Wednesday, July 17, 2024
Homeदेश-समाज'कुत्ते गाड़ी साफ कर… साले घर से उठवा लूँगा': CM योगी को धमकी देने...

‘कुत्ते गाड़ी साफ कर… साले घर से उठवा लूँगा’: CM योगी को धमकी देने वाले सपा विधायक शहजिल इस्लाम पर ST-SC में मुकदमा दर्ज

अपने दलित ड्राइवर को पीटने के आरोपित सपा विधायक शहजिल इस्लाम का इतिहास विवादों से भरा रहा है। अप्रैल 2022 में शहजिल ने एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी दी थी। तब उन्होंने कहा था, "अगर उनकी जुबान खुली तो हमारी बंदूकों से गोलियाँ निकलेंगी।"

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में समाजवादी पार्टी के विधायक शहजिल इस्लाम पर अपने ड्राइवर को पीटने को लेकर FIR दर्ज हुई है। पीड़ित नाम धर्मेंद्र है, जो दलित (SC) समुदाय से ताल्लुक रखता है। पिटाई की वजह पीड़ित द्वारा विधायक की गाडी को ठीक से साफ़ नहीं करना बताया जा रहा है। इस दौरान विधायक ने पीड़ित को जातिसूचक शब्द बोले और जान से मार डालने की धमकी भी दी। शनिवार (28 अक्टूबर 2023) की इस घटना की पुलिस जाँच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भोजीपुरा विधानसभा से सपा विधायक शहजिल इस्लाम को ट्रेन से शुक्रवार (27 अक्टूबर 2023) की रात लखनऊ से बरेली आना था। पीड़ित ड्राइवर धर्मेंद्र और विधायक का गनर सलीम आधी रात को ही बरेली रेलवे जंक्शन पहुँच गए थे। ट्रेन लेट होने की वजह से वह अगले दिन शनिवार की सुबह पहुँचे। ट्रेन से उतरकर जैसे ही शहजिल इस्लाम अपनी कार के पास आए, वो ड्राइवर धर्मेंद्र पर भड़क गए।

बकौल धर्मेंद्र, विधायक ने उनसे कहा, “कुत्ते गाड़ी साफ कर। तुम धोबी कपड़े ही साफ़ करना जानते हो, गाड़ी नहीं चला पाते।” धर्मेंद्र ने सपा विधायक द्वारा खुद के खिलाफ बोले जा रहे शब्दों पर आपत्ति जताई। इस बात से भड़के शहजिल इस्लाम ने धर्मेंद्र को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद शहजिल इस्लाम ने कहा, “घर से उठवा लूँगा। साले जानता नहीं मुझे।”

इसके बाद सपा MLA शहजिल इस्लाम अपने गनर सलीम के साथ गाड़ी लेकर चले गए। उन्होंने पीड़ित धर्मेंद्र को बरेली स्टेशन पर ही छोड़ दिया। इस घटना के तुरंत बाद धर्मेंद्र ने 112 नंबर पर कॉल करके पुलिस बुलाई। मामला जंक्शन क्षेत्र का होने की वजह से धर्मेंद्र को GRP थाने भेज दिया गया। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

जीआरपी बरेली में धर्मेंद्र ने सपा विधायक के खिलाफ तहरीर दी। डिप्टी SP जीआरपी देवी दयाल सिंह ने विधायक शहजिल इस्लाम पर हुई कार्रवाई की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पीड़ित ने तहरीर में कहा है कि रात में गाड़ी स्टेशन के बाहर ओस की वजह से भीग गई थी। इसी बात पर शहजिल इस्लाम गाडी को गंदा बताने लगे। आरोपित विधायक पर IPC की धारा 323, 504 के साथ SC/ST एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

विवादित रहा है MLA शहजिल इस्लाम का इतिहास

गौरतलब है कि अपने दलित ड्राइवर को पीटने के आरोपित सपा विधायक शहजिल इस्लाम का इतिहास विवादों से भरा रहा है। अप्रैल 2022 में शहजिल ने एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी दी थी। तब उन्होंने कहा था, “अगर उनकी जुबान खुली तो हमारी बंदूकों से गोलियाँ निकलेंगी।” इस आपत्तिजनक बयानबाजी के बाद 7 अप्रैल 2022 को शहजिल इस्लाम के अवैध पेट्रोल पम्प पर प्रशासन ने बुलडोजर चलवा दिया था। हालाँकि इस कार्रवाई का नोटिस शहजिल को 2 साल पहले ही मिल गया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिकी राजनीति में नहीं थम रहा नस्लवाद और हिंदू घृणा: विवेक रामास्वामी और तुलसी गबार्ड के बाद अब ऊषा चिलुकुरी बनीं नई शिकार

अमेरिका में भारतीय मूल के हिंदू नेताओं को निशाना बनाया जाना कोई नई बात नहीं है। निक्की हेली, विवेक रामास्वामी, तुलसी गबार्ड जैसे मशहूर लोग हिंदूफोबिया झेल चुके हैं।

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -