Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजमार-मार कर तोड़ दिया जबड़ा... श्रद्धा की तरह प्यार में एक हिरोइन ने भी...

मार-मार कर तोड़ दिया जबड़ा… श्रद्धा की तरह प्यार में एक हिरोइन ने भी छोड़ा घर, अब बताया- बॉयफ्रेंड ने लगभग मार ही डाला था

फ्लोरा सैनी के अनुसार गौरांग के साथ रहने के लिए उन्होंने घर छोड़ दिया। इसके एक सप्ताह बाद ही उसका असली चेहरा सामने आ गया। वह उनकी बार-बार पिटाई करने लगा। छोड़कर जाने पर उनके परिवार वालों को मारने की धमकी देता था।

श्रद्धा वाकर की निर्मम हत्या ने अभिनेत्री फ्लोरा सैनी (Flora Saini) को उन यातनाओं की याद दिला दी है जिससे कुछ साल पहले वे गुजरीं थी। श्रद्धा को उसके ‘प्रेमी’ आफताब पूनावाला ने टुकड़ों टुकड़ों में काट डाला था। परिवार की आपत्तियों के बावजूद घर छोड़कर वह आफताब के साथ लिव इन में थी। इसी तरह सैनी ने भी प्यार के लिए घर छोड़ दिया था। लेकिन प्रेमी ने उन्हें लगभग मार ही डाला था।

‘गंदी बात’ जैसी वेब सीरीज और स्त्री जैसी फिल्मों में अभिनय कर चुकीं फ्लोरा ने 2018 में ‘मी टू मूवमेंट’ के दौरान भी बॉयफ्रेंड रहे गौरांग दोषी की हिंसा के बारे में बताया था। अब श्रद्धा का केस सामने आने के बाद उन्होंने बताया है कि कैसे शुरुआत में उनका लिव इन पाटर्नर गौरांग भी अच्छा था। लेकिन बाद में वो बदल गया। एक बार उसने पीट पीटकर उनका जबड़ा ही तोड़ दिया था। उनके परिजनों की हत्या करने की भी धमकी देता था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फ़्लोरा ने खुलासा किया है कि उन्होंने गौरांग के साथ रहने के लिए अपना घर तक छोड़ दिया था। उसने उनसे अपना प्यार साबित करने को कहा था। शुरुआत में वह इतना अच्छा था कि उन्हें लगा कि उनके घर वाले उसे ठीक से परख न सके। लेकिन केवल एक सप्ताह साथ रहने के बाद ही गौरांग का असली चेहरा उनके सामने आ गया।

फ़्लोरा ने बताया कि प्रेमी ने हफ्ते भर के ही अंदर उनकी कई बार पिटाई की गई। उन्हें कुछ समझ ही नहीं आ रहा था कि उनकी गलती क्या है। एक बार पिटाई के दौरान उसने मेरा जबड़ा तक तोड़ दिया। यह घटना 2007 की है। अभिनेत्री का कहना है कि कुछ समय बाद ये रिश्ता ऐसी राह पर चल दिया जहाँ उन्हें अपनी जान बचाने के लिए सोचने पर मजबूर होना पड़ा।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि गौरांग ने छोड़ कर जाने पर उनके पूरे परिवार को मार डालने की धमकी दी थी। इस से पहले मीटू मूवमेंट के दौरान भी फ़्लोरा ने बताया था कि उनके लिव इन पार्टनर ने उन्हें सेक्सुअली एब्यूज किया था। अभिनेत्री का कहना है कि पिटाई के दौरान उन्होंने अपनी माँ की दी गई सलाह पर गौर किया। वह सलाह थी कि संकट काल में फँसे व्यक्ति को बिना कुछ देखे अपनी जान बचानी चाहिए। फ्लोरा ने यही सोच कर पुलिस स्टेशन का रुख किया था, लेकिन शिकायत दर्ज नहीं की गई। आखिरकार बाद में फ़्लोरा ने काफी प्रयास के बाद अपने प्रेमी के खिलाफ कंप्लेंट दर्ज करवाई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -