Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजभारी हथियार से वार, सिर में मिले चोट के निशान : हरियाणा-राजस्थान बॉर्डर पर...

भारी हथियार से वार, सिर में मिले चोट के निशान : हरियाणा-राजस्थान बॉर्डर पर दो साधुओं की निर्मम हत्या, पुलिस जाँच में जुटी

घटना झुंझनू जिले के थानाक्षेत्र पचेरी कलां की है। यहाँ के गाँव नावता में शनिवार को 2 लोगों के शव पड़े होने की सूचना मिली। लाशें हरियाणा बॉर्डर की तरफ जाने वाले हाइवे के पास एक कच्चे रास्ते पर थीं।

राजस्थान के झुंझनू जिले में 2 साधुओं के शव लावारिस हालत में मिले हैं। दोनों की उम्र 40 से 45 साल के बीच बताई जा रही है। दोनों के शव हरियाणा बॉर्डर पर पड़े पाए गए हैं। इनके सिर पर चोट के निशान हैं। पुलिस ने केस दर्ज करके जाँच शुरू कर दी है। मृतकों की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। घटना शनिवार (1 जून 2024) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना झुंझनू जिले के थानाक्षेत्र पचेरी कलां की है। यहाँ के गाँव नावता में शनिवार को 2 लोगों के शव पड़े होने की सूचना मिली। लाशें हरियाणा बॉर्डर की तरफ जाने वाले हाइवे के पास एक कच्चे रास्ते पर थीं। लोगों ने वहाँ पहुँच कर पाया कि दोनों शव साधुवेश धारियों के थे। इन दोनों के सिर पर किसी भारी चीज से वार किया गया था। आसपास के लोगों ने दोनों की पहचान करने का प्रयास किया लेकिन वो असफल रहे। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची।

पुलिस ने दोनों शवों को कब्ज़े में ले कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शिनाख्त के लिए शवों को अस्पताल में रखा गया है। केस दर्ज कर के जाँच-पड़ताल की जा रही है। घटनास्थल पर फॉरेंसिक टीमों ने दौरा किया और सबूत जमा किए हैं। मृतकों व कातिलों की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। कुछ अन्य साधुओं को भी बुला कर दोनों मृतकों की पहचान के प्रयास जारी हैं। यह घटना कोई हादसा है या हत्या इस बारे में अभी तक पुलिस ने कोई आधिकारिक जवाब नहीं दिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -