Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाज'एल्विश यादव हाजिर हों': मनी लॉन्ड्रिंग मामले में YouTuber को ED का नोटिस, करीबियों...

‘एल्विश यादव हाजिर हों’: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में YouTuber को ED का नोटिस, करीबियों में शामिल रिजॉर्ट मालिकों से लेकर फैजलपुरिया तक रडार पर

मई 2024 में ED ने एल्विश यादव पर मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। इस केस के बाद एल्विश यादव के बैंक खातों के साथ महँगी कारों और अन्य खर्चों की डिटेल जुटाई जा रही है।

साँपों के जहर केस में पहले ही कानूनी कार्रवाई का सामना कर रहे यूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलों में इजाफा हुआ है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने समन जारी कर के उनको पूछताछ के लिए पेश होने का आदेश दिया है। नोटिस के मुताबिक, एल्विश को 23 जुलाई को ED की लखनऊ यूनिट के आगे पेश होना है। यह नोटिस मनी लॉन्ड्रिंग केस में जारी हुई है। इस से पहले जारी नोटिस में ED ने एल्विश को सोमवार (8 जुलाई, 2024) को पेश होने का आदेश दिया था। हालाँकि, तब विदेश में होने की बात कहते हुए एल्विश पेश नहीं हुए थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मई 2024 में ED ने एल्विश यादव पर मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। इस केस के बाद एल्विश यादव के बैंक खातों के साथ महँगी कारों और अन्य खर्चों की डिटेल जुटाई जा रही है। 23 जुलाई को ED के सवालों में इसको भी शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा एल्विश के कुछ अन्य साथियो पर भी ED की नजर है। इनमें नोएडा के रिजॉर्ट मालिक और होटल कारोबारी आदि शामिल हैं। माना जा रहा है कि जल्द ही इन सभी से सवाल-जवाब हो सकता है।

यह कार्रवाई ED की लखनऊ यूनिट कर रही है। इस से पहले प्रवर्तन निदेशालय ने एल्विश यादव को पूछताछ के लिए नोटिस जारी कर के 8 जुलाई को पेश होने के लिए कहा था। हालाँकि, तब एल्विश ने खुद को विदेश में बताया था। तब नोटिस का जवाब देते हुए एल्विश ने हाजिर होने के लिए कुछ दिनों का समय माँगा था। इस बीच में ED ने हरियाणा के गायक राहुल यादव से भी पूछताछ की है। माना जा रहा है कि ED दोबारा राहुल यादव उर्फ़ राहुल फाजिलपुरिया को पूछताछ के लिए बुला सकती है।

बताते चलें कि एल्विश पर रेव पार्टियों में साँपों का जहर सप्लाई करने का आरोप है। नोएडा पुलिस ने उन्हें 17 मार्च, 2024 को गिरफ्तार किया था। 5 दिन जेल में बिताने के बाद एल्विश 22 मार्च को जमानत पर रिहा हुए थे। इस दौरान उनकी माता और पिता उन्हें बेगुनाह बताते रहे। जाँच के बाद नोएडा पुलिस एल्विश के खिलाफ कोर्ट में 1200 पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में दाखिल कर चुकी है। चार्जशीट में एल्विश पर रेव पार्टी करना, ड्रग्स की सप्लाई करना और साँपों की तस्करी के आरोप लगाए गए है। फिलहाल मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -