडियो भी बना रहे थे।

भीड़ में से एक ने इंग्लिश में कहा, “तुमने हिजाब पहना है लेकिन उसके नियम का पालन नहीं कर रही हो।” भीड़ द्वारा नसरीन की अम्मी से बात की गई तो उन्होंने अपनी बेटी के भावेश के साथ होने और खुद ही खाना खाने की अनुमति देने की बात स्वीकारी। हालाँकि इसके बाद भी भीड़ में मौजूद लोग अपनी हरकतों से बाज नहीं आए। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इस बीच भावेश को घिरा देख कर बगल से गुजर रहे हिमांशु पटेल, रोहित बड़के, चिराग जैन और यश जोशी नाम के युवकों ने इन दोनों को भीड़ से बचाया। इन चारों युवकों ने भीड़ को समझाने की कोशिश की और भावेश व नसरीन को एक रिक्शा में बिठा दिया। इस बात से नाराज हो कर हिंसक हो चुकी भीड़ से कुछ हमलावर निकल कर यश और हिमांशु को चाकू मारने लगे। फिलहाल यश और हिमांशु खतरे से बाहर हैं। पुलिस ने शोएब पुत्र मोहम्मद लतीफ निवासी उषागंज छावनी, शावेज लाला, आमिल लाला, मुजम्मिल, सैफ, छोटू उर्फ अरबाज और आवेज के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। सभी आरोपितों पर IPC की धारा 307, 323, 294, 506, 147, 148 व 149 के तहत कार्रवाई हुई है। पुलिस रिकार्ड में मुजम्मिल ड्रग्स तस्कर के तौर पर दर्ज है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -