Tuesday, January 18, 2022
Homeदेश-समाजदिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू के नाम पर रखा ₹1 लाख का इनाम, 26...

दिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू के नाम पर रखा ₹1 लाख का इनाम, 26 जनवरी की हिंसा में शामिल 8 लोगों की है तलाश

दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह पर 1-1 लाख रुपए का इनाम घोषित किया गया है। जजबीर सिंह, बूटा सिंह, सुखदेव सिंह और इकबाल सिंह पर 50-50 हजार रुपए इनाम का ऐलान किया है।

गणतंत्र दिवस पर प्रदर्शनकारी किसानों द्वारा आजोजित ट्रैक्टर परेड के दौरान जमकर बवाल किया गया। उपद्रवियों ने जमकर तोड़फोड़ की और लाल किले (Red Fort) पर अपना झंडा तक फहरा दिया था। दिल्ली पुलिस अब उपद्रवियों पर शिकंजा कसने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उपद्रव करने वाले 12 लोगों की तस्वीरें जारी की गई हैं और 8 आरोपितों पर इनाम घोषित कर दिया गया है।

इन 8 लोगों की है तलाश

दिल्ली पुलिस गणतंत्र दिवस पर उपद्रव करने वालों की सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस ने 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के 8 आरोपितों पर इनाम घोषित किया है। दीप सिद्धू समेत 4 आरोपितों पर 1-1 लाख रुपए का इनाम और 4 अन्य आरोपितों पर 50-50 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया है। जानकारी के मुताबिक दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह पर 1-1 लाख रुपए का इनाम घोषित किया गया है। जजबीर सिंह, बूटा सिंह, सुखदेव सिंह और इकबाल सिंह पर 50-50 हजार रुपए इनाम का ऐलान किया है।

दिल्ली पुलिस की एसआइटी कर रही है जाँच

दिल्ली पुलिस ने उपद्रव में शामिल कई आरोपितों की भी पहचान कर उन पर इनाम की घोषणा की है। जाँच के दौरान दिल्ली पुलिस के पास करीब 5 हजार वीडियो आ चुके हैं। जिनमें से पुलिस उपद्रवियों की पहचान कर रही है। दिल्ली दंगों को लेकर अब तक पुलिस 44 एफआईआर दर्ज कर चुकी है, वहीं 122 लोगो की गिरफ्तारी हुई है। हालाँकि, दिल्ली में हुए इस उपद्रव को लेकर अभी भी किसी मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी नही हो पाई है। दिल्ली में हुई इस हिंसा की जाँच क्राइम ब्रांच भी कर रही है।

इधर केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शन के बीच नई दिल्ली की सीमाओं पर कड़ी सुरक्षा के लिए दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शन स्थल पर कई स्तरों पर बैरिकेड लगाए हैं और सुरक्षा बलों की भारी तैनाती की गई है। इसे लेकर पुलिस से कई प्रकार के सवाल भी पूछे जा रहे हैं।

मंगलवार (फरवरी 02, 2021) को पत्रकारों को संबोधित करते हुए, दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि वह ये देखकर आश्चर्यचकित हैं कि 26 जनवरी के दिन जब पुलिसकर्मियों पर हमला किया गया और प्रदर्शनकारियों द्वारा बैरिकेड्स तोड़कर हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया गया, उन पर कम सवाल उठाए गए।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमानतुल्लाह खान यहाँ नमाज पढ़ सकते हैं तो हिंदू हनुमान चालीसा क्यों नहीं?’: इंद्रप्रस्थ किले पर गरमाया विवाद, अंदर मस्जिद बनाने के भी आरोप

अमानतुल्लाह खान की एक वीडियो के विरोध में आज फिरोज शाह कोटला किले के बाहर हिंदूवादी लोगों ने इकट्ठा होकर हनुमान चालीसा का पाठ किया।

जब 5 मिनट तक फ्लाइंग किस देते रहे थे भगवंत मान, बार-बार गिर रहे थे: AAP ने बनाया चेहरा तो बोले लोग – ‘उड़ते...

ट्विटर पर यूजर्स उन्हें 'पेगवंत मान' कहकर संबोधित कर रहे हैं और केजरीवाल के फैसले को गलत ठहरा रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,996FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe