Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजगजब बिहार, अजब मामला! पुलिस ने पहले मजदूरी में दी दारू, फिर शराबबंदी में...

गजब बिहार, अजब मामला! पुलिस ने पहले मजदूरी में दी दारू, फिर शराबबंदी में कर लिया गिरफ्तार: SP से पीड़ित पत्नी ने लगाई न्याय की फरियाद

महिला का कहना है कि उसके पति को थाने मे काम करने के लिए बुलाया जाता था। मजदूरी के बदले उसके पति को शराब दिया जाता था। जब वह पैसे माँगता था तो उसे थाने से भगा दिया जाता था।

शराबबंदी वाले बिहार में पुलिस का नया कारनामा सामने आया है। बिहार के रोहतास में पुलिस ने लल्लू भुइयां नाम के एक व्यक्ति को शराब रखने के आरोप में गिरफ्तार किया। भुइयां की पत्नी ने आरोप लगाया है कि थाने में काम करने के बदले उसके पति को पुलिस ने मजदूरी में शराब दी थी। फिर उसे गिरफ्तार कर लिया।

पीड़ित पत्नी ने रोहतास के एसपी से इसकी शिकायत करते हुए न्याय की गुहार लगाई है। मामला रोहतास के इंद्रपुरी थाने का है। लल्लू भुइयां की पत्नी ने थानेदार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उसके पति को इंद्रपुरी थाने मे काम करने के लिए बुलाया जाता था। बड़ा बाबू चौकीदार के उसके पति को बुलाते थे। महिला का आरोप है कि मजदूरी के बदले उसके पति को शराब दिया जाता था। जब वह पैसे माँगता था तो उसे थाने से भगा दिया जाता था।

महिला का कहना है कि हाल ही में उसके पति को थाने में सफाई के लिए बुलाया गया था। इस बार भी मजदूरी में पैसे की जगह शराब पकड़ाकर भगा दिया। उसका पति शराब लेकर घर आ गया। आसपास के ही 2 लोगों के साथ बैठकर शराब पी। जैसे ही वे दो लोग शराब पीकर निकले पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। उन्होंने लल्लू भुइयां का नाम लिया। इसके बाद इंद्रपुरी पुलिस ने उसके पति को भी गिरफ्तार कर लिया। यह घटना 20 नवंबर की रात की बताई जाती है।

महिला का आरोप है कि इस दौरान उसके साथ भी खराब व्यवहार किया गया। महिला ने थानेदार समेत अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है। रोहतास के एसपी आशीष भारती ने बताया है कि मामले की जाँच की जा रही है। जाँच के बाद जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं भीम आर्मी के बिहार प्रदेश महासचिव डॉ. शैलेश सागर ने थानेदार सहित दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की माँग की है। ऐसा नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -