Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान: दाऊद ने आदिवासी लड़की से कई बार किया रेप, अजन्मे बच्चे (भ्रूण) को...

राजस्थान: दाऊद ने आदिवासी लड़की से कई बार किया रेप, अजन्मे बच्चे (भ्रूण) को भी मार डाला, अब फरार

आरोपित दाऊद फरार है और उसे अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है। पीड़िता भील समुदाय से आती है। फ़िलहाल अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है।

राजस्थान के झालावाड़ से एक आदिवासी लड़की के साथ कई बार रेप की घटना सामने आई है। आरोपित दाऊद ने अजन्मे बच्चे (भ्रूण) को भी मार डाला। पड़ोसी दाऊद ने पहले तो आदिवासी किशोरी के साथ कई बार रेप किया, फिर उसे जबरन गर्भनिरोधक गोलियाँ खिलाई। पीड़िता के परिवार का कहना है कि लड़की की उम्र 18 से अधिक है। हालाँकि, पुलिस मेडिकल जाँच के बाद देखेगी कि लड़की नाबालिग है या नहीं।

इसके बाद पुलिस निर्णय लेगी कि इस मामले में ‘यौन उत्पीड़न से बच्चों के संरक्षण का अधिनियम (POCSO)’ के तहत धाराएँ लगाई है या नहीं। मंडावर पुलिस थाने में इस बाबत FIR दर्ज कराई गई है। ये मामला शनिवार (10 अक्टूबर, 2021) को सामने आया। दरअसल, लड़की ने जब पेट दर्द की शिकायत की तो परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए। वहाँ पता चला कि वो 6 महीने की गर्भवती है।

पुलिस उपाधीक्षक और सर्किल अधिकारी राजीव परिहार ने बताया कि अपराध को छिपाने के लिए आरोपित ने उसे गर्भ निरोधक गोलियाँ खिलाई थीं, जिससे भ्रूण (अजन्मे बच्चे) की मौत हो चुकी थी। पीड़ित परिजनों ने SC/ST एक्ट के तहत भी मामला दर्ज कराया है। हालाँकि, आरोपित दाऊद फरार है और उसे अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है। पीड़िता भील समुदाय से आती है। फ़िलहाल अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है।

जानकारी मिली है कि फ़िलहाल पीड़िता की स्थिति खतरे से बाहर है। आरोपित युवक के खिलाफ पुलिस ने IPC (भारतीय दंड संहिता) की धारा-376 (बलात्कार), 313 (महिला की सहमति के बिना गर्भपात) और 315 (जीवित बच्चे को पैदा से रोकने इरादतन हत्या) के तहत मामला दर्ज किया है। फ़िलहाल वो स्वस्थ है। लड़की की सही उम्र का पता चलते ही इस मामले में और धाराएँ जोड़ी जाएँगी।

बता दें कि  2020 में देश में सबसे ज्यादा रेप केस राजस्थान में दर्ज किए गए हैं। दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश जरूर है, लेकिन यहाँ रेप के मामले राजस्थान के आँकड़ों से आधे से भी कम हैं। जबकि यूपी जनसंख्या के मामले में देश का सबसे बड़ा राज्य है। राजस्थान ने तीन गुना अधिक लोग यहाँ रहते हैं। राजस्थान में एक साल में 5,310 रेप केस दर्ज किए गए। साल 2020 में दलितों से अपराध का आँकड़ा बढ़ भी कर 7017 हो गया। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -