Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजहरिद्वार में बीच बाजार सामूहिक रूप से पढ़ी नमाज, 8 गिरफ्तार: काँवड़ यात्रा के...

हरिद्वार में बीच बाजार सामूहिक रूप से पढ़ी नमाज, 8 गिरफ्तार: काँवड़ यात्रा के कारण प्रशासन है अलर्ट

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान मोहम्मद निजाम, नसीम, मुरसलीन, अशरफ, अशरफ असगर, मुस्तफा, सज्जाद अहमद और इकराम के तौर पर हुई है।

उत्तराखंड के हरिद्वार में बीच बाजार सामूहिक रूप से नमाज पढ़ने का मामला सामने आया है। इस मामले में आठ की गिरफ्तारी हुई है। सार्वजनिक स्थल पर नमाज पढ़े जाने का यह मामला तब सामने आया है, जब काँवड़ यात्रा चल रही है।

रिपोर्टों के अनुसार हरिद्वार के रानीपुर क्षेत्र के शिवालिक नगर में साप्ताहिक बाजार लगती है। यहीं गुरुवार (21 जुलाई 2022) को रात के वक्त सामूहिक रूप से नमाज पढ़ी गई। गिरफ्तार सभी आरोपित दुकानदार हैं।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान मोहम्मद निजाम, नसीम, मुरसलीन, अशरफ, अशरफ असगर, मुस्तफा, सज्जाद अहमद और इकराम के तौर पर हुई है। पुलिस ने इन सभी का चालान शांतिभंग की धाराओं में किया है।

सामूहिक नमाज का वीडियो भी वायरल है। स्थानीय लोगों ने इस घटना पर नाराजगी जताई है। आरोपित निसार की उम्र 22 साल, नसीम की उम्र 52 साल, सज्जाद अहमद की उम्र 50 साल, मुरसलीन की उम्र 38 वर्ष, अशरफ की उम्र 45 साल, अशरफ असगर की उम्र 37 साल, मुस्तफा की उम्र 35 वर्ष है। ये सभी हरिद्वार के ज्वालापुर के रहने वाले हैंए जबकि 47 साल का इकराम हरिद्वार के ही बहादराबाद कोतवाली क्षेत्र का निवासी बताया जा रहा है। पुलिस ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया है कि सार्वजनिक स्थल पर नमाज पढ़ने के चलते आम लोगों के आने-जाने का रास्ता अवरुद्ध हो गया था।

एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक सभी आरोपित पीठ पर सामान लाद कर बाजार में बेच रहे थे। थोड़ी देर बाद एक एकजुट होकर नमाज़ पढ़ने लगे। इंस्पेक्टर कोतवाली रानीपुर अमर चंद शर्मा के अनुसार सभी आरोपितों ने सार्वजानिक स्थल पर बिना अनुमति के नमाज़ पढ़ी है, जिसके चलते उन्हें धारा 151 CRPC में चालान कर न्यायालय में पेश किया गया।

वर्तमान समय में हरिद्वार में काँवड़ यात्रा चल रही है। ऐसे में पुलिस सुरक्षा और लॉ एन्ड आर्डर के नजरिए से अतिरिक्त एहतियात बरत रही है। ख़ुफ़िया एजेंसियों ने यात्रा पर आतंकी हमले की आशंका भी जताई है। गौरतलब है कि इससे पहले लखनऊ के नवनिर्मित लुलु मॉल में भी बिना अनुमति नमाज़ पढ़ी गई थी। इस केस में लखनऊ पुलिस ने 4 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। सभी आरोपितों का मदरसा कनेक्शन भी सामने आया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -