Friday, July 1, 2022
Homeदेश-समाजबंद हुआ दिल्ली का अकीला रेस्टोरेंट, बिना लाइसेंस के चल रहा था: ‘साड़ी स्मार्ट...

बंद हुआ दिल्ली का अकीला रेस्टोरेंट, बिना लाइसेंस के चल रहा था: ‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’ वाले Video से चर्चा में आया था

सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में अकीला रेस्टोरेंट का स्टाफ, पत्रकार अनीता चौधरी से कहता दिखा था कि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है, इसलिए वो उसे पहनने वालों को अपने यहाँ अनुमति नहीं देते।

दिल्ली के अंसल प्लाजा का अकीला (Aquila) रेस्टोरेंट बंद हो गया है। यह बगैर लाइसेंस के चल रहा था। यह रेस्टोरेंट पिछले दिनों साड़ी विवाद को लेकर सुर्खियों में था। एक महिला पत्रकार ने दावा किया था कि साड़ी में होने के कारण रेस्टोरेंट के कर्मचारियों ने उन्हें प्रवेश देने से इनकार कर दिया और उनके साथ बदसलूकी की। इस मामले के सामने आने के बाद सोशल मीडिया में रेस्टोरेंट को काफी विरोध झेलना पड़ा था।

रिपोर्ट के अनुसार अकीला रेस्टोरेंट ने जरूरी हेल्थ सर्टिफिकेट भी नहीं ले रखा था। साउथ दिल्ली म्युनिसिपल कार्पोरेशन (SMDC) ने बुधवार (29 सितंबर 2021) को बताया कि लाइसेंस नहीं होने के कारण रेस्टोरेंट को 48 घंटे के भीतर बंद करने का आदेश दिया गया था। 24 सितंबर को इस संबंध में नोटिस जारी किया गया था। उससे पहले 21 सितंबर को स्वास्थ्य निरीक्षक ने इस रेस्टोरेंट की जाँच की थी। उस दौरान पाया गया था कि रेस्टोरेंट बिना लाइसेंस के चल रहा है और इसने सरकारी जमीन पर कब्जा भी कर रखा है। दैनिक जागरण के अनुसार यह रेस्टोरेंट कागजों में सील होने के बावजूद चल रहा था।

नगर निगम नोटिस का रेस्टोरेंट प्रबंधन ने 27 सितंबर को जवाब दिया। इसमें लाइसेंस नहीं होने की बात स्वीकार करते हुए रेस्टोरेंट को बंद कर देने की जानकारी दी गई। बुधवार को दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की बैठक में भी इस रेस्टोरेंट का मुद्दा उठा था। साड़ी विवाद का हवाला देते हुए रेस्टोरेंट पर जुर्माना लगाने की माँग की गई थी।

एनबीटी को एसडीएमसी के महापौर मुकेश सूर्यन ने बताया, “अकीला नाम का रेस्टोरेंट बिना वैध लाइसेंस के चल रहा था। उसे हमने बंद करने का नोटिस जारी किया था। अब वह बंद हो गया है। हम डीएमसी (दिल्ली नगर निगम) अधिनियम के तहत जुर्माना सहित अन्य कार्रवाई की संभावना पर भी गौर कर रहे हैं।”

गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में अकीला रेस्टोरेंट का स्टाफ, पत्रकार अनीता चौधरी से कहता दिखा था कि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है, इसलिए वो उसे पहनने वालों को अपने यहाँ अनुमति नहीं देते। वीडियो वायरल होने के बाद रेस्टोरेंट की ओछी मानसिकता की कड़ी आलोचना की गई। महिला पत्रकार ने बताया था कि 19 सितंबर को अपनी बेटी का जन्मदिन मनाने जब वे इस रेस्टोरेंट में गईं तो यह घटना हुई।

इसके बाद इस मामले में स्पष्टीकरण जारी करते हुए रेस्टोरेंट ने अपने व्यवहार के लिए माफी माँगी थी। उसने महिला पत्रकार पर मारपीट का भी आरोप लगाया था। अकीला ने अपनी सफाई में कहा था कि वह भारतीय संस्कृति का सम्मान करती है। हमेशा से आधुनिक से लेकर परंपरागत, हर स्टाइल के ग्राहकों का स्वागत करती रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,269FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe