Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाजएक्शन में अमित शाह: दिल्ली में 6 दिन में 3-गुणा होंगे कोरोना टेस्ट, 8000...

एक्शन में अमित शाह: दिल्ली में 6 दिन में 3-गुणा होंगे कोरोना टेस्ट, 8000 बेड के साथ मिलेंगे 500 रेलवे कोच

दिल्ली के कंटेनमेंट जोन में कॉन्‍टैक्‍ट ट्रेसिंग अच्छे से करने के लिए घर-घर जाकर हर व्यक्ति का व्यापक स्वास्थ्य सर्वे किया जाएगा। साथ ही इसकी रिपोर्ट 1 हफ्ते के अंदर ही आ जाएगी। जिससे संक्रमित व्यक्ति का पता जल्द लगने की वजह से संक्रमण को रोका जा सकेगा।

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को कंट्रोल में लाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और अन्य लोगों के साथ हालात पर चर्चा करने के लिए रविवार (14 जून, 2020) की सुबह बैठक की।

11 बजे से गृह मंत्रालय में शुरू हुई इस बैठक में दिल्ली की मौजूदा स्थिति को लेकर करीब 1 घंटे 20 मिनट चर्चा की गई। बैठक में मुख्य रूप से स्वास्थ्य सुविधाएँ, बढ़ते मरीजों के लिए बेड, कोरोना को निपटाने के लिए एहतियात कदम उठने को लेकर बात की गई।

बैठक की समाप्ति के बाद अमित शाह ने ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए बताया कि स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व वरिष्ठ अधिकारियों के साथ दिल्ली की जनता की सुरक्षा व इस संक्रमण को रोकने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

बैठक में लिए गए अहम फैसले

  1. दिल्ली में बढ़ते मरीज और घटते बेड की संख्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने तुरंत 500 रेलवे कोच दिल्ली को देने का निर्णय लिया है।
  2. आइसोलेशन वार्ड में बदले गए रेलवे के 500 कोच के अंदर 8000 बेड होंगे। इसमें कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं मौजूद होंगी।
  3. दिल्ली के कंटेनमेंट जोन में कॉन्‍टैक्‍ट ट्रेसिंग अच्छे से करने के लिए घर-घर जाकर हर व्यक्ति का व्यापक स्वास्थ्य सर्वे किया जाएगा। साथ ही इसकी रिपोर्ट 1 हफ्ते के अंदर ही आ जाएगी। जिससे संक्रमित व्यक्ति का पता जल्द लगने की वजह से संक्रमण को रोका जा सकेगा।
  4. हर व्यक्ति के स्वास्थ्य को मद्देनजर रखते हुए बेहतर मॉनिटरिंग के लिए सबके मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करवाया जाएगा।
  5. संक्रमण को रोकने के लिए अगले दो दिन में कोरोना की टेस्टिंग को बढ़ाकर दो गुना किया जाएगा और 6 दिन बाद टेस्टिंग को बढ़ाकर तीन गुना कर दिया जाएगा।
  6. केंद्र ने कोरोना के बढ़ते मामलों और हालात पर नजर रखने के लिए 5 वरिष्ठ अधिकारियों को दिल्ली सरकार में तैनाती की भी बात कही है।
  7. सरकार ने स्काउट गाइड, एनसीसी, एनएसएस व अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं को इस महामारी में स्वास्थ्य सेवाओं में वॉलंटियर के नाते जोड़ने का निर्णय लिया है।
  8. केंद्र सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों के 60% कम में रेट में कोविड-19 के बेड को सरकार को देने के लिए तय किया है।
  9. कोरोना काल में मरीजों के इलाज से संबंधित आवश्यक संसाधन जैसे ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटिलेटर, पल्स ऑक्सीमीटर व अन्य सभी उपकरणों की कमी को पूरा करने के लिए मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार को पूर्णतः आश्वस्त किया है।
  10. कोविड-19 से मरने वालों के शवों की दुर्गति को देखते हुए अंतिम संस्कार की प्रतीक्षा अवधि को कम से कम करने के लिए सरकार ने अंतिम संस्कार के लिए नई गाइडलाइंस जारी करने का निर्णय भी लिया है।
  11. केंद्र व दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग, सभी सम्बंधित विभाग व एक्सपर्ट्स को आज किए गए सभी निर्णयों को अच्छे से अमल किया जाए, यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।
  12. दिल्ली के छोटे अस्पतालों तक कोरोना संबंधित सही जानकारी व दिशा-निर्देश देने के लिए केंद्र सरकार ने AIIMS में टेलीफोन हेल्पलाइन नंबर जारी कर वरिष्ठ डॉक्टरों की एक कमिटी बनाने का निर्णय लिया। इसका हेल्पलाइन नंबर कल जारी हो जाएगा।

गौरतलब है कि इस वक़्त दिल्ली में कोरोना वायरस की वजह से स्थिति काफी भयावह बनी हुई है। बढ़ते संक्रमितों और मौत के आँकड़ो, अस्पताल की बदतर स्थिति ने दिल्ली सरकार की हालत को खस्ता कर दिया है।

स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में अब तक संक्रमण के कुल 38,958 मालमे सामने आए हैं। इनमें 22742 एक्टिव केस है। 14945 लोग इस संक्रमण से ठीक हो कर घर जा चुके हैं। जबकि 1,271 लोगों ने इस महामारी की वजह से अपनी जान गँवा दी है। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के लिहाज से महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद देश में दिल्ली तीसरे स्थान पर है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कीचड़ मलती ‘गोरी’ पत्रकार या श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग… समाज/मदद के नाम पर शुद्ध धंधा है पत्रकारिता

श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग और जलती चिताओं की तस्वीरें छापकर यह बताने की कोशिश की जाती है कि स्थिति काफी खराब है और सरकार नाकाम है।

ओलंपिक में मीराबाई चानू के सिल्वर मेडल जीतने पर एक दुःखी वामपंथी की व्यथा…

भारत की एक महिला भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग में सिल्वर मेडल जीता है। ये विज्ञान व लोकतंत्र के खिलाफ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,987FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe