Saturday, September 18, 2021
Homeदेश-समाजबाबा बैद्यनाथ मंदिर में 'गौमांस' वाले कॉन्ग्रेसी MLA इरफान अंसारी ने की पूजा, BJP...

बाबा बैद्यनाथ मंदिर में ‘गौमांस’ वाले कॉन्ग्रेसी MLA इरफान अंसारी ने की पूजा, BJP सांसद ने उठाई गिरफ्तारी की माँग

द्वादश ज्योतिर्लिंग बाबा बैद्यनाथ मंदिर में गैर हिंदू का प्रवेश नहीं हो सकता है। मंदिर के गर्भगृह में कॉन्ग्रेसी MLA इरफ़ान अंसारी ने ज्योतिर्लिंग को स्पर्श कर अपवित्र करने का प्रयास किया, गर्भगृह में गौमांस भक्षण करने वालों का प्रवेश क्यों?"

झारखंड के मधुपुर में विधानसभा उपचुनावों के मद्देनजर कॉन्ग्रेस विधायक इरफान अंसारी के खुद को शिवभक्त बताकर बाबाधाम में पूजा अर्चना करने से बवाल हो गया है। भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने इस घटना के बाद अंसारी की गिरफ्तारी की माँग उठाई है। दुबे का कहना है कि जैसे गैर मुस्लिम मक्का में नहीं जाते, वैसे बाबा बैद्यनाथ के मंदिर में गैर हिंदू प्रवेश नहीं कर सकता।

उल्लेखनीय है कि कॉन्ग्रेस नेता इरफान अंसारी बुधवार (अप्रैल 14, 2021) को देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर पहुँचे थे। यहाँ मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जब भी उनका मन विचलित होता है तो वह बाबाधाम आते हैं और चुपके से शीश नवाकर पूजा अर्चना करते हैं।

अंसारी की इसी हरकत से गोड्डा सांसद व भाजपा नेता निशिकांत दुबे ने अपना गुस्सा व्यक्त किया। उन्होंने जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी पर धार्मिक भावना के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। वह बोले कि जिस तरह काबा में गैर मुस्लिम नहीं जा सकते, उसी तरह द्वादश ज्योतिर्लिंग बाबा बैद्यनाथ मंदिर में गैर हिंदू का प्रवेश नहीं हो सकता है। इरफान अंसारी ने वहाँ जाकर हिंदुओं की धार्मिक भावना से खिलवाड़ किया है।

सांसद निशिकांत दुबे ने झारखंड सरकार से अंसारी पर रासुका लगाने और देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की अपील की। उनका कहना है कि इरफान का पागलपना बढ़ गया है। वह कभी गौमाता पर बोलते हैं, कभी गंगा मैया पर, लेकिन इस बार जो किया, वह किसी भी चीज की हद है।

अपने ट्वीट में भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने लिखा, “आज ग्लानि हुई कि मेरे सांसद रहते, बाबा बैद्यनाथ मंदिर के गर्भगृह में कॉन्ग्रेस विधायक इरफ़ान अंसारी ने पूजा के बहाने ज्योतिर्लिंग को स्पर्श कर अपवित्र करने का प्रयास किया,आस्था के अनुसार मक्का में गैर मुस्लिम का प्रवेश वर्जित है, गर्भगृह में गौमांस भक्षण करने वालों का प्रवेश?”

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, निशिकांत दुबे ने इस बाबत अपने आवास पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की। यहाँ उन्होंने डीसी-एसपी को बर्खास्त करने की माँग उठाई। डीसी मंदिर प्रबंधन के सचिव हैं। दुबे ने घटना को शर्मसार करार देते हुए कहा कि ऐसा कभी नहीं हुआ था। एक बार फारूक अब्दुल्लाह भी मंदिर आए थे, लेकिन उन्हें भी प्रांगण तक ले जाया गया, गर्भगृह में जाने की अनुमति नहीं दी गई।

सांसद निशिकांत दुबे के अनुसार, इरफान का यह प्रयास मधुपुर चुनाव में हिंदू-मुस्लिम भावना भड़काने के लिए हुआ है। इस संबंध में वह मुख्य सचिव से बात कर चुके हैं। अब भाजपा चुनाव आयोग और मुख्य सचिव से मिल कर कार्रवाई की माँग करेगी।

बता दें कि कॉन्ग्रेस नेता इरफान अंसारी झारखंड के जामताड़ा विधानसभा क्षेत्र के प्रतिनिधि हैं। इससे पहले वह गोड्डा लोकसभा क्षेत्र का भी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। बुधवार को बाबाधाम पहुँचकर पूजा अर्चना करने के बाद उन्होंने जब खुद को शिवभक्त बताया तो भाजपा ने इसका खुलकर विरोध किया और बिना देर किए राँची स्थित मुख्य निर्वाचन कार्यालय में इसकी शिकायत करवाई।

भाजपा की ओर से कहा गया कि बैद्यनाथ धाम मंदिर में हिन्दू धर्म को छोड़कर किसी अन्य धर्म के व्यक्ति के जाने और पूजा-अर्चना करने पर पूरी तरह से मनाही है। ऐसे में इरफान अंसारी बाहरी होकर मंदिर गए और वहाँ उन्होंने पंडा समाज और ब्राह्मणों को नीचा दिखाया।

पार्टी की ओर से यह भी बताया गया कि कॉन्ग्रेस विधायक इरफान अंसारी ने देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर के गर्भ गृह में न केवल पूजा अर्चना की, बल्कि अमर्यादित, धार्मिक उन्माद फैलाने जैसा शब्दों का प्रयोग भी किया। पार्टी ने इस बात पर भी आश्चर्य जताया कि आखिर देवघर उपायुक्त और पुलिश अधीक्षक ने उन्हें ये अनुमति दी कैसे? पार्टी का कहना है कि देवघर के उपायुक्त लगातार ऐसे काम कर रहे हैं, जिससे जेएमएम प्रत्याशी के पक्ष में माहौल बने।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,951FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe