Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाज12 साल पहले असलम की बीवी से शाहरुख को हुआ प्यार, मोहसिन संग मिल...

12 साल पहले असलम की बीवी से शाहरुख को हुआ प्यार, मोहसिन संग मिल कर दी हत्या

आरोपितों ने असलम को काम के बहाने बुलाया। उसे भांग वाला पान खिलाया। नशा आने के बाद दोनों असलम को सुनसान जगह पर ले गए। वहाँ पहले गला घोंटा और फिर चाकू घोंप कर हत्या कर दी।

मध्यप्रदेश में भोपाल के गाँधीनगर इलाके में 27 जनवरी की रात हुई असलम नामक ऑटो चालक की नृशंस हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली। आरोपितों की पहचान शाहरुख और महोसिन के तौर पर हुई है। असलम की बीवी से शाहरुख एकतरफा प्यार करता था। उसे हासिल करने के लिए ही उसने हत्या की साजिश रची थी।

नई दुनिया में प्रकाशित खबर

नई दुनिया की खबर के अनुसार, पुलिस ने असलम के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल जाँची और संदेह के आधार पर उसके परिचित शाहरुख और मोहसिन उर्फ छोटू को हिरासत में लिया। सीएसपी लोकेश सिन्हा के अनुसार सख्ती से पूछताछ के बाद दोनों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। शाहरुख ने बताया कि वह करीब 12 साल पहले असलम के पड़ोस में रहता था, तभी से असलम की पत्नी से एकतरफा प्रेम करने लगा था। असलम के रहते वह उसे कभी हासिल नहीं हो सकती थी। इसके लिए उसने असलम को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। साजिश में उसने मोहसिन को भी शामिल कर लिया।

साजिश के तहत आरोपितों ने असलम को पहले सामान शिफ्ट करवाने के बहाने करोंद चौराहे पर बुलाया। असलम ऑटो लेकर वहाँ पहुँचा तो शाहरुख़ उसमें बैठ गया। मोहसिन अपनी बाइक से उनके आगे चलने लगा। रास्ते में असलम को भांग वाला पान खिलाया गया और अब्बास नगर चलने को बुलाया। थोड़ी देर बाद असलम जब नशा चढ़ा तो दोनों उसे लेकर महावीर अस्पताल के पास एक सुनसान जगह पर चले गए। वहाँ पहले असलम का गला घोंटा और फिर चाकू घोंप उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उसे गड्ढे में डालकर फरार हो गए।

अम्मी का मर्डर कर पूरी रात लाश के साथ सोया सोहेल, सुबह गहने बेच गर्लफ्रेंड के लिए खरीदी चूड़ियाँ

आगरा में हिंदू परिवार घर बेचने पर मजबूर: मर्डर केस वापस लेने का दबाव, बहू-बेटियों की इज्जत से खिलवाड़

सब-इंस्पेक्टर के मर्डर से ज्यादा बड़ी प्लानिंग थी आतंकी शमीम और तौफिक की, NIA करेगी अब केस की जाँच!

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -