Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजबदायूँ गैंगरेप: आधी रात को गिरफ्तार हुआ मुख्य आरोपित, 4 दिन तक छिपाए रखने...

बदायूँ गैंगरेप: आधी रात को गिरफ्तार हुआ मुख्य आरोपित, 4 दिन तक छिपाए रखने वाला भी चढ़ा यूपी पुलिस के हाथ

गुरुवार रात पुलिस को पता चला कि वह किसी सहयोगी के घर में छिपा है। रात करीब 11 बजे दबिश देकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसे शरण देने वाले युवक को भी पुलिस पकड़कर थाने ले आई है। अब मुख्य आरोपित से पूछताछ में दरिंदगी की इस जघन्य घटना से जुड़े कुछ और तथ्य सामने आ सकते हैं।

उत्तर प्रदेश के बदायूँ जिले में गैंगरेप और जघन्य हत्या के मामले में मुख्य आरोपित 50 हजार के इनामी सत्य नारायण को पुलिस ने आखिरकार गुरुवार (जनवरी 7, 2021) रात को गिरफ्तार कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सत्यनारायण घटना वाले दिन से गाँव में ही छिपा हुआ था। इसके आलावा यूपी पुलिस दो आरोपितों जसपाल और वेदराम को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

गौरतलब है कि 3 जनवरी की रात आँगनबाड़ी सहायिका से गैंगरेप और हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद से ही मुख्य आरोपित सत्यनारायण फरार चल रहा था। सत्यनारायण की तलाश में पुलिस की चार टीमें लगी हुई थी। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम जगह-जगह लगातार उसकी तलाश कर रही थी। यहाँ तक कि उसकी तलाश में पुलिस टीमें उत्तराखंड, बरेली, चंदौसी, कासगंज में दबिश दे रही थीं, जबकि वह उसी गाँव में छिपा रहा।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार रात पुलिस को पता चला कि वह किसी सहयोगी के घर में छिपा है। रात करीब 11 बजे दबिश देकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसे शरण देने वाले युवक को भी पुलिस पकड़कर थाने ले आई है। अब सत्यनारायण से पूछताछ में दरिंदगी की इस जघन्य घटना से जुड़े कुछ और तथ्य सामने आ सकते हैं।

इस बिच कई मीडिया रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि गैंगरेप के बाद हत्या के मुख्य आरोपित सत्यनारायण को ग्रामीणों द्वारा पकड़ कर पुलिस को सौंपने की चर्चा भी है। मुख्य आरोपित सत्यनारायण की गिरफ्तारी के दौरान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें पुलिस के दो कॉन्स्टेबल महंत सत्यनारायण को बाइक पर बैठाकर ले जाते हुए दिख रहे हैं। संभवतः इसी को देखकर अंदाजा लगाया जा रहा है कि महंत सत्यनारायण को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस को सौंपा है।

गौरतलब है कि बदायूँ गैंगरेप मामले में, महिला के साथ आरोपितों केवल गैंगरेप ही नहीं किया गया बल्कि उसके प्राइवेट पार्ट में रॉड डाली गई और उसके भीतर के अंगों (आंँतों) को भी फाड़ दिया गया था। दुष्कर्म के दौरान महिला का एक पैर और पसली भी तोड़ी गई थी। जाँच में यह पता चला कि महिला के शरीर से सारा खून बह जाने के कारण उसकी मौत हुई थी।

रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि शव का पोस्टमार्टम करते हुए स्वयं तीन महिला डॉक्टरों का पैनल हैरान हो गया था। जाँच में उन्होंने पाया कि वारदात को अंजाम देने वाले आरोपितों ने पहले महिला के प्राइवेट पार्ट में रॉड घुसाई और जब खून तेजी से बहने लगा तो उसे रोकने के लिए उन्होंने गुप्तांग में कपड़े व रुई घुसा दी। घटनास्थल पर महिला के सारे कपड़े खून से सने मिले थे।

बता दें कि बदायूँ में महिला के साथ गैंगरेप के बाद हत्या के मामले में योगी सरकार तुरंत ही एक्शन में आ गई थी। मामले के मुख्य आरोपित को पकड़ने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने STF को आदेश दिया था। साथ ही घटना का संज्ञान लेते हुए इस संबंध में ADG से रिपोर्ट माँगी थी। सीएम योगी ने आरोपितों पर NSA के तहत कार्रवाई का भी आदेश दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंदिर से माथे पर तिलक लगाकर स्कूल जाता था छात्र, टीचर निशात बेगम ने बाहरी लड़कों से पिटवाया: वीडियो में बच्चे ने बताई पूरी...

टीचर निशात बेगम का कहना है कि ये सब छात्रों के आपसी झगड़े में हुआ। पीड़ित छात्र को बाहरी लड़कों ने पीटा है। अब उसके परिजन कार्रवाई की माँग कर रहे हैं।

सोहा ने कब्र पर किया अब्बू को याद: भड़के कट्टरपंथियों ने इस्लाम से किया बाहर, कहा- ‘शादियाँ हिंदुओं से, बुतों की पूजा, फिर कैसे...

कुणाल खेमू से शादी करने वाली सोहा अली खान हाल में अपने अब्बू की कब्र पर अपनी माँ शर्मिला टैगोर और बेटी इनाया के साथ पहुँचीं। लेकिन कट्टरपंथी यह देख भड़क गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,766FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe