Friday, September 17, 2021
Homeदेश-समाजमालेगाँव में MLA मौलाना मुफ़्ती इस्माइल और उसके गुंडों ने डॉक्टर को पीटा, हॉस्पिटल...

मालेगाँव में MLA मौलाना मुफ़्ती इस्माइल और उसके गुंडों ने डॉक्टर को पीटा, हॉस्पिटल स्टाफ धरने पर

ओवैसी की एआईएमआईएम पार्टी से विधायक मौलाना मुफ़्ती इस्माइल धौंस दिखाते हुए अपने 20-25 कार्यकर्ताओं के साथ अस्पताल में घुस कर डॉक्टर किशोर डांगे से बहस और गाली-गलौज करने लगे, अस्पताल प्रशासन को धमकाने लगे। डॉक्टर को गालियाँ देता विधायक एएनआई के इस ट्वीट में साफ़ तौर पर देखा जा सकता है।

कोरोना महामारी से लड़ने के लिए लॉकडाउन किए जा चुके भारत में एक तरफ जहाँ सभी अपने-अपने स्तर पर इस घातक वायरस से होते संक्रमण को रोकने का प्रयास कर रहे हैं, देश का हर व्यक्ति कोरोना संक्रमित मेडिकल स्टॉफ के प्रति आभार जता रहा है, वहीं कुछ लोग इन्हीं डॉक्टर्स से बदसलूकी करने से बाज नहीं आ रहे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ओवैसी की एआईएमआईएम पार्टी से विधायक मौलाना मुफ़्ती इस्माइल ने अपने समर्थकों के साथ मालेगाँव अस्पताल पहुँचे और अस्पताल के स्टॉफ के साथ बदतमीजी और मारपीट करने लगे। रिपोर्ट्स के अनुसार यह सारा मामला तब शुरू हुआ जब डॉक्टर किशोर डांगे ने विधायक का फोन नहीं उठाया।

अपनी धौंस दिखाते हुए विधायक मुफ़्ती मोहम्मद इस्माइल अपने 20-25 कार्यकर्ताओं के साथ अस्पताल में घुस कर डॉक्टर किशोर डांगे से बहस और गाली-गलौज करने लगे, अस्पताल प्रशासन को धमकाने लगे। डॉक्टर को गालियाँ देता विधायक एएनआई के इस ट्वीट में साफ़ तौर पर देखा जा सकता है।

गौरतलब है कि इस साल के शुरुआत में दो संदिग्धों ने एआईएमआईएम पार्टी लीडर रिजवान खान के मालेगाँव स्थित घर पर गोलीबारी की थी। उन्हीं में से एक उस गोलीबारी में घायल हो गया था, जिसका कोर्ट के आदेश पर कथित तौर पर अस्पताल में इलाज चल रहा था। एक टीवी न्यूज़ चैनल की रिपोर्ट के अनुसार एआईएमआईएम के विधायक मुफ़्ती इस बात से नाराज थे कि उपरोक्त संदिग्ध को बगैर किसी पर्याप्त कागज के अस्पताल में बनाए रखा गया है।

कोरोना वायरस से संक्रमण के इस दौर में विधायक डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ को अपनी ड्यूटी सही ढंग से न निभाने और गैर जिम्मेदाराना बर्ताव का आरोप लगाकर गाली-गलौज करता हुआ साफ देखा जा सकता है। एआईएमआईएम का विधायक खुद ही कह रहा है कि उसका फोन क्यों नहीं उठाया गया। इस घटना के बाद वीडियो वायरल से विधायक और उसके बदमाशों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने की माँग को लेकर अस्पताल का समूचा स्टाफ अस्पताल के बाहर धरने पर बैठ गया है। हालाँकि, कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों और एमरजेंसी चिकित्सा सुविधाएँ चालू रखी गई हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,891FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe