Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाज'मुझे बिना खाना-पानी के तिरुपति की सीढ़ियाँ चढ़वाईं, तीन बार बेहोश हुई': गौतम सिंघानिया...

‘मुझे बिना खाना-पानी के तिरुपति की सीढ़ियाँ चढ़वाईं, तीन बार बेहोश हुई’: गौतम सिंघानिया पर पत्नी नवाज मोदी ने लगाया हिंसा के बाद नया आरोप

इस समय हाईप्रोफाइल जोड़े के बीच विवाद चल रहा है, जिसमें यह नए आरोप सामने आए हैं। इससे पहले नवाज मोदी ने सिंघानिया पर हिंसा के आरोप लगाए थे।

भारत के बड़े कारोबारी और रेमंड ब्रांड के मालिक गौतम सिंघानिया की पत्नी नवाज मोदी ने आरोप लगाया है कि गौतम ने उन्हें बिना खाना-पानी के आंध्र प्रदेश के तिरुपति मंदिर लेकर गए और सीढ़ियाँ चढ़ाया। नवाज मोदी ने आरोप लगाया है कि इस दौरान वो 2-3 बार बेहोश हुईं।

दरअसल, इस समय हाईप्रोफाइल जोड़े के बीच विवाद चल रहा है, जिसमें यह नए आरोप सामने आए हैं। इससे पहले नवाज मोदी ने सिंघानिया पर हिंसा के आरोप लगाए थे, एक अन्य वीडियो वायरल हुई थी जिसमें वह उनके घर के बाहर खड़ी थी।

अब एक ऑडियो सामने आया है जिसमें नवाज सिंघानिया पर नए आरोप लगा रही हैं। नवाज का कहना है कि शादी से पहले सिंघानिया उन्हें आंध्र प्रदेश स्थित तिरुपति मंदिर ले गए और उसकी सीढ़ियाँ बिना कुछ खाए पिए चढ़वाया। वह बेहोश भी हुईं लेकिन सिंघानिया पर कोई फर्क नहीं पड़ा और वह उन्हें मंदिर तक लेकर पहुँचे।

नवाज का कहना है गौतम सिंघानिया ने तिरुपति में यह मन्नत माँगी थी यदि नवाज उनसे शादी के लिए राजी हो जाती है तो वह उन्हें तिरुपति पैदल लेकर आएँगे। बता दें कि गौतम सिंघानिया तिरुपति में असीम विश्वास रखने वाले माने जाते हैं। इंडिया टुडे के अनुसार, उन्होंने मुंबई में तिरुपति मंदिर के लिए ₹100 करोड़ भी दिए थे।

नवाज मोदी का आरोप है कि सिंघानिया तिरुपति के भगवान् वेंकटेश्वरा के इसलिए भक्त हैं क्योंकि वह धन के भगवान हैं। इससे पहले नवाज मोदी ने गौतम सिंघानिया पर उन्हें और उनकी बेटी को 15 मिनट तक पीटने का आरोप लगाया था।

हाल में एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें दीपावली के दिन सिंघानिया ने अपनी पत्नी नवाज मोदी को घर के अंदर नहीं घुसने दिया था। इंडिया टुडे से बातचीत में नवाज ने उस घटनाक्रम के बारे में बताया था कि गौतम सिंघानिया ने उनकी और बेटी की पिटाई की थी। नवाज के अनुसार यह घटना 10 सितंबर, 2023 की थी। गौतम के जन्‍मदिन की पार्टी चल रही थी और सुबह के 5 बज चुके थे।

उन्होंने कहा था, “मैं और मेरी दोनों बेटियाँ भी कुछ दोस्‍तों के साथ मौजूद थीं। उसने अचानक से हमला कर दिया और वहाँ से गायब हो गया। मैं केवल कल्‍पना कर सकती थीं कि वह बंदूकें या कोई हथियार लेने गया है।” नवाज ने बताया था कि वह अपनी बेटी को खींचकर दूसरे कमरे में ले गईं और फिर उसकी पीठ को सहारा देने के लिए तौलिया लेने चली गईं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नवाज ने पुलिस को कॉल किया। आरोप है कि गौतम सिंघानिया ने पुलिस को घर में आने से रोक दिया। वह अपनी बीवी को धमकियाँ देते हुए पुलिस को अपनी जेब में रखने की बात बता रहे थे। नवाज के अनुसार इस मामले में अंबानी परिवार ने उनकी मदद की थी। नीता और अनंत ने उनलोगों की जान बचाई। पुलिस कार्रवाई में भी मदद की।

बताते चलें कि नवाज मोदी ने तलाक के बदले अपने पति गौतम सिंघानिया की सम्पत्ति में 75% हिस्सेदारी की माँग की है। दोनों पति-पत्नी के तौर पर 32 वर्षों तक एक साथ रहे।

कुछ वर्षों पहले ही गौतम सिंघानिया का उनके पिता विजयपत सिंघानिया के साथ विवाद सामने आया था। 2015 में उन्होंने कंपनी समूह का स्वामित्व अपने बेटे गौतम को सौंप दिया, लेकिन 36 मंजिला JK टॉवर में रहने के लिए उन्हें एक अदद घर तक नहीं मिला।

गौतम सिंघानिया ने इंस्टाग्राम के जरिए नवाज़ मोदी से अलग होने का ऐलान करते हुए कहा था कि अपनी बेटियों निहारिका और निशा के लिए वो दोनों जो भी सर्वश्रेष्ठ रहेगा वो करते रहेंगे। उन्होंने इसे व्यक्तिगत निर्णय बताते हुए लोगों से इसका सम्मान करने की अपील की थी और कहा था कि ऐसे समय में वो लोगों की शुभकामनाएँ चाहेंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -