Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाज...जो सीलमपुर बवाल में बम फेंक भी नहीं पाया, हाथ भी गँवाया, उस रईस...

…जो सीलमपुर बवाल में बम फेंक भी नहीं पाया, हाथ भी गँवाया, उस रईस को पुलिस ने धर दबोचा

सीलमपुर में हुए दंगों में पुलिस ने दंगाई रईस समेत तोड़फोड़ करने वालों में 21 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि बाकी लोगों की भी पहचान कर ली गई है। इन लोगों की तलाश में...

सीलमपुर में मंगलवार (दिसंबर 17, 2019) को हुए दंगों के बीच पेट्रोल बम फेंकने की कोशिश करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। युवक की पहचान रईस के रूप में हुई। जानकारी के मुताबिक रईस मंगलवार को भीड़ के बीच से पेट्रोल बम पुलिस पर फेंकने जा रहा था, लेकिन हमला करने से पहले ही बम उसके हाथ में फट गया। जिसके कारण उसके हाथ के चीथड़े उड़ गए।

पुलिस के अनुसार, घटना के बाद से रईस ने अपनी पहचान छिपाई हुई थी और जीटीबी अस्पताल में अपना ईलाज करवा रहा था। लेकिन, तलाश में जुटी पुलिस को उसकी जानकारी मिल गई। जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रईस अब भी अस्पताल में ही है। लेकिन, पुलिस उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने की तैयारी कर रही है। चूँकि बम फटने के कारण रईस के हाथ में काफी गंभीर चोट आई है, इसलिए पुलिस की ओर से उसे अभी कुछ नहीं कहा गया है। पुलिस का कहना है कि रईस को फिलहाल ईलाज मुहैया करवाया जा रहा है और ईलाज के बाद उस पर एक्शन लिया जाएगा।

बता दें, सीलमपुर में हुए दंगों में पुलिस ने दंगाई समेत तोड़फोड़ करने वालों में 21 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि बाकी लोगों की भी पहचान कर ली गई है। कहा जा रहा है कि आज इलाके में तनाव दोबारा फैल सकता है, लेकिन पुलिस स्थानीय लोगों से बातचीत करके भरोसा कायम करने की कोशिश कर रही है।

गौरतलब है कि सीलमपुर में हुई हिंसा से जुड़े कई वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। लेकिन इसी बीच बम फोड़ने का ऐसा वीडियो भी सामने आया। जिसने दिल्ली पुलिस समेत जाँच एजेंसियों के कान खड़े दिए। हालाँकि भले ही बम फेंकने की मंशा से भीड़ में पहुँचे युवक की गिरफ्तारी हो चुकी है। लेकिन ये सोचने का विषय है कि क्या नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के नाम पर दिल्ली में कोई और साजिश रची जा रही है? जिसकी एक झलक हमें वीडियो में देखने को मिली।

पुलिस फिलहाल रईस से पूछताछ में जुटी है। साथ ही सीलमपुर, जाफराबाद और दयालपुर में हुई हिंसा पर भी अपनी नजर बनाए हुए है। इस बीच खूफिया एजेंसियों से कई इनपुट पुलिस को मिले हैं, जिस पर जाँच जारी है। इसके अलावा दिल्ली के कई इलाकों में धारा 144 लगी हुई है। लेकिन, पुलिस लगातार लोगों के बीच गश्त करके शांति व्यवस्था बनाने की तैयारी कर रही है।

सपा सांसद शफीकुर्रहमान के ख़िलाफ़ मामला दर्ज, 3000 दंगाई हिरासत में: योगी सरकार की सख़्त कार्रवाई

दरगाह में 3000 की भीड़, नमाज के बाद पुलिसकर्मियों पर बरसाए पत्थर: 19 पुलिसकर्मी घायल, 32 हिरासत में

दंगाइयों की संपत्ति बेच कर होगी नुकसान की भरपाई: उपद्रवियों पर सख्त हुए CM योगी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe