Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाज'साजिद ने हमारे बच्चों को क्यों मारा?' : 5 दिनों से रो-रोकर सवाल पूछ...

‘साजिद ने हमारे बच्चों को क्यों मारा?’ : 5 दिनों से रो-रोकर सवाल पूछ रहा पीड़ित परिवार, परेशान पिता ने निराश होकर अपनी ही बाइक फूँकी

विनोद कुमार ने बाइक में पेट्रोल का पाइप खींच दिया, जिससे उसका पेट्रोल बाहर निकलने लगा। उसने तुरंत माचिस की तीली जलाकर आग लगा दी और आत्महत्या की कोशिश की।

बदायूँ डबल मर्डर केस के पीड़ित दोनों बच्चों के पिता विनोद पुलिस की कार्यप्रणाली से परेशान हैं। उन्होंने अपनी बाइक फूँक दी और कथित तौर पर आत्मदाह की कोशिश की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रविवार (24 मार्च 2924) सुबह करीब 10 बजे विनोद ने ये कदम उठाया। वो पूछ रहे हैं कि ‘मेरे बच्चों को साजिद ने क्यों मारा, इसका कोई जवाब तो मुझे दे दे।’ वो पुलिस की कार्यप्रणाली से बेहद खफा हैं और न्याय की माँग कर रहे हैं।

अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक, बदायूँ शहर की बाबा कॉलोनी में रहने वाले पीड़ित ने रविवार सुबह करीब दस बजे घर के सामने अपनी बाइक में आग लगा दी और आत्महत्या की कोशिश की। यह देख कर मौके पर मौजूद लोगों में खलबली मच गई। सूचना पर तुरंत पुलिस पहुँच गई और घटनास्थल से महज 500 मीटर दूरी पर ही मौजूद फायर स्टेशन से दमकल विभाग पहुँच गई और बाइक में लगी आग को बुझाया। स्थानीय लोग भी इस घटना की पुष्टि कर रहे हैं। एक व्यक्ति ने बताया कि विनोद कुमार ने अपनी बाइक घर से निकाल कर बाहर खड़ी की थी। फिर बाइक में पेट्रोल का पाइप खींच दिया, जिससे उसका पेट्रोल बाहर निकलने लगा। उसने तुरंत माचिस की तीली जलाकर आग लगा दी और आत्महत्या की कोशिश की।

दो दिन पहले दी थी आत्मदाह की चेतावनी

हिंदुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चों के पिता विनोद ठाकुर साजिद द्वारा बच्चों की हत्या के पीछे की असली वजह को पता लगाने की माँग की जा रही है, लेकिन पुलिस का दावा है कि परिवार पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट है। हालाँकि विनोद ठाकुर ने दो दिन पहले ही कहा था कि अगर हत्या का मकसद पता नहीं चला और उन्हें न्याय नहीं मिलास तो वो पूरे परिवार के साथ आत्मदाह कर लेंगे।

जानकारी के मुताबिक, विनोद ने बाइक को आग के हवाले करने के बाद कार को भी गराज से बाहर निकालने की कोशिश की, लेकिन जब लोगों ने उन्हें रोक लिया, तो उन्होंने खुद को आग लगाने की कोशिश की। इसके बाद स्थानीय लोगों ने उन्हें पकड़ लिया और उठाकर घर के अंदर ले गए।

इस घटनाक्रम की सूचना पाकर तुरंत ही सीओ सिटी आलोक मिश्रा मौके पर पहुँच गए। इसके साथ ही इंस्पेक्टर गौरव बिश्नोई भी मौके पर पहुँचे। उन्होंने विनोद ठाकुर को निष्पक्ष कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -