Wednesday, August 17, 2022
Homeदेश-समाजपुलिस, जज और परिजनों के लिए इस्तेमाल होंगे जब्त ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर: दिल्ली की अदालत...

पुलिस, जज और परिजनों के लिए इस्तेमाल होंगे जब्त ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर: दिल्ली की अदालत का आदेश

"पुलिस अधिकारियों, न्यायिक अधिकारियों और उनके परिवार के सदस्यों के सर्वोत्तम स्वास्थ्य हित में यह अदालत 12 ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर के इस्तेमाल की इजाजत देती है।"

कोरोना संकट के बीच दिल्ली की एक अदालत ने पुलिस को जब्त किए गए 12 ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर रिलीज करने का आदेश किया है। इनका इस्तेमाल, पुलिस, न्यायिक अधिकारियों और उनके परिजनों के लिए हो सकेगा। दिल्ली पुलिस ने कालाबाजारी रोकने की कार्रवाई के तहत इन कॉन्सेन्ट्रेटर को जब्त किया था।

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट अनुज बहल ने इन कॉन्सेन्ट्रेटर को रिलीज करने का आदेश दिया। इन कॉन्सेन्ट्रेटर को 4 मई को जब्त करते हुए पुलिस ने विनय अग्रवाल और आकाश वशिष्ठ को गिरफ्तार किया था। कॉन्सेन्ट्रेटर को द्वारका पुलिस स्टेशन में जमा कर दिया गया था।

जाँच अधिकारी ने इस मामले में अदालत को जानकारी दी थी कि कई पुलिस अधिकारी कोरोना वायरस से पीड़ित थे और उन्हें अपनी जान बचाने के लिए इसकी आवश्यकता थी। इस पर अदालत ने कहा कि इन ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर पुलिस मालखाने में रखने से इसका कोई उपयोग नहीं हो पाएगा।

कोर्ट ने कहा, “यह उल्लेख करना सही होगा कि अपने कार्य के कारण कई न्यायिक अधिकारी इस जानलेवा वायरस की चपेट में आ रहे हैं। दिल्ली में बड़ी संख्या में न्यायिक अधिकारी और उनके परिवार कोविड-19 वायरस से संक्रमित हैं और दुर्भाग्य से दिल्ली न्यायपालिका के दो सदस्य न्यायधीश कोवई वेणुगोपाल और मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट, द्वारका कामरान खान कोविड संक्रमण के कारण अपनी जान गँवा चुके हैं।”

अदालत ने कहा, “पुलिस अधिकारियों, न्यायिक अधिकारियों और उनके परिवार के सदस्यों के सर्वोत्तम स्वास्थ्य हित में यह अदालत इलाज के लिए 12 ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर के इस्तेमाल की इजाजत देती है।”

कोर्ट द्वारा जारी आदेश की कॉपी

आदेश के मुताबिक 2 ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर डीसीपी द्वारका को रिलीज किया जाएगा, ताकि कोरोना पॉजिटिव पुलिसकर्मी उनका इस्तेमाल कर सकें। साथ ही 3 ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर प्रिंसिपल डिस्ट्रिक और सेशन जज (हेडक्वार्टर) को, 2 कॉन्सेन्ट्रेटर प्रिंसिपल डिस्ट्रिक्ट और सेशन जज द्वारका को, 3 कॉन्संट्रेटर प्रिंसिपल डिस्ट्रिक्ट और सेशन जज साकेत और 2 कॉन्संट्रेटर कोविड हेल्थ सेंटर एयर दिल्ली ज्यूडिशियल एकेडमी को रिलीज करने का आदेश दिया गया है।

नकली ऑक्सीजन सिलेंडर के जरिए लोगों को ठगने वाले गिरफ्तार

कोरोना के कहर के बीच ऑक्सीजन के नाम पर गोरखधंधे भी दिल्ली में चल रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने आग बुझाने के उपकरण को नकली ऑक्सीजन सिलेंडर बनाकर बेचने के मामले तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपित रवि शर्मा (40), मोहम्मद अब्दुल (38) और शंभू शाह (30) दिल्ली के अलीपुर निवासी हैं।

छापेमारी के दौरान पुलिस ने 530 आग बुझाने वाले लोहे के गैस सिलेंडर और 25 से अधिक ऑक्सीजन गैस सिलेंडर नोजल जब्त किए। पुलिस ने सिलेंडर की पेंट, स्प्रे-पेंट के डिब्बे समेत 49,500 रुपए नकद बरामद किए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नूपुर शर्मा पर फिदायीन हमले की योजना, PDF पढ़वाने देवबंद जाता था आतंकी नदीम; 3 महीने में 18 बार मिली मदरसे में लोकेशन: ATS...

यूपी ATS द्वारा गिरफ्तार मोहम्मद नदीम अंग्रेजी और उर्दू नहीं जानता था। वह पाकिस्तान से उर्दू में आए PDF को पढ़वाने के लिए मदरसे जाता था।

काम की तलाश में विनोद कांबली, इनकम केवल ₹30000: कहा- सचिन तेंदुलकर सब जानते हैं, पर मैं उनसे उम्मीद नहीं रखता

कांबली ने मिड-डे से बातचीत में कहा कि उन्हें काम की जरूरत है। इस वक्त उनकी आय का एकमात्र स्रोत केवल बीसीसीआई की पेंशन है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
214,819FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe