Tuesday, August 16, 2022
Homeदेश-समाजयूपी में असम की तरह भयंकर बाढ़ लाने की साजिश, वसीम-जीशान सहित नहर काट...

यूपी में असम की तरह भयंकर बाढ़ लाने की साजिश, वसीम-जीशान सहित नहर काट रहे 6 पर केस: डूबने से बची सैकड़ों हेक्टेयर जमीन

खीरी के पसगंवा थाने में दी गई शिकायत में आगे बताया गया, "हमें देख कर आरोपित अपनी 2 बाइकें वहीं छोड़ कर भाग गए। बाइकों के नंबर UP31 A C2673 और DL 75 W 6802 हैं।"

उत्तर प्रदेश (UP) के लखीमपुर खीरी नहर की पटरी काटने की कोशिश करते पुलिस ने 6 आरोपितों पर केस दर्ज किया है। इन सभी के खिलाफ सिंचाई विभाग के जूनियर इंजीनियर ने पुलिस में शिकायत और सूचना दी है। आरोपितों के नाम रिकशान शाह, सिकंदर शाह, वसीम खां, सरदार अली, जीशान अली और मुद्दरिक अली हैं। इसमें से जीशान को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना 13 जुलाई 2022 (बुधवार) की है।

पुलिस को जूनियर इंजीनियर सत्येंद्र वर्मा द्वारा दी गई तहरीर के मुताबिक, “13 जुलाई को मैं अपनी टीम के साथ अपने क्षेत्र में नहर का निरीक्षण कर रहा था। इसी दौरान मैंने बनकागाँव के पटरी नंबर 96.588 पर रिकशान शाह, सिकंदर शाह, वसीम खां, सरदार अली, जीशान अली और मुद्दरिक अली को नहर की पटरी काटते हुए पाया। उसी समय मैंने डायल 112 से पुलिस को इस कृत्य के बारे में सूचित किया।”

शिकायत की कॉपी

खीरी के पसगंवा थाने में दी गई शिकायत में आगे बताया गया, “हमें देख कर आरोपित अपनी 2 बाइकें वहीं छोड़ कर भाग गए। बाइकों के नंबर UP31 A C2673 और DL 75 W 6802 हैं।” शिकायत में सत्येंद्र वर्मा ने सभी आरोपितों पर FIR दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की माँग की। पुलिस ने इस शिकायत के आधार पर IPC की धारा 427 के साथ सार्वजानिक सम्पत्ति नुकसान निवारण अधिनियम की धारा 2/3 के तहत सभी 6 आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

FIR कॉपी

मीडिया रिपोर्ट्स में सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता अखिलेश गौतम के हवाले से बताया गया कि घटना के समय जहाँ कटाई हो रही थी वहाँ नहर 2946 क्यूसेक डिस्चार्ज से बह रही थी। यदि पटरी कट जाती तो कम से कम 3 गाँवों की सैकड़ों हेक्टेयर जमीन पानी में डूब जाती। इस भूमि में खेती की जमीन, स्थानीय लोगों की आबादी और रेलवे लाइनें भी शामिल हैं।” अधिशासी अभियंता ने किसी और को भी ऐसा न करने की अपील की। उन्होंने ऐसा करने वाले सभी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

ऑपइंडिया से बात करते हुए शिकायतकर्ता जूनियर इंजीनियर सत्येंद्र कुमार ने कहा, “मैं मौके पर पहुँच गया वर्ना अगर पटरी कटती तो काफी नुकसान हो जाता। बाकी सभी आरोपित हमें देख कर भाग गए पर मौके से जीशान नाम के व्यक्ति को पकड़ लिया गया।” ऑपइंडिया ने अब तक की हुई गिरफ्तारी और अन्य कानूनी कार्रवाई की जानकारी के लिए SHO पसगवां को फोन किया तो उनका फोन लगातार नॉट रिचेबल आया। पुलिस से जानकारी मिलने के बाद उसको खबर में अपडेट किया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसके घर से पकड़े गए 4 आतंकी, बग्गा ने उसे बताया अरविंद केजरीवाल का करीबी: दिल्ली में 15 अगस्त को बड़े हमले की थी...

तजिंदर बग्गा ने कहा, "दिल्ली में 15 अगस्त को बम ब्लास्ट की साज़िश रचने वाले गिरफ़्तार आतंकवादी अरविंद केजरीवाल के करीबी विपिन के घर में छिपे हुए थे।"

कर्नाटक के शिवमोगा में लगे वीर सावरकर के पोस्टर तो काटा बवाल, प्रेम सिंह को चाकू घोंपा: धारा 144 लागू, अब्दुल, नदीम और जबीउल्लाह...

कर्नाटक में वीर सावरकर के पोस्टर पर हुए बवाल के बाद एक व्यक्ति को चाकू मारने की खबर आई है। पुलिस ने अब्दुल, नदीम, जबीउल्लाह को गिरफ्तार किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
214,182FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe