Tuesday, November 29, 2022
Homeदेश-समाजअम्मा को मिली आँखें, सीमा को मिला नया जीवन: सरकार की वो योजना, जिसने...

अम्मा को मिली आँखें, सीमा को मिला नया जीवन: सरकार की वो योजना, जिसने बदली दी ज़िंदगियाँ

'आयुष्मान भारत योजना' की वजह से ही पूरण कौर आज ढंग से देख पा रही हैं। वो भी बिना किसी ख़र्चे के। आइए जानते हैं उनकी कहानी, उन्हीं की जुबानी।

पूरण कौर हरियाणा की रहने वाली महिला हैं। गरीब हैं। पति भी मेहनत-मजदूरी करने वाले हैं। लेकिन आमदनी इतनी ही कि घर चल जाता है किसी तरह से। सीमित आय के इस परिवार में किसी को सर्जरी/ऑपरेशन की जरूरत पड़ जाए तो सोचिए कहाँ जाएगा परिवार! पूरण कौर के साथ भी ऐसा ही हुआ। लेकिन उन्हें दिक्कत नहीं हुई। कारण है ‘आयुष्मान भारत योजना’।

‘आयुष्मान भारत योजना’ की वजह से ही पूरण कौर आज ढंग से देख पा रही हैं। वो भी बिना किसी ख़र्चे के। आइए जानते हैं उनकी कहानी, उन्हीं की जुबानी।

वीडियो में आप सुन सकते हैं कि कैसे एक परिवार अपनी आपबीती बता रहा है। वो बता रहा है कि कैसे ‘आयुष्मान भारत योजना’ से उसकी जिंदगी बदल गई। वीडियो से यह भी स्पष्ट है कि आम आदमी को दलगत राजनीति से कोई मतलब नहीं है। और यह भी कि कैसे मोदी सरकार की योजनाओं से आम आदमी को लाभ हुआ है जबकि कॉन्ग्रेस ने वादों के अलावा कुछ नहीं किया।

अब कहानी सीमा की। यह बिहार से हैं। प्रेगनेंसी में दर्द से कराह रही सीमा को गहने बेचने की नौबत आ गई थी क्योंकि पति के पास पर्याप्त पैसे नहीं थे। यहाँ भी ‘आयुष्मान भारत योजना’ ने अपना काम किया। सीमा का मुफ़्त में इलाज़ हुआ और उसने एक नया जीवन दिया।

यह दोनों उदाहरण उस प्रचलित कहावत के मिथक को तोड़ता है कि केंद्र से चला एक रुपया गरीब तक पहुँचते-पहुँचते 10 पैसा रह जाता है। आम आदमी के हितों और उसके कल्याण के लिए चलाई जा रही ‘आयुष्मान भारत’ जैसी केंद्रीय योजनाएँ न सिर्फ चलाई जा रही है, बल्कि आम आदमी तक पहुँचाई भी जा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘किसी ने नहीं फेंके पत्थर, शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई रैली’: अरविंद केजरीवाल ने झूठ बोल कर सूरत को किया बदनाम? पुलिस ने बताया...

सूरत में अरविंद केजरीवाल की रैली के दौरान पथराव की खबरों का खंडन करते हुए डीसीपी पिनाकिन परमार ने इसे अफवाह बताया। AAP ने बोला झूठ?

‘तुम्हें शर्म आनी चाहिए, आज भी कश्मीर के घाव झेल रहा भारत’: कश्मीर फाइल्स को प्रोपेगंडा बताने वाले IFFI जूरी हेड को इजरायल के...

"भारतीय मित्रों ने भारत में इजरायल के प्रति प्रेम दिखाने के लिए हमें बुलाया था। इसी वजह से उन्होंने आपको एक इजरायली के तौर पर आमंत्रित किया।''

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,998FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe