Tuesday, June 18, 2024
Homeदेश-समाजIndia Ideas Summit: PM मोदी करेंगे सम्बोधित, जयशंकर कहा- भारत और अमेरिका में बड़े...

India Ideas Summit: PM मोदी करेंगे सम्बोधित, जयशंकर कहा- भारत और अमेरिका में बड़े एजेंडे तय करने की क्षमता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज इंडिया आइडियाज समिट में मुख्य भाषण देंगे। इस कार्यक्रम में महामारी के बाद विश्व में भारत-अमेरिका सहयोग और उनके संबंधों पर चर्चा होगी। वर्चुअल समिट की मेजबानी यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल द्वारा की जा रही है। इस साल काउंसिल के गठन की 45वीं वर्षगाँठ है।

इंडिया आइडियाज समिट (India Ideas Summit) में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भारत-अमेरिका संबंधों पर विस्तार से अपने विचार रखे। उन्होंने कहा, “हम (भारत-अमेरिका) दुनिया को आकार देने के लिए एक साथ मिलकर काम करने की क्षमता रखते हैं। भारत और अमेरिका में बड़े एजेंडे तय करने की क्षमता है।”

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जयशंकर ने कहा, “हम समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद विरोधी, कनेक्टिविटी, कोरोना वायरस, जलवायु परिवर्तन पर काम कर रहे हैं। मुझे लगता है कि इसका बड़ा हिस्सा यह है कि हम कैसे द्विपक्षीय एजेंडे को मजबूत करते हुए बड़े एजेंडे को आकार देते हैं।”

विदेश मंत्री ने आगे कहा, “मुझे लगता है, अमेरिका को वास्तव में अधिक बहुपक्षीय व्यवस्था के साथ अधिक बहुध्रुवीय दुनिया के साथ काम करना सीखना होगा। अमेरिका को उन गठबंधनों से परे जाना चाहिए जिनके साथ यह पिछली दो पीढ़ियों में आगे बढ़ा है।”

उन्होंने कहा, “दोनों देशों के बीच प्रतिभा के इर्द-गिर्द एक बंधन है, जो हमारी अर्थव्यवस्था, तकनीक और नवीनीकरण के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस वैश्विक ज्ञान की दुनिया में, हमें अधिक लचीला बनने की आवश्यकता है। अपने द्विपक्षीय एजेंडे को मजबूत करते हुए, हम एक बड़े एजेंडे को कैसे आकार देते हैं? अमेरिकी प्रशासन इस दिशा में आगे बढ़ रहा है और यह सोच रहा है कि भारत को और अधिक प्रभावी ढंग से कैसे जोड़ा जाए।”

वहीं, यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल की अध्यक्ष निशा बिस्वाल ने कहा कि कोरोना वायरस ने हमारी अंतरराष्ट्रीय संस्थानों को नुकसान पहुँचाया है लेकिन संकट से स्पष्टता आती है। अमेरिका-भारत साझेदारी के लिए यह एक अवसर का समय है, अपनी संपूर्ण क्षमता में वृद्धि करने का क्षण है। 

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने इंडिया आइडियाज समिट में कहा कि अमेरिका ने पीएम मोदी को अगले जी 7 शिखर सम्मेलन में आमंत्रित किया है, जहाँ हम अंतरराष्ट्रीय समृद्धि तंत्र को आगे बढ़ाएँगे। उन्होंने कहा, “हम दुनिया के सबसे पुराने और सबसे समृद्ध लोकतंत्र हैं और यह महत्वपूर्ण है कि हमारे जैसे लोकतंत्र एक साथ काम करें। भारत इंडो-पैसिफिक में अमेरिका का उभरता हुआ रक्षा साझेदार है।”

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज इंडिया आइडियाज समिट में मुख्य भाषण देंगे। इस कार्यक्रम में महामारी के बाद विश्व में भारत-अमेरिका सहयोग और उनके संबंधों पर चर्चा होगी। वर्चुअल समिट की मेजबानी यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल द्वारा की जा रही है। इस साल काउंसिल के गठन की 45वीं वर्षगाँठ है। इस साल समिट की थीम ‘बेहतर भविष्य का निर्माण’ है।’ प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में इसकी जानकारी दी गई। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दलितों का गाँव सूना, भगवा झंडा लगाने पर महिला का घर तोड़ा… पूर्व DGP ने दिखाया ममता बनर्जी के भतीजे के क्षेत्र का हाल,...

दलित महिला की दुकान को तोड़ दिया गया, क्योंकि उसके बेटे ने पंचायत चुनाव में भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ा था। पश्चिम बंगाल में भयावह हालात।

खालिस्तानी चरमपंथ के खतरे को किया नजरअंदाज, भारत-ऑस्ट्रेलिया संबंधों को बिगाड़ने की कोशिश, हिंदुस्तान से नफरत: मोदी सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार में जुटी ABC...

एबीसी न्यूज ने भारत पर एक और हमला किया और मोदी सरकार पर ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले खालिस्तानियों की हत्या की योजना बनाने का आरोप लगाया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -