Saturday, June 15, 2024
Homeदेश-समाजआजाद खान ने पहले करवा चौथ पर हिंदू बीवी को चाकू से गोदकर मौत...

आजाद खान ने पहले करवा चौथ पर हिंदू बीवी को चाकू से गोदकर मौत के घाट उतारा, परिवार की मर्जी के खिलाफ कीर्ति ने किया था प्रेम विवाह

कीर्ति ने अपने परिवार की मर्जी के खिलाफ आजाद से कोर्ट में प्रेम विवाह किया था। कीर्ति एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती थी। यहीं उसकी मुलाकात आजाद से हुई थी। दोनों में प्यार हुआ और इन्होंने प्रेम विवाह कर लिया। 

उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में बीवी की हत्या करने के आरोप में 25 वर्षीय मोहम्मद आजाद खान को गिरफ्तार किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आजाद खान ने 14 अक्टूबर को कीर्ति नाम की 19 वर्षीया हिंदू महिला से निकाह किया था। इसके कुछ दिनों बाद ही यानी 23 अक्टूबर को आजाद ने उसे कई बार चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी। आरोपित हत्या करने के बाद फरार हो गया था, लेकिन उत्तरी जिला पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए हत्यारे शौहर को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपित आजाद खान टेंपो चालक है और वह बुराड़ी में अपनी बीवी कीर्ति के साथ रहता था। डिप्टी पुलिस कमिश्नर (नॉर्थ) सागर सिंह कलसी ने कहा कि उन्हें शनिवार सुबह 9.50 बजे एक पीसीआर कॉल मिली। फोन करने वाले ने उन्हें बुराड़ी के पश्चिमी कमल विहार में एक घर के अंदर शव पड़े होने की जानकारी दी थी। मौके पर पहुँची पुलिस टीम ने शव को बरामद कर लिया है। अधिकारी ने कहा, “मृतक की माँ ने अपने दामाद पर शक जताया, जिसके बाद हत्या का मामला दर्ज किया गया था।”

आरोपित को पकड़ने के लिए आठ टीमें बनाई गई थीं। पुलिस के मुताबिक, आजाद की 22-23 अक्टूबर की रात को अपनी बीवी के साथ किसी बात को लेकर बहस हो गई थी, जिसके बाद गुस्से में आकर उसने कीर्ति के पेट और छाती में चाकू से कई बार वार किए थे। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, इसके बाद वह छत की ओर भागा और चाकू वहीं छोड़ दिया।

बता दें कि कीर्ति ने अपने परिवार की मर्जी के खिलाफ आजाद से कोर्ट में प्रेम विवाह किया था। कीर्ति एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती थी। यहीं उसकी मुलाकात आजाद से हुई थी। दोनों में प्यार हुआ और इन्होंने प्रेम विवाह कर लिया। जिस मकान में कीर्ति की हत्या हुई थी, उसकी छत से ही वारदात में इस्तेमाल किया गया चाकू बरामद कर लिया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली-NCR में इस साल आग का कहर, नोएडा-गाजियाबाद में भी तबाही: अकेले राजधानी में हर दिन 200 कॉल, कैसे बदलेंगे हालात?

दिल्ली-एनसीआर में आगजनी की घटनाओं में तेजी आई है। कई मामलों में भारी नुकसान उठाना पड़ा है। बड़ी संख्या में लोगों की जान भी जा चुकी है।

‘अभिव्यक्ति की आज़ादी के बहाने झूठ फैला कर किसी को बदनाम नहीं कर सकते’: दिल्ली हाईकोर्ट से कॉन्ग्रेस नेताओं को झटका, कहा – हटाओ...

कोर्ट ने टीवी डिबेट का फुटेज देख कर कहा कि प्रारंभिक रूप से लगता है कि रजत शर्मा ने किसी गाली का इस्तेमाल नहीं किया। तीनों कॉन्ग्रेस नेताओं ने फैलाया झूठ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -